सामग्री और उपयोग
Stylecraze

नारियल पानी के 34 फायदे, उपयोग और नुकसान – Coconut Water (Nariyal Pani) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

by
नारियल पानी के 34 फायदे, उपयोग और नुकसान – Coconut Water (Nariyal Pani) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 June 7, 2019

अगर आप गर्मी के मौसम में ठंडक व ताजगी चाहते हैं, तो नारियल पानी से बेहतर कुछ नहीं है। नारियल पानी पीने से न सिर्फ गर्मी दूर भागती है, बल्कि यह सेहत के लिए भी अच्छा है। यह एकमात्र ऐसा फल है, जिससे प्राकृतिक रूप से शुद्ध मीठा पानी मिलता है। इस पानी में किसी भी तरह का केमिकल नहीं होता, इसलिए स्वास्थ्य के लिहाज से यह उत्तम है। नारियल पानी न सिर्फ गर्मी का रामबाण इलाज है, बल्कि यह कई शारीरिक समस्याओं को दूर करने में सक्षम है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम नारियल पानी के फायदे व उसकी तमाम खूबियों के बारे में चर्चा करेंगे। साथ ही नारियल पानी के नुकसान भी बताएंगे।

विषय सूची


नारियल पानी के फायदे – Benefits of Coconut Water in Hindi

नारियल में औसतन 200 से 250 मिलीलीटर पानी होता है। नारियल पानी में विटामिन्स, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम व फाइबर जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं (1)। इसके अलावा, कोकोनट वॉटर को एंटीऑक्सीडेंट का प्रमुख स्रोत भी माना गया है (2)। इस लिहाज से यह सेहत, त्वचा व बालों के लिए लाभकारी है, जिसके बारे में इस लेख में विस्तार से बता रहे हैं।

नारियल पानी के फायदे में सबसे पहले हम बता रहे हैं कि यह सेहत के लिए किस प्रकार गुणकारी है।

सेहत के लिए नारियल पानी के फायदे – Health Benefits of Coconut Water in Hindi

1. ह्रदय के लिए

For heart Pinit

Shutterstock

अगर आपका ह्रदय स्वस्थ रहता है, तो आप आनंदमय जीवन जी सकते हैं। इसके लिए आपको नियमित व्यायाम करने के साथ-साथ हमेशा खुश रहना और संतुलित व पौष्टिक भोजन करना जरूरी है। अगर आप प्रतिदिन कोकोनट वॉटर पीते हैं, तो यह ह्रदय के लिए लाभकारी है।

विभिन्न वैज्ञानिक शोधों में पाया गया है कि नारियल पानी के सेवन से शरीर में लिपिड मेटाबॉलिज्म का स्तर नियंत्रित रहता है। इससे ह्रदयाघात की आशंका काफी हद तक कम हो जाती है। साथ ही रक्तचाप भी सामान्य रहता है (3)। आप ह्रदय स्वास्थ्य के लिए दिन में एक बार ताजा नारियल पानी पी सकते हैं। नारियल पानी पीने के फायदे की सूची में आप बेहतर ह्रदय स्वास्थ्य को जोड़ सकते हैं।

सावधानी : बेशक नारियल पानी में कैलोरी की मात्रा कम होती है, लेकिन एक नारियल में करीब पांच ग्राम शुगर होती है (1)। इसलिए, ह्रदय रोगियों को इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

2. रक्तचाप

नारियल पानी की खूबियों में एक रक्तचाप को नियंत्रित करना भी है। यह उच्च रक्तचाप पर सटीक रूप से काम करता है। कई वैज्ञानिक रिसर्च में साबित किया गया है कि नारियल पानी उच्च रक्तचाप को कम कर सकता है। साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है और धमिनयों में रक्त के थक्कों को बनने नहीं देता।

कोकोनट वॉटर में एंटीथ्रोम्बोटिक गुण होते हैं, जो रक्त के थक्के बनने नहीं देते (4)। साथ ही कोलेस्ट्रॉल को भी कम करते हैं, जिससे रक्तचाप नियंत्रित रहता है। रक्तचाप की समस्या में आप दिनभर में एक गिलास ताजा नारियल पानी पी सकते हैं (5)।

3. किडनी की पथरी

Kidney stones Pinit

Shutterstock

कुछ लोगों में किडनी में पथरी की समस्या हो जाती है। जब किडनी में क्रिस्टल जैसे पदार्थ इकट्ठा हो जाते हैं, तो वो पथरी का रूप ले लेते हैं। पथरी के कारण मरीज को तेज दर्द का सामना करना पड़ता है और स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है। इस समस्या को भी नारियल पानी के जरिए दूर किया जा सकता है।

वैज्ञानिकों ने रिसर्च में साबित किया है कि नारियल पानी मूत्रवर्धक के रूप में काम करता है। साथ ही इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं। इसे पीने से किडनी में जमा हो चुके क्रिस्टल कम होने लगते हैं और यूरिन के रास्ते धीरे-धीरे बाहर निकल जाते हैं। इससे पथरी की समस्या से राहत मिल सकती है (6)।

4. पाचन तंत्र

पाचन तंत्र के खराब होते ही गैस, एसिडिटी व कब्ज जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन दिक्कतों को फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों से दूर किया जा सकता है और नारियल पानी फाइबर का अच्छा स्रोत है। इसलिए, यह पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में आपकी मदद कर सकता है।

आंकड़ों को बात करें, तो एक नारियल पानी में करीब नौ प्रतिशत फाइबर होता है (7)। इसलिए, अगर आप प्रतिदिन एक गिलास नारियल पानी पीते हैं, तो आपको पर्याप्त फाइबर मिल सकता है। इस प्रकार नारियल पानी पीने के फायदे की सूची में बेहतर पाचन तंत्र भी शामिल है।

5. वजन कम करने में सहायक

आयु व कद के अनुसार वजन का संतुलित रहना जरूरी है। इससे आप स्वस्थ्य जीवन जी सकते हैं। अगर आपका वजन अधिक है और उसे कम करने के बारे में सोच रहे हैं, तो नारियल पानी बेहतरीन विकल्प हो सकता है। इसमें वजन को कम करने के गुण भी हैं। सबसे अहम कारण तो यह है कि इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है, जो वजन घटाने के लिए जरूरी है। साथ ही इसे पीने से पेट भरा हुआ लगता है, जबकि अन्य ड्रिंक्स के साथ ऐसा नहीं है।

जैसा कि आप जानते हैं कि कोकोनट वॉटर डाइटरी फाइबर का प्रमुख स्रोत है (7)। फाइबर शरीर में धीरे-धीरे हजम होता है, जिस कारण आपको जल्द भूख नहीं लगती और कम खाते हैं। इसलिए, आप वजन कम करने के लिए नारियल पानी पीने के बारे में सोच सकते हैं।

6. मांसपेशियों में खिंचाव

शरीर में पोषक तत्वों की कमी या अन्य कारण से मांसपेशियाें में खिंचाव की समस्या का सामना करना पड़ता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि इसमें भी नारियल पानी आपकी मदद कर सकता है। एक अध्ययन के अनुसार, अमूमन शरीर में पोटैशियम की कमी होने पर मांसपेशियों में ऐंठन आती है। इसलिए, जब आप पोटैशियम युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं, तो मांसपेशियां सही प्रकार से काम करती हैं (8)।

इसके अलावा, जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज करने से भी मांसपेशियों में खिंचाव हो सकता है। इसे इलेक्ट्रोलाइट्स का सेवन कर ठीक किया जा सकता है (9)। साथ ही नारियल पानी पीना भी कारगर उपाय हो सकता है। एक तो इसमें पोटैशियम भरपूर मात्रा में होता है और दूसरा एक्सरसाइज के बाद एनर्जी ड्रिंक की जगह इसे पीना ज्यादा बेहतर व सुरक्षित है (10)।

7. डिहाइड्रेशन

जब शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है, तो निर्जलीकरण यानी डिहाइड्रेशन का सामना करना पड़ता है। ऐसा अमूमन गर्मियों में या फिर दिनभर पर्याप्त मात्रा में पानी न पीने के कारण होता है। ऐसे में नारियल पानी का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। इससे शरीर पूरी तरह से हाइड्रेट रहता है। यही कारण है कि खिलाड़ी व्यायाम या फिर अभ्यास के बाद नारियल पानी जरूर पीते हैं (10)।

ध्यान रहे कि जब आप डिहाइड्रेशन का शिकार होते हैं, तो शरीर में सिर्फ पानी की कमी नहीं होती, बल्कि जरूरी पोषक तत्व व नमक की मात्रा भी घट जाती है। वहीं, कोकोनट वॉटर में सभी जरूरी पोषक तत्व व प्राकृतिक मीठा पानी होता है। इसे पीने से शरीर हाइड्रेट रहता है (11)। नारियल पानी पीने के फायदे की लिस्ट में शरीर को हाइड्रेट रखना भी शामिल है।

8. मजबूत हड्डियां

मजबूत हड्डियों के लिए कैल्शियम की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। खासकर, महिलाओं को कैल्शियम की कमी का सबसे ज्यादा सामना करना पड़ता है। इसलिए, हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए कैल्शियम के साथ-साथ अन्य पोषक तत्वों की भी जरूरत होती है।

इस विषय पर हुए विभिन्न शोधों में पाया गया है कि नारियल पानी हड्डियों के लिए लाभकारी है। वैज्ञानिकों का मानना है कि नारियल पानी में पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम होता है। साथ ही इसमें मैग्नीशियम भी होता है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। रजनोवृत्ति के दौरान भी नारियल पानी पीने से हड्डियां सुरक्षित रहती हैं (12)।

9. डायबिटीज

Diabetes Pinit

Shutterstock

इसमें कोई शक नहीं कि मधुमेह से पीड़ित मरीजों को मीठे से परहेज करने के लिए कहा जाता है। मधुमेह से ग्रस्त मरीज में रक्त के थक्के बनने की आशंका कई गुना होती है। यह अवस्था उनके लिए जानलेवा साबित हो सकती है (13)। इसके बावजूद, मधुमेह से ग्रस्त मरीज नारियल पानी पी सकते है।

कुछ वैज्ञानिक अध्ययनों के जरिए यह बात सामने आई है कि पूरी तरह से पके हुए नारियल के पानी में एंटीडायबिटिक गुण होते हैं (14)। नारियल पानी न सिर्फ रक्त में शर्करा की मात्रा को कम करता है, बल्कि रक्त के थक्के बनने की आशंका भी कई गुना कम हो जाती है।

सावधानी : आप नारियल पानी पी सकते हैं, लेकिन साथ-साथ में डायबिटीज को चेक करते रहना भी जरूरी है।

10. शरीर को करे डिटॉक्सीफाई

शरीर के सुचारू रूप से काम करने के लिए डिटॉक्सीफिकेशन प्रक्रिया का संतुलित रहना जरूरी है। डिटॉक्सीफिकेशन के जरिए शरीर के विभिन्न अंगों में जमा विषैले जीवाणु बाहर निकल जाते हैं। साथ ही फ्री रेडिकल्स से भी छुटकारा मिलता है और हम अंदर से स्वस्थ महसूस करते हैं।

क्या आप जानते हैं कि डिहाइड्रेशन की वजह से डिटॉक्सीफिकेशन प्रक्रिया भी गड़बड़ हो सकती है। डिहाइड्रेशन के चलते किडनी व लिवर सही प्रकार से काम नहीं कर पाते और विषैले जीवाणु अंदरुनी अंगों में जमा होने लगते हैं। इसका एकमात्र इलाज हर समय हाइड्रेट रहना है और इस काम को नारियल पानी बखूबी कर सकता है।

जब शरीर के अंदरुनी अंगों को पर्याप्त मात्रा में पौषक तत्व मिलते हैं, तो वो पूरी क्षमता के साथ काम करते हैं। इससे वो शरीर के अंदर टॉक्सिन को जमा होने नहीं देते। इसलिए, आप नियमित रूप से नारियल पानी का सेवन कर सकते हैं।

कोकोनट वॉटर के फायदे जानने के लिए पढ़ते रहें यह आर्टिकल।

11. तुरंत शारीरिक ऊर्जा के लिए

अगर आप तुरंत ऊर्जा पाने के लिए अभी तक एनर्जी ड्रिंक पर भरोसा कर रहे थे, तो अब अपनी आदत को बदल डालें। आप इसकी जगह नारियल पानी पी सकते हैं।

वैज्ञानिक प्रमाण के अनुसार, एक गिलास नारियल पानी में करीब पांच एमजी प्राकृतिक शुगर होती है (15)। ऊर्जा व शारीरिक क्षमता को बढ़ाने के लिए इतनी शुगर की मात्रा पर्याप्त है। अब जब आपको सस्ते नारियल पानी से इतना फायदा हो रहा है, तो महंगी एनर्जी ड्रिंक पीने की क्या जरूरत है। साथ ही एक गिलास नारियल पानी में 294 एमजी पोटैशियम भी होता है, जो कोशिकाओं में ऊर्जा का निर्माण करने के लिए जरूरी है।

12. बेहतर इम्यून सिस्टम

पाचन तंत्र व उच्च रक्तचाप को बेहतर करने के साथ-साथ नारियल पानी आपके इम्यून सिस्टम या रोग-प्रतिरोधक क्षमता को भी बेहतर करता है। प्रति 100 ग्राम नारियल पानी में करीब 2.4 एमजी विटामिन-सी होता है। विटामिन-सी शरीर में एंटीबॉडी का निर्माण करता है, जो विभिन्न बीमारियों से लड़ने में प्रतिरोधक प्रणाली की मदद करता है। साथ ही शरीर से टॉक्सिन व जीवाणुओं को बाहर निकालने में मदद करता है। इससे आप अंदर से तंदुरुस्त महसूस करते हैं। नारियल पानी कोल्ड वायरस से लड़ने में सक्षम है (1) (16)। इस प्रकार हमने बेहतर इम्यून सिस्टम को भी नारियल पानी पीने के फायदे की लिस्ट में शामिल किया है।

13. सिरदर्द

Headache Pinit

Shutterstock

गर्मियों में अक्सर कई लोगों को सिरदर्द की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसका सबसे बड़ा कारण डिहाइड्रेशन है। शरीर में पानी की कमी को पूरा करने का सबसे अच्छा प्राकृतिक उपाय नारियल पानी पीना है। इसे पीते ही शरीर हाइड्रेट हो जाता है।

वहीं, माइग्रेन से पीड़ित मरीजों में मैग्नीशियम की मात्रा कम होती है, जबकि नारियल पानी मैग्नीशियम का प्रमुख स्रोत है। इसलिए, नारियल पानी पीने से माइग्रेन की समस्या से कुछ हद तक राहत मिल सकती है (17)।

14. संतुलित पीएच स्तर

हमारे आसपास के वातावरण और विभिन्न खाद्य पदार्थों में तरह-तरह के विषैले जीवाणु और रासायनिक यौगिक मौजूद होते हैं। ये सभी मिलकर शरीर में पीएच स्तर को एसिडिक बना देते हैं। इस कारण आपको जोड़ों में दर्द, सीने में जलन, मोटापा, डायबिटीज व प्रतिरोधक प्रणाली का कमजोर होना जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

वहीं, नारियल पानी में प्राकृतिक क्षारीय गुण होता है, जो शरीर में पीएच के स्तर को संतुलित कर सकता है। इसलिए, अब जब कभी भी आपको सीने में जलन व एसिडिटी आदि समस्या हो, तो तुरंत नारियल पानी पिएं।

15. अल्जाइमर

आपको जानकर हैरानी हो सकती है, लेकिन वैज्ञानिक तौर पर इस बात की पुष्टि की गई है कि अल्जाइमर जैसे रोग का इलाज भी नारियल पानी के जरिए किया जा सकता है। अल्जाइमर मस्तिष्क से जुड़ी बीमारी है, जिसमें रोगी की याददाश्त धीरे-धीरे खत्म होने लगती है।

एक अध्ययन में साबित हुए है कि नारियल पानी में ट्रांस-जेटिन पाया जाता है, जो एक प्रकार का साइटोकिनिन (एक प्रकार का हार्मोन, जो कोशिकाओं के विभाजन को बढ़ावा देता है) होता है। ट्रांस-जेटिन मस्तिष्क की कोशिकाओं को क्षति होने से बचाता है। साथ ही याददाश्त को बेहतर करने में मदद करता है (18)।

16. आंखों के लिए

For the eyes Pinit

Shutterstock

अगर आप चाहते हैं कि आपकी आंखों की रोशन बेहतर रहे, तो नारियल पानी जरूर पिएं। बेहतर आंखों व मस्तिष्क के लिए विटामिन-बी1 जरूरी है। विटामिन-बी1 से आंखों की मांसपेशियां बेहतर होती हैं और नाइट विजन भी बेहतर होता है। प्रत्येक एक कप नारियल पानी में 0.7 एमजी थियामिन (विटामिन-बी1) होता है। इस प्रकार अगर आप प्रतिदिन दो कप नारियल पानी का सेवन करते हैं, तो आपकी आंखों की रोशन बेहतर हो सकती है (19)।

17. तनाव से राहत

ऑफिस के काम से लेकर घर की उलझनों तक, हमारे चारों तरफ ढेरों समस्याएं हैं, जिस कारण हम तनाव भरी जिंदगी जी रहे हैं। इससे निपटने में भी नारियल पानी आपकी मदद कर सकता है। अगर आप रोज एक गिलास नारियल पानी पीते हैं, तो आप खुद को तरोताजा महसूस करेंगे और तनाव का स्तर भी कुछ हद तक कम हो सकता है।

नारियल पानी में विटामिन-बी5, बी6 और फोलेट जैसे जरूरी तत्व होते हैं, जो तनाव के स्तर को कम करने में मदद करते हैं (20)। हम सभी के शरीर में सेरोटोनिन नामक हार्मोन का निर्माण होता है, जिससे हमारा मूड अच्छा और हम अंदर से प्रसन्न महसूस करते हैं। नारियल पानी में मौजूद फोलेट (विटामिन-बी9) इसी हार्मोन के निर्माण में मदद करता है (21)।

18. याददाश्त में सुधार

आपको पढ़कर अजीब लगे, लेकिन यह सच्चाई है कि नारियल पानी आपके बच्चों में कुछ नया सीखने की क्षमता को बेहतर कर सकता है। कई वैज्ञानिक अध्ययनों में साबित हुआ है कि नारियल पानी में ग्लूटामिक एसिड होता है। यह एसिड आपके दिमागी विकास में मदद करता है। साथ ही याददाश्त को भी बेहतर करता है। इसलिए, अगर आप तेज दिमाग चाहते हैं, तो प्रतिदिन एक गिलास नारियल पानी पी सकते हैं (22) (23)।

19. कब्ज करे ठीक

Ok constipation Pinit

Shutterstock

कब्ज के कारण गैस, एसिडिटी व अन्य समस्याएं घेर लेती हैं। इसलिए, सबसे पहले कब्ज को ठीक करना जरूरी है और इसमें नारियल पानी आपकी मदद कर सकता है (24)। नारियल पानी प्राकृतिक रूप से लैक्सटिव (पेट को साफ करने की दवा) का काम करता है। इसमें डाइटरी फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है, जिससे पेट आसानी से साफ हो जाता है। साथ ही यह मल त्यागने की प्रक्रिया को भी ठीक करता है, जिससे आपका पेट हमेशा सही रहता है। इसके लिए आपको प्रतिदिन सीमित मात्रा में नारियल पानी पीना होगा। ध्यान रहे कि जरूरत से ज्यादा नारियल पानी पीने से दस्त भी लग सकते हैं। इसलिए, पहले अपने डॉक्टर से पूछ लें कि कब्ज होने पर दिनभर में कितने गिलास नारियल पानी पी सकते हैं।

20. एसिड रिफ्लक्स, जीईआरडी और गैस्ट्राइटिस का इलाज

एसिडिटी व पेट से जुड़ी अन्य बीमारियों के लिए भी नारियल पानी फायदेमंद साबित हो सकता है। जैसा कि इस आर्टिकल में पहले भी बताया गया है कि नारियल पानी में पोटैशियम व इलेक्ट्रोलाइट्स अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। इसलिए, यह एसिड रिफ्लक्स, जीईआरडी व गैस्ट्राइटिस जैसी समस्याओं को ठीक कर सकता है। यह पेट में बनने वाले जरूरत से ज्यादा एसिड को बाहर निकालकर पेट को नर्म करता है। इसके लिए आपको रोज सुबह व शाम एक-एक गिलास नारियल पानी पीना चाहिए।

इस आर्टिकल में आगे कुछ और कोकोनट वॉटर के फायदे बताए गए हैं।

21. हाइपोथायराइडिज्म

जब गले में मौजूद थायराइड ग्रंथि पर्याप्त हार्मोंस का निर्माण नहीं करती है, तो उस स्थिति को हाइपोथायराइडिज्म कहा जाता है। इस अवस्था को भी नारियल पानी के जरिए ठीक किया जा सकता है।

नारियल पानी को प्राकृतिक मूत्रवर्धक माना जाता है, जिस कारण से यह थायराइड ग्रंथि के अच्छी तरह से काम करने में मदद कर सकता है। नारियल पानी में स्वस्थ्य वसा की मात्रा ज्यादा होती है, इसलिए यह मेटाबॉलिज्म रेट को बेहतर करके, वजन कम करने में मदद कर सकता है। इसमें ग्लूकोज, एमिनो एसिड व इलेक्ट्रोलाइट जैसे गुण भी होते हैं, जिस कारण से यह शरीर में ऊर्जा का स्तर बेहतर कर सकता है। साथ ही आंतों की कार्यप्रणाली को बेहतर कर सकता है। यही कारण है कि हाइपोथायराइडिज्म में सुधार होता है।

आगे हम बता रहे हैं कि नारियल पानी की मदद से त्वचा को किस प्रकार ठीक रखा जा सकता है।

त्वचा के लिए नारियल पानी के फायदे – Skin Benefits of Coconut Water in Hindi

22. मॉइस्चराइजिंग स्किन

Moisturizing Skin Pinit

Shutterstock

शरीर के साथ-साथ त्वचा को भी हाइड्रेशन की जरूरत होती है। इसके बिना स्किन रूखी और बेजान नजर आती है। साथ ही सूरज की किरणों, प्रदूषण और केमिकल युक्त साबुन के उपयोग से भी त्वचा ड्राई हो जाती है। ऐसे में अगर त्वचा पर नारियल का पानी लगाया जाए, तो यह स्किन के लिए मॉइस्चराइजर का काम करता है (25)। नारियल पानी में चिपचिपापन नहीं होता है, जिस कारण इसे लगाने के बाद आपको अच्छा महसूस हो सकता है। यहां हम नारियल पानी से बनने वाले फेस पैक के बारे में बता रहे हैं :

सामग्री :
  • दो चम्मच नारियल पानी
  • आधा चम्मच नींबू जूस
  • एक चम्मच शहद (वैकल्पिक)
बनाने का तरीका :
  • एक बर्तन में नारियल पानी और नींबू जूस को डालकर मिक्स कर दें। अगर आपकी त्वचा ड्राई है, तो इस मिश्रण में शहद मिला लें।
  • अब कॉटन बॉल को इस मिश्रण में डालकर प्रभावित जगह पर लगाएं।
  • इसके बाद थोड़ी देर हल्के-हल्के हाथों से सर्कुलेशन मोशन में मालिश करें।
  • फिर करीब 30 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • आप यह फेस मास्क हर दूसरे दिन लगा सकते हैं।

सावधानी : नींबू जूस से आपकी त्वचा ड्राई हो सकती है। इसलिए, फेस पैक में नींबू जस का इस्तेमाल अपनी त्वचा के अनुसार करें। सामान्य व ड्राई स्किन वालों को नींबू जूस का इस्तेमाल कम मात्रा में करना चाहिए। इसकी जगह शहद को मिक्स करें, ताकि त्वचा को पर्याप्त मॉइस्चर मिल सके।

23. त्वचा संक्रमण का इलाज

बैक्टीरिया या फंगस के कारण किसी को भी स्किन इंफेक्शन हो सकता है। इससे आपको त्वचा पर रैशेज व खुजली शुरू हो सकती है। इस समस्या को भी नारियल पानी का प्रयोग कर ठीक किया जा सकता है। नारियल पानी में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल व एंटीपैरासिटिक गुण होते हैं। ये सभी गुण त्वचा संबंधी संक्रमण को ठीक करने में सक्षम हैं (26)।

कैसे प्रयोग करें :

प्रभावित जगह पर नारियल पानी लगाने से त्वचा के संक्रमण का इलाज किया जा सकता है।

24. एंटी-एजिंग प्रभाव

Anti-Aging Effect Pinit

Shutterstock

त्वचा पर झुर्रियां व फाइन लाइन आने पर आप समय से पहले बुढ़े नजर आने लगते हैं। वहीं, अगर आप अपने चेहरे का सही से उपचार करें, तो आप बढ़ती उम्र के असर को कम कर सकते हो। इस काम के लिए भी आप नारियल पानी पर भरोसा कर सकते हैं।

नारियल पानी में साइटोकिन्स गुण होते हैं, जो सेल्स के बढ़ने में मदद कर सकते हैं। इससे आपके चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियां कम होने लगती हैं। साथ ही ये त्वचा को होने वाले नुकसान से बचा सकते हैं। आप नारियल पानी को योगर्ट के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं। योगर्ट में लेक्टिक एसिड होता है, जो प्राकृतिक एक्सफोलिएटर की तरह काम करता है (27) (28)। यह त्वचा में मौजूद डेड सेल्स को हटाकर मॉइस्चराइज प्रदान करता है। झुर्रियों से निपटने के लिए हम यहां नारियल पानी की मदद से बनने वाले फेस मास्क के बारे में बता रहे हैं :

सामग्री :
  • एक चम्मच नारियल पानी
  • दो चम्मच साधारण योगर्ट
बनाने का तरीका :
  • एक कटोरे में नारियल पानी और योगर्ट को डालकर अच्छी तरह मिक्स कर लें।
  • फिर साफ मेकअप ब्रश की मदद से इस पैक को अपने चेहरे पर लगाएं।
  • करीब 15 मिनट ऐसे ही रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • इस फेस पैक को हफ्ते में एक या दो बार लगाया जा सकता है।

25. कील-मुंहासों से छुटकारा

कील-मुंहासों के कारण किसी के भी चेहरे की सुंदरता व चमक खोने लगती है। इसलिए, कोई भी नहीं चाहता कि उसके चेहरे पर कील-मुंहासे या उसके निशान नजर आएं। इसके लिए आप नारियल पानी का प्रयोग करें। इस ठंडे और ताजे पानी की मदद से इस समस्या को भी दूर किया जा सकता है।

जब त्वचा के फॉलिकल्स ऑयल के कारण बंद हो जाते हैं, तो चेहरे पर कील-मुंहासे निकलने लगते हैं। साथ ही उस जगह बैक्टीरिया के पनपने से सूजन भी आ जाती है (29)। वहीं, नारियल पानी में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जिसे लगाने से कील-मुंहासों का इलाज किया जा सकता है। जब आप नारियल पानी को शहद के साथ मिलाकर चेहरे पर लगाते हैं, तो न सिर्फ कील-मुंहासे ठीक होते हैं, बल्कि त्वचा भी नर्म और मुलायम हो जाती है। शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं (30)। साथ ही इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं, जो सूजन को कम कर सकते हैं।

सामग्री :
  • आधा कप नारियल पानी
  • एक चम्मच शहद
बनाने का तरीका :
  • शहद को नारियल पानी में मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण में कॉटन बॉल को भिगोकर कील-मुंहासे वाली जगह पर लगाएं।
  • इसे चेहरे पर करीब 10 मिनट तक लगे रहने दें और फिर सूती कपड़े से साफ कर लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • आप इस फेस पैक को रोज लगा सकते हैं।

26. पिगमेंटेशन में कमी

बाजार में ऐसे उत्पादों की कमी नहीं हैं, जो त्वचा पर पिगमेंटेशन को कम करने का दम भरते हैं। वो बात और है कि ये उत्पाद केमिकल युक्त होते हैं, जिनसे फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है। अगर आप पिगमेंटशन से छुटकारा पाने के लिए कोई प्राकृतिक विकल्प तलाश रहे हैं, तो नारियल पानी पर भरोसा कर सकते हैं।

कई शोधों के जरिए साबित हुआ है कि विटामिन-सी के प्रयोग से पिगमेंटेशन को कम किया जा सकता है और नारियल पानी में विटामिन-सी के गुण होते हैं (31)।

सामग्री :
  • एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी
  • डेढ़ चम्मच नारियल पानी
बनाने का तरीका :
  • नारियल पानी और मुल्तानी मिट्टी को मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • अब आपको जहां-जहां पिगमेंटेशन की समस्या है, वहां-वहां यह पेस्ट लगाएं।
  • करीब 15 मिनट तक पेस्ट को सूखने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • पिगमेंटेशन को ठीक करने के लिए आप यह फेस पैक हफ्ते में एक या दो बार लगा सकते हैं।

27. एक्जिमा से राहत

Eczema relief Pinit

Shutterstock

नारियल पानी की मदद से एक्जिमा को भी ठीक किया जा सकता है। यह त्वचा से जुड़ा संक्रामक रोग है। इसमें त्वचा का रंग लाल हो जाता है, खुजली होती है और सूजन भी हो जाती है। इसके लिए आप प्रतिदिन कम से कम दो गिलास नारियल पानी जरूर पिएं। इससे आपकी त्वचा हाइड्रेट रहेगी और महंगे केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। नारियल पानी में पोटैशियम, लॉरिक एसिड, एंटीऑक्सीडेंट और साइटोकिनिन जैसे जरूरी पोषक तत्व होते हैं, जो त्वचा को हमेशा जवां बनाए रखते हैं। इसके अलावा, नारियल पानी के सेवन से शरीर का पीएच स्तर भी सामान्य बना रहता है।

सामग्री :
  • दो चम्मच नारियल पानी
प्रयोग का तरीका :
  • रात को सोने से पहले प्रभावित जगह पर कॉटन बॉल की मदद से नारियल पानी लगा लें।
  • सूखने के बाद सो जाएं और अगली सुबह साफ पानी से धो लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • इसे आप रोज रात को सोने से पहले इस्तेमाल कर सकते हैं।

28. प्राकृतिक क्लींजर व टोनर

अगर आप अपने चेहरे के लिए कोई क्लींजर या टोनर तलाश रहे हैं, तो फिर प्राकृतिक नारियल पानी पर विश्वास करें। नारियल पानी में पोटैशियम होने के कारण यह त्वचा को हाइड्रेट रखता है। साथ ही त्वचा के पीएच स्तर को संतुलित बनाए रखता है। आप इसे क्लींजर की तरह प्रयोग करने न सिर्फ मेकअप को हटा सकते हैं, बल्कि चेहरे के रोम छिद्रों में छुपी गंदगी को भी साफ कर सकते हैं।

आप कॉटन बॉल को नारियल पानी में डुबोकर चेहरे को साफ कर सकते हैं। इस प्रकार यह क्लींजर और टोनर दोनों तरह से काम करेगा। आप थोड़े से नारियल पानी में नींबू के रस या फिर गुलाब जल की कुछ बूंदे मिक्स कर सकते हैं। इससे न सिर्फ आपकी त्वचा साफ होकर टोन होगी, बल्कि त्वचा में मॉइस्चराइजर भी बना रहेगा।

29. सन टैन को करे साफ

त्वचा पर सन टैन के निशानों को मिटाने में भी नारियल पानी का कोई मुकाबला नहीं है। नारियल पानी में मुल्तानी मिट्टी को मिक्स करके त्वचा पर लगाने से सन टैन के निशान कम हो सकते हैं। आप इस पेस्ट को लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें और फिर हल्के गुनगुने पानी से धो लें। आप इसे करीब दो महीने तक हफ्ते में तीन बार इस्तेमाल करें। इसके बाद आपको फर्क खुद नजर आएगा।

नारियल पानी बालों के लिए किस प्रकार गुणकारी है, जानने के लिए पढ़ते रहें यह आर्टिकल।

बालों के लिए नारियल पानी के फायदे – Hair Benefits of Coconut Water in Hindi

30. बालों का झड़ना रोके

अगर आप बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं, तो नारियल पानी का उपयोग कर सकते हैं। चौंकिए मत, नारियल पानी बालों के लिए भी गुणकारी है। इसे इस्तेमाल करने से स्कैल्प में रक्त का प्रवाह बेहतर तरीके से होता है। इसे लगाने से बाल मोटे होते हैं और हेयर फॉलिक्स भी मजबूत होते हैं। इस कारण से बालों का झड़ना कम होने लगता है।

नारियल पानी को विटामनि-के व आयरन का मुख्य स्रोत माना गया है। बालों की मजबूती व विकास के लिए विटामिन-के जरूरी है। इससे बाल झड़ना बंद हो जाते हैं। इसी तरह, आयरन बालों की जड़ों तक पर्याप्त ऑक्सीजन को पहुंचाता है। वहीं, अगर आप इसे नींंबू जूस के साथ प्रयोग करते हैं, तो बालों को विटामिन-सी मिलता है। इससे स्कैल्प में पीएच का स्तर संतुलित रहता है।

सामग्री :
  • एक चौथाई कप नारियल पानी
  • एक चम्मच नींबू जूस
प्रयोग का तरीका :
  • किसी बर्तन में नींबू जूस और नारियल पानी को डालकर अच्छी तरह मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण से सिर की करीब पांच मिनट तक हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • जब पूरे सिर पर यह मिश्रण लग जाए, तो फिर बालों पर लगाकर मालिश करें।
  • इसे करीब 15 मिनट के लिए बालों पर लगा रहने दें। इस दौरान आप सिर व बालों को शॉवर कैप से ढक दें।
  • इसके बाद सल्फेट फ्री शैंपू से बालों को धो दें।
ऐसा कब-कब करें :
  • इसे हफ्ते में एक बार कर सकते हैं।

31. डैंड्रफ

Dandruff Pinit

Shutterstock

बाल लंबे और घने हों, लेकिन उनमें डैंड्रफ हो, तो फिर उनकी खूबसूरती कोई अहमियत नहीं रखती। खासकर, काले रंग के कपड़ों पर डैंड्रफ साफ नजर आता है।

नारियल पानी में एंटीफंगल गुण होते हैं, जो स्कैल्प में होने वाली खुजली व डैंड्रफ को कम करते हैं। साथ ही यह स्कैल्प को हाइड्रेट कर सूजन जैसी समस्या से राहत दिलाता है।

सामग्री :
  • 10 चम्मच नारियल पानी
  • आधा चम्मच नीम का तेल
प्रयोग का तरीका :
  • इन दोनों सामग्रियों को आपस में मिक्स कर लें।
  • फिर इससे स्कैल्प की मसाज करें और करीब एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद बालों को हल्के गुनगुने पानी से धो लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • बेहतर परिणाम के लिए आप इस घरेलू उपचार को हफ्ते में दो बार कर सकते हैं।

32. बालों के विकास के लिए

इस बात से आप इनकार नहीं करेंगे कि शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर उसका असर बालों पर भी पड़ता है। इस कारण बालों का झड़ना शुरू हो जाता है। इस मामले में नारियल पानी सबसे बेहतर है। यह बालों के विकास में आपकी मदद करता है। नारियल पानी में पोटैशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है और बालों के विकास के लिए पोटैशियम जरूरी है। इसलिए, नारियल पानी से बालों की मालिश करने से आपको फायदा हो सकता है। इससे स्कैल्प में रक्त का संचार बेहतर होता है और बाल जड़ों से मजबूत होते हैं (32)।

सामग्री :
  • आधा कप नारियल पानी
प्रयोग का तरीका :
  • आप कॉटन बाॅल या फिर उंगलियोंं की मदद से सिर पर नारियल पानी लगा सकते हैं।
  • इसे लगाने के बाद कुछ देर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • रात भर इसे लगा रहने दें और अगली सुबह शैंपू से धो लें।
ऐसा कब-कब करें :
  • आप हर दूसरे दिन रात को सोने से पहले इसे सिर पर लगा सकते हैं।

33. बालों में चमक

Glow in hair Pinit

Shutterstock

अगर आप बालों में प्राकृतिक चमक व निखार चाहते हैं, तो नारियल पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं। नारियल पानी के प्रयोग से स्कैल्प को जरूरी पोषण मिलता है और बाल जड़ों तक कंडीशन होते हैं। इसके लिए आप बालों को नारियल पानी से धो सकते हैं।

सामग्री :
  • एक कप नारियल पानी
प्रयोग का तरीका :
  • पहले आप बालों को शैंपू से अच्छी तरह धो लें।
  • इसके बाद तीन-चार मग पानी में नारियल पानी को मिक्स करके उसे बाल धोएं।
ऐसा कब-कब करें :
  • आप जब भी शैंपू करें, उसके बाद नारियल पानी से बालों को जरूर धोएं।

34. टूटते बालों का इलाज

केमिकल युक्त हेयर प्रोडक्ट इस्तेमाल करने से या फिर डाई करवाने से बाल जड़ों से कमजोर होकर टूटने लगते हैं। साथ ही बालों का प्राकृतिक मॉइस्चराइजर खत्म हो जाने से रूखे व बेजान नजर आते हैं। इससे बचने के लिए आप नारियल पानी का इस्तेमाल करें। नारियल पानी बालों को जड़ों से मजबूत बनाता है।

सामग्री :
  • दो चम्मच नारियल पानी
  • एक चम्मच योगर्ट
प्रयोग का तरीका :
  • इन दोनों सामग्रियों को मिक्स करके अपने स्कैल्प पर लगाएं और हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसके करीब एक घंटे बाद सल्फेट फ्री शैंपू से बालों को धो लें और बाद में कंडीशन जरूर करें।
ऐसा कब-कब करें :
  • बेहतर परिणाम के लिए आप इसे हफ्ते में दो बार कर सकते हैं।

आइए, अब यह भी जान लेते हैं कि नारियल पानी में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं और उनकी मात्रा कितनी होती है।

नारियल पानी के पौष्टिक तत्व – Coconut Water Nutritional Value in Hindi

पोषक तत्वमात्राआरडीए प्रतिशत
ऊर्जा19 Kcal1
कार्बोहाइड्रेट3.71 g3
प्रोटीन0.72 g1.5
कुल फैट0.20 g1
कोलेस्ट्रॉल0 mg0
डाइटरी फाइबर1.1 g3
विटामिन्स
फोलेट3 µg0.75
नियासिन0.080 mg0.5
पैंटोथेनिक एसिड0.043 mg<1
पाइरिडोक्सिन0.032 mg2.5
राइबोफ्लेविन0.057 mg4
थियामिन0.030 mg2.5
विटामिन-सी2.4 mg4
विटामिन-ए0 IU0
विटामिन-ई0 mg0
विटामिन-के0 mcg0
इलेक्ट्रोलाइट्स
सोडियम105 mg7
पोटैशियम250 mg5
मिनरल्स
कैल्शियम24 mg2.4
कॉपर40 mcg4.5
आयरन0.29 mg3.5
मैग्नीशियम25 mg6
मैंगनीज0.142 mg%
जिंक0.10 mg1
फाइटो-न्यूट्रिएंट्स
ऑक्सिनमौजूद
कैरोटीन0 µg
साइटोकिन्समौजूद
ल्यूटिन-जीएक्सैंथिन0 µg
ल्यूकोएन्थोकैनिडिनमौजूद

अब हम बता रहे हैं कि नारियल पानी को कब और कैसे पीना चाहिए।

नारियल पानी का उपयोग – How to Use Coconut Water in Hindi

How to Use Coconut Water in Hindi Pinit

Shutterstock

नारियल पानी पूरे साल मिलता है और इसका सेवन कभी भी किया जा सकता है। फिर भी अगर इसे सही समय पर पिया जाए, तो ज्यादा फायदा होगा। हम यहां इसे पीने के लिए जरूरी टिप्स दे रहे हैं।

  1. सुबह : जब आप इसे सुबह खाली पेट पीते हैं, तो इसका असर सबसे ज्यादा होता है। इससे आपके शरीर को नई ऊर्जा मिलती है और गैस व एसिडिटी भी नहीं होती है।
  1. एक्सरसाइज से पहले व बाद में : नारियल पानी को आप एनर्जी ड्रिंक की तरह भी पी सकते हैं। अगर आप इसे जिम जाने से पहले या एक्सरसाइज से पहले पीते हैं, तो शरीर को पर्याप्त ऊर्जा मिलती है और बेहतर तरीके से वर्कआउट कर पाते हैं। वहीं, एक्सरसाइज करने के बाद पीने से शरीर को ऊर्जा मिलने के साथ-साथ आप हाइड्रेट भी रहते हैं।
  1. भोजन से पहले व बाद में : इसे पीने से पेट भरा हुआ लगता है। इसलिए, अगर आप वजन घटाना चाहते हैं, तो इसे भोजन से तुरंत पहले पिएं, ताकि आपको भूख कम लगे। वहीं, भोजन के बाद पीने से पाचन तंत्र बेहतर होता है और भोजन को पचाने में आसानी होती है।
  1. सोने से पहले : नारियल पानी की सुगंध मीठी और मनमोहक होती है। इसलिए, अगर आप इसे सोने से कुछ समय पहले पीते हैं, तो आपका तनाव व थकान कुछ हद तक कम हो सकती है। इससे आपको रात को अच्छी नींद आ सकती है।
  1. स्मूदी के रूप में : अगर आपको नारियल पानी का टेस्ट नहीं पसंद, तो आप इसे अपने पसंदीदा फल के साथ ग्रांइड करके स्मूदी बना लें। फिर इसे मजे से पिएं। इसके अलावा, आप नारियल पानी को फ्रीजर में रखकर बर्फ जमा लें और फिर उसे अपनी मनपसंद ड्रिंक में डालकर भी पी सकते हैं।
  1. मॉकटेल : आप नारियल पानी को दूसरे ड्रिंक्स के साथ मिक्स करके मॉकटेल भी बना सकते हैं। इससे आपको नारियल पानी के पोषक तत्व भी मिल जाएंगे और मॉकटेल का नया टेस्ट भी बन जाएगा।
  1. सलाद के रूप में : आप अपनी पसंदीदा सलाद के ऊपर पर भी नारियल पानी से ड्रेसिंग कर सकते हैं।

आपके लिए यह जानना भी जरूरी है कि अच्छे नारियल पानी का चुनाव कैसे किया जाए।

नारियल पानी का चयन – Selection of Coconut Water in Hindi

नारियल चुनते समय आपको निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए :

  1. नारियल पानी खरीदते समय चेक कर लें कि वह फ्रेश है या नहीं। आप उसे हिलाकर चेक करें। फ्रेश नारियल में पानी ज्यादा होता है।
  1. नारियल में पानी कम होने का मतलब है कि व ताजा नहीं है या फिर सूख चुका है।
  1. नारियल का साइज हमेशा मीडियम होना चाहिए। उसमें पानी अधिक होता है। आपका यह सोचना गलत है कि साइज बड़ा है, तो पानी भी ज्यादा होगा।
  1. इसका रंग हरा होना चाहिए और उसे पर ग्रे रंग के पैच नहीं होने चाहिएं। अगर ग्रे पैच ज्यादा हैं, तो इसका मतलब है कि नारियल सूख गया है।
  1. कुछ नारियल पानी से भरे हुए होते हैं। इन्हें हिलाने पर मुश्किल से आवाज आती है। इसका मतलब यह है कि नारियल बिल्कुल ताजा है, लेकिन मिठास कम है।
  1. अगर नारियल का आकार गोल हो, तो उसमें ज्यादा पानी हो सकता है।

आर्टिकल के इस अंतिम हिस्से में हम नारियल पानी के कुछ दुष्प्रभावों के बारे में बता रहे हैं।

नारियल पानी के नुकसान – Side Effects of Coconut Water in Hindi

जैसा कि आप जान चुके हैं कि नारियल पानी को पोटैशियम का मुख्य स्रोत माना गया है। अगर आप दिनभर में दो गिलास से ज्यादा नारियल पानी का सेवन करते हैं, तो शरीर में पोटैशियम की मात्रा जरूरत से ज्यादा हो जाएगी। इससे निम्न प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं :

  1. कुछ लोगों को नारियल पानी पीने से एलर्जी हो सकती है।
  1. नारियल पानी के अधिक सेवन से पेट में सूजन हो सकती है।
  1. पोटैशियम की मात्रा अधिक होने से किडनी संबंधी रोग हो सकता है।
  1. कुछ लोगों में डायबिटीज का स्तर बढ़ सकता है।
  1. लाल रक्त कोशिकाएं क्षतिग्रस्त हो सकती हैं।
  1. मांसपेशियों के टिशू को भी नुकसान हो सकता है।
  1. इसे ज्यादा पीने से दस्त भी लग सकते हैं।
  1. अगर आप उच्च रक्तचाप की दवा ले रहे हैं, तो आपका रक्तचाप अचानक से कम हो सकता है।
  1. जिनके शरीर की तासीर ठंडी होती है, उन्हें नारियल पानी नुकसान पहुंचा सकता है।
  1. इसका अधिक सेवन करने से मूत्र बार-बार आने की परेशानी हो सकती है।

इस आर्टिकल को पढ़कर एक बात तो समझ आती है कि नारियल पानी के फायदे बेशुमार हैं। अगर इसका सेवन सही मात्रा में और सही समय पर किया जाए, तो यह प्राकृतिक मीठा जल आपके लिए अमृत का काम कर सकता है। इतना ही नहीं, यह आपकी त्वचा संबंधी कई समस्याओं को भी ठीक कर सकता है। बेशक, नारियल पानी पूरे साल मिलता है, लेकिन गर्मियों में शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए इससे बेहतर कोई पेय पदार्थ नहीं हो सकता। बस गर्मियों में ध्यान इस बात का रखें कि इसे गर्म न पिएं, बल्कि घर लाकर कुछ मिनटों के लिए फ्रिज में रख दें, ताकि यह पीने योग्य हो जाए।

– स्वस्थ रहें, खुश रहें।

संबंधित आलेख