ऑयली स्किन के लिए मेकअप कैसे करें – Makeup Tips for Oily Skin in Hindi

by

त्वचा कई तरह की होती है और हर त्वचा की अपनी अलग-अलग परेशानियां भी होती हैं। ऑयली स्किन भी इन्हीं में शामिल है, ऑयली त्वचा की अपनी अलग ही समस्याएं होती है, कभी पिंपल निकले तो कभी चिपचिपाहट। ऐसे में जब ऑयली स्किन के लिए मेकअप करने की बारी आती है, तो यह किसी टास्क से कम नहीं है। कई बार ऑयली स्किन वाली महिलाएं मेकअप करते वक्त अपने स्किन टाइप का ध्यान नहीं रखती और नतीजा मेकअप का खराब होना या त्वचा से जुड़ी परेशानियां होना। ऑयली त्वचा के लिए मेकअप कैसा हो या ऑयली स्किन के लिए मेकअप करते वक्त किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है, इसकी जानकारी आपको स्टाइलक्रेज के इस लेख में मिलेगी। यहां हम ऑयली स्किन के लिए मेकअप से जुड़ी ज्यादा से ज्यादा जानकारी दे रहे हैं। तो ऑयली त्वचा के लिए मेकअप का यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ें।

लेख विस्तार से पढ़ें

लेख के शुरुआत में हम जानेंगे कि ऑयली त्वचा वाली महिलाओं को मेकअप से पहले क्या करना चाहिए।

मेकअप से पहले अपनी ऑयली त्वचा को तैयार कैसे करें

मेकअप अच्छा दिखे और देर तक टिका रहे, इसके लिए आपको मेकअप से पहले अपनी त्वचा पर काम करने की जरूरत होती है। नीचे हम बताने जा रहे हैं कि ऑयली स्किन के लिए मेकअप करने से पहले किस तरह महिलाएं अपनी स्किन को तैयार कर सकती हैं :

1. क्लींजिंग, टोनिंग और मॉइस्चराइज

स्किन ड्राई हो या ऑयली, स्वस्थ त्वचा के लिए स्किन को साफ रखना आवश्यक है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में इस बात की पुष्टि हुई है कि त्वचा को साफ रखने से या स्किन क्लींजिंग करने से मुहांसों की समस्या से बचाव हो सकता है (1)। हालांकि, ध्यान रहे ऑयली स्किन को सूट करता हुआ ही क्लींजर लें। ऑयली स्किन के लिए सैलिसिलिक एसिड युक्त क्लींजर का चुनाव किया जा सकता है, क्योंकि यह त्वचा को कील-मुंहासों की परेशानी से राहत दिला सकता है (2)

वहीं, शोध में विच हेजल युक्त टोनर का इस्तेमाल त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाने के लिए उपयोगी पाया गया है (3)। इसके अलावा, अमरूद के अर्क से बना टोनर भी इस्तेमाल कर सकते हैं, क्योंकि इसमें एंटी-सीबम गुण होता है, जो अतिरिक्त तेल को कम करने में मदद कर सकता है (4)। अन्य त्वचा की तरह ही ऑयली स्किन को भी क्लींजिंग और टोनिंग के साथ-साथ मॉइस्चराइजिंग की भी आवश्यकता होती है। मॉइस्चराइजर त्वचा में जलन जैसी समस्याओं को कम कर सकता है और त्वचा में उचित नमी बनाए रखने में मदद कर सकता है (5)। इसीलिए मेकअप करने से पहले त्वचा की उचित सफाई करना न भूलें और साथ ही मॉइस्चराइजर का भी इस्तेमाल करें।

2. गुलाब जल का स्प्रे

मेकअप करने से पहले गुलाब जल को अपने चेहरे और गर्दन पर स्प्रे करें और इसे सूखने दें। गुलाब जल का उपयोग त्वचा को दिनभर तरोताजा बनाए रखने में मदद कर सकता है। इसके साथ ही यह त्वचा के अत्यधिक तेल को नियंत्रित करने में और त्वचा के पीएच को संतुलित करने में सहायक हो सकता है। इतना ही नहीं यह एक्ने की परेशानी से भी बचाव करने में उपयोगी हो सकता है (6)

3. प्राइमर जरूर लगाएं

मेकअप शुरू करने से पहले चेहरे पर प्राइमर का उपयोग जरूर करें। दरअसल, प्राइमर फाउंडेशन के लिए बेस तैयार करने का काम करता है, जो त्वचा और मेकअप के बीच एक परत बनाने में मदद कर सकता है। प्राइमर मेकअप को लंबे समय तक टिकने में भी मदद कर सकता है। इसके अलावा, प्राइमर का इस्तेमाल करने से हाइपरपिग्मेंटेशन (झाइयां – त्वचा पर पड़ने वाला एक तरह का पैच) और चेहरे की महीन रेखाओं को कम करने में भी मदद मिल सकती है (7)

आगे बढ़ते हैं

आइए, अब जानते हैं ऑयली स्किन के मेकअप के लिए किन जरूरी चीजों की आवश्यकता होती है।

ऑयली स्किन के मेकअप के लिए जरूरी चीजें

किसी भी प्रकार की त्वचा पर मेकअप करने से पहले, मेकअप के लिए जरूरी सामग्रियों के बारे में जानकारी रखना जरूरी है। ऐसे में लेख के इस भाग में हम ऑयली स्किन मेकअप के लिए किन सामग्रियों की आवश्यकता होती है, उसकी जानकारी दे रहे हैं। तो ऑयली स्किन पर मेकअप के लिए आपको चाहिए :

  • फाउंडेशन
  • कंसीलर
  • ब्लेंडिंग स्पॉन्ज या ब्रश
  • सेटिंग पाउडर
  • सेटिंग स्प्रे

स्क्रॉल करें

लेख के इस भाग में हमने ऑयली स्किन के लिए मेकअप टिप्स को काफी आसानी से समझाया है, जिसे पढ़ने के बाद घर में भी आसानी से मेकअप किया जा सकता है।

ऑयली स्किन के लिए मेकअप टिप्स – Makeup Tips for Oily Skin in Hindi

अगर मेकअप करने का सही तरीका पता हो, तो घर में भी आसानी से बेसिक मेकअप किया जा सकता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम अपने पाठकों के लिए ऑयली स्किन के लिए मेकअप करने की जानकारी स्टेप बाई स्टेप दे रहे हैं। तो ऑयली स्किन पर मेकअप करने के लिए इन आसान तरीकों को फॉलो करें :

1. फाउंडेशन लगाएं

प्राइमर लगाने के बारे में हमने लेख की शुरुआत में ही जानकारी दे दी थी। अब प्राइमर लगाने के बाद जब त्वचा मेकअप के लिए तैयार हो जाए, तो सबसे पहले फाउंडेशन लगाएं। बेहतर परिणाम के लिए आप फाउंडेशन में थोड़ा-सा मॉइस्चराइजर मिलाएं और इसे उंगली की मदद से पूरे चेहरे और गर्दन पर बिंदु की तरह लगाएं। इसे लगाने के बाद ब्लेंडिंग स्पॉन्ज से इसे थपथपाकर ब्लेंड करें। ऑयली स्किन के लिए फाउंडेशन का चुनाव अपनी स्किन टोन के हिसाब से करें। ध्यान रहे कि फाउंडेशन का रंग ऐसा न हो जो आपके रंग को सूट न करें। अपने रंग के अनुरूप अच्छी गुणवत्ता वाला फाउंडेशन इस्तेमाल करें।

ऐसे चुनें स्किन टोन के अनुसार फाउंडेशन

स्किन टोन के हिसाब से फाउंडेशन चुनने के लिए लोग कई तरह की राय देते हैं, जिनमें कलाई पर पैच टेस्ट करना सबसे सामान्य और बेहतर परिणाम वाला हो सकता है। कलाई के जरिए आप कैसे अपने लिए बेस्ट फाउंडेशन चुन सकती हैं, यह जानने के लिए नीचे दिए गए टिप्स पढ़ें:

  • ऑयली स्किन के लिए हमेशा ऑयल फ्री या मैट फाउंडेशन का ही चुनाव करें।
  • कलाई के ऊपरी हिस्से पर फाउंडेशन की 2-3 बूंदें लगाएं।
  • फिर उंगलियों की मदद से उसे ब्लेंड करें।
  • इस दौरान त्वचा पर ज्यादा दबाव न डालें।
  • इसे लगाने के बाद सूरज की रोशनी या उजाले वाली जगह में फाउंडेशन का रंग देखें।
  • अगर यह आपकी त्वचा के रंग से पूरी तरह से मिल जाता है, तो ही इसे खरीद सकती हैं।
  • वहीं, अगर यह आपकी त्वचा के रंग से ज्यादा ब्राइट या डार्क है, तो इसे न खरीदें। इस तरह का शेड आपके स्किन को अधिक लाइट या डार्क कर सकता है।
  • अगर मन में संशय हो तो शॉप में मौजूद ब्यूटी एक्सपर्ट की राय भी ले सकती हैं।

2. अब लगाएं कंसीलर

कंसीलर का उपयोग आंखों के नीचे काले घेरे को छिपाने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, चेहरे पर मौजूद दाग-धब्बों को कवर करने के लिए भी कंसीलर मददगार साबित हो सकता है। फाउंडेशन लगाने के बाद आप कंसीलर लगाएं। इसे आप ब्रश या उंगली की मदद से भी लगा सकती हैं। ध्यान रहे कि आपका कंसीलर आपके स्किन टोन से मैच करता हुआ हो। अगर आपकी आंखों के नीचे काले घेरे अधिक गहरे हैं, तो इसके लिए आप अपनी स्किन टोन से एक या दो नंबर ब्राइट कंसीलर चुन सकती हैं। वहीं, अगर आंखों के नीचे काले घेरे हल्के हैं, तो स्किन टोन से मैच करता हुआ ही कंसीलर खरीदें। स्किन टोन के हिसाब से कंसीलर कैसे खरीदें इस बारे में नीचे जानकारी दी गई है:

ऐसे चुनें स्किन टोन के अनुसार कंसीलर

  • ऑयली त्वचा के लिए लिक्विड बेस्ड कंसीलर चुनें।
  • कंसीलर का पैच टेस्ट अपनी कलाई के ऊपरी हिस्से पर लगाकर करें।
  • कलाई के हिस्से पर कंसीलर की 2-3 बूंदें लें, फिर हल्के हाथों से इसे ब्लेंड करें।
  • अगर इसे लगाने के बाद त्वचा का रंग गुलाबी, पीला या ज्यादा सफेद होता है, तो इसका चयन न करें।
  • वहीं, अगर इसे लगाने के बाद यह आपकी त्वचा के रंग में पूरी तरह से मिल जाता है, तो इसका चयन कर सकती हैं।
  • साथ ही इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि कंसीलर फाउंडेशन के शेड से मिलता हुआ ही होना चाहिए।
  • जरुरत पड़ने पर ब्यूटी एक्सपर्ट की राय भी ले सकती हैं।

3. पाउडर की मदद से सेट करें

फाउंडेशन और कंसीलर लगाने के बाद ट्रांसलूसेंट पाउडर को स्पॉन्ज से लगाते हुए मेकअप को सेट करें। इससे ऑयली स्किन ऑयल फ्री दिखती है और मेकअप काफी देर तक टिका रह सकता है।

4. अब करें बाकी का मेकअप

आपके चेहरे का बेसिक मेकअप हो गया है, अब जरूरत है इसमें और निखार लाने की। अब आप चाहें तो मैट ब्लश, आई शैडो, आईलाइनर, काजल और लिपस्टिक लगाकर अपने मेकअप को पूरा कर सकती हैं। इसके लिए आप अपनी रंग के हिसाब से लिपस्टिक व आईशैडो का कलर चुन सकती हैं। वहीं, अगर होंठो पर गहरे रंग का लिपस्टिक लगा रही हैं, तो आंखों का मेकअप लाइट रखें। इसके अलावा, आंखों का मेकअप डार्क या स्मोकी है तो हल्के रंग का लिपस्टिक ट्राई करें। आप चाहें तो सिर्फ काजल और हल्के रंग का लिपस्टिक लगाकर अपने मेकअप को मिनिमल भी रख सकती हैं।

5. सेटिंग स्प्रे से दें फाइनल लुक

अब आखिरी स्टेप है सेटिंग स्प्रे से मेकअप सेट करना। अच्छी तरह फाउंडेशन, कंसीलर और ट्रांसलूसेंट पाउडर और बाकी के आई मेकअप और लिप मेकअप को पूरा करने के बाद आखिरी में चेहरे पर सेटिंग स्प्रे का उपयोग करें। ध्यान रहे कि ज्यादा स्प्रे न करें। इसकी एक पतली परत ही काफी है। यह मेकअप को पिघलने से बचा सकती है और इसकी मदद से आपका मेकअप लंबे समय तक टिका रह सकता है। ऑयली स्किन के लिए ऑयल-फ्री मेकअप सेटिंग स्प्रे का इस्तेमाल करें। सेटिंग स्प्रे को फेस से थोड़ा दूर रख कर ही स्प्रे करें।

और पढ़ें

अंत में अब हम ऑयली स्किन के लिए मेकअप के कुछ और टिप्स बता रहे हैं।

ऑयली त्वचा के लिए मेकअप के कुछ और टिप्स – Other Makeup Tips for Oily Skin in Hindi

अब आपको आइडिया हो गया होगा कि ऑयली त्वचा के लिए मेकअप कैसे करते हैं। ऊपर बताए गए तरीके अपनाकर आप न सिर्फ बेहतरीन लुक पा सकती हैं, बल्कि लंबे समय तक मेकअप को टिकाकर भी रख सकती हैं। ऑयली स्किन के लिए मेकअप करने का तरीका बताने के बाद, नीचे हम कुछ अन्य टिप्स दे रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं:

  • ऑयल फ्री कॉस्मेटिक्स – तैलीय त्वचा के लिए हमेशा वाटर बेस्ड या ऑयल फ्री कॉस्मेटिक्स का ही चयन करें (8)। साथ ही किसी भी कॉस्मेटिक या मेकअप प्रोडक्ट के उपयोग से पहले पैच जरूर करें। ऑयली स्किन से राहत पाने के लिए चकोतरे के बीज के अर्क युक्त कॉस्मेटिक का उपयोग भी कर सकते हैं (9)। ऑयली स्किन के लिए ग्रीन टी युक्त कॉस्मेटिक का चुनाव भी कर सकते हैं (10)
  • ब्लोटिंग पेपर का इस्तेमाल करें – अगर आपको लगे कि मेकअप करते समय अतिरिक्त तेल निकल रहा है, तो ब्लोटिंग पेपर से इसे सेट करते रहें। ब्लोटिंग पेपर त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाने में मदद कर सकता है (11)। इसके अलावा, ब्लोटिंग पेपर को अपने साथ हमेशा रखें, जब भी त्वचा में तेल ज्यादा महसूस हो तो ब्लोटिंग पेपर से पोंछ ले। यह आसानी से मार्केट या ऑनलाइन उपलब्ध है।
  • मैट कॉम्पैक्ट का इस्तेमाल करें – ऑयली स्किन के लिए मेकअप करते समय अगर आप कॉम्पैक्ट का इस्तेमाल करती हैं, तो इसका चुनाव सावधानी से करें। आप मैट कॉम्पैक्ट का चयन कर सकती हैं।
  • स्किन को एक्सफोलिएट करें – सप्ताह में 1 से 2 बार स्किन को एक्सफोलिएट जरूर करें। यह त्वचा पर जमी गंदगी और विषाक्त पदार्थों के साथ त्वचा के रोम छिद्रों की भी सफाई कर सकता है। इसके लिए हर्बल एक्सफोलिएट का विकल्प अपना सकती हैं, जिसके लिए आप नींबू, खीरे, पपीते और मूंग दाल से तैयार घरेलू स्क्रब का इस्तेमाल भी कर सकती हैं (12)
  • भरपूर मात्रा में पानी पिएं – ऑयली स्किन वालों को न सिर्फ अपनी त्वचा को नियमित रूप से मॉइस्चराइज करना चाहिए, बल्कि हाइड्रेटेड भी रखना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि आप प्रचुर मात्रा में पानी पिएंं।
  • थोड़ी मात्रा में लगाएं पाउडर – पाउडर लगाना जरूरी है, लेकिन इसका अत्यधिक इस्तेमाल बुरा असर डाल सकता है। इसलिए, ऑयली त्वचा के लिए मेकअप करते समय पाउडर को थोड़ी मात्रा में ही लगाएं।
  • गुनगुने पानी से चेहरा धोएं – ऑयली त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाने के लिए चेहरा धोने के लिए गुनगुने पानी और माइल्ड साबुन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं (8)। हालांकि, पानी के तापमान का ध्यान रखें, क्योंकि तापमान अधिक होने से चेहरा जल सकता है।
  • दवाइयां – अगर ऑयली त्वचा की समस्या ज्यादा हो, तो कुछ मामलों में डॉक्टरी सलाह लेना भी अच्छा विकल्प हो सकता है। डॉक्टर द्वारा दिए गए क्रीम या दवा त्वचा के अतिरिक्त तेल को नियंत्रित करने या सोखने के लिए उपयोगी हो सकती है (8)

संभव है कि ऑयली स्किन के लिए मेकअप शुरू करने से पहले आपने कई उपाय किए होंगे। हो सकता है कुछ असरदार साबित हुए हो या कुछ से नुकसान हुआ हो। ऐसे में सही उत्पाद का चयन करना जरूरी है, लेकिन इसके साथ ही त्वचा की नियमित रूप से सही देखभाल भी जरूरी है। हम उम्मीद करते हैं कि यहां बताए गए टिप्स से आपको ऑयली स्किन के लिए मेकअप करना आ गया होगा। अब आपको जहां भी जाना हो और मेकअप करना हो, तो ऊपर बताए गए तरीके को अपनाएं और हर पार्टी में छा जाएं। साथ ही, त्वचा की देखभाल से जुड़ी अन्य जानकारियों के लिए स्टाइलक्रेज की वेबसाइट विजिट करते रहें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

ऑयली स्किन के लिए फाउंडेशन लगाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है?

ऑयली स्किन के लिए फाउंडेशन लगाने की विस्तारपूर्वक विधि यहां पढ़ सकते हैंः

  • स्किन टोन के हिसाब से ऑयली स्किन के लिए फाउंडेशन चुनें।
  • अपनी हथेली की ऊपरी भाग पर फाउंडेशन की कुछ बूंदे लें।
  • अब उंगली से इसे डॉट-डॉट करके पूरे चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • फिर ब्लेंडिंग स्पॉन्ज की मदद से फाउंडेशन को पूरी त्वचा पर ब्लेंड कर लें।

तैलीय त्वचा के लिए सबसे अच्छा प्राइमर कौन सा है?

ऑयली स्किन के लिए मैट या ऑयल फ्री प्राइमर का उपयोग कर सकते हैं। आप अपनी जरूरत और भरोसेमंद ब्रांड से प्राइमर खरीद सकती हैं। आजकल मार्केट में अलग-अलग ब्रांड्स और क्वालिटी के प्राइमर आपको आसानी से मिल सकते हैं। आप चाहें तो ऑयली स्किन के लिए प्राइमर ऑनलाइन भी खरीद सकती हैं।

तैलीय त्वचा से अतिरिक्त तेल कैसे हटा सकते हैं?

क्लींजिंग, टोनिंग और ऑयल फ्री मॉइस्चराइजर की मदद से आप आसानी से अपने चेहरे से अतिरिक्त तेल हटा सकती हैं। क्लींजिग और टोनिंग जहां चेहरे की सफाई करने में मदद करेंगे वहीं, मॉइस्चराइजर त्वचा को नमी प्रदान कर सकता है। इसके अलावा, त्वचा से अतिरिक्त तेल को हटाने के लिए ब्लॉटिंग पेपर का उपयोग भी कर सकते हैं।

12 संदर्भ (Sources)

Stylecraze has strict sourcing guidelines and relies on peer-reviewed studies, academic research institutions, and medical associations. We avoid using tertiary references. You can learn more about how we ensure our content is accurate and current by reading our editorial policy.

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Ankita Mishra

ताज़े आलेख

scorecardresearch