पीलिया में क्या खाएं और क्या न खाएं – जॉन्डिस के लिए आहार – Jaundice (Piliya) Diet in Hindi

Written by , MA (Mass Communication) Anuj Joshi MA (Mass Communication)
 • 
 

पीलिया में क्या-क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, एक गंभीर सवाल हो सकता है। इस बीमारी में खानपान पर विशेष ध्यान देना जरूरी होता है, क्योंकि जॉन्डिस लीवर को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। इससे लीवर डैमेज का खतरा बन सकता है (1)। दरअसल पीलिया, रक्त और शरीर की कोशिकाओं में बिलीरुबिन (पीला रंगद्रव) के बढ़ जाने की वजह से होता है। इससे पीड़ित मरीज की त्वचा और आंखें पीली पड़ जाती हैं (2)। इस लेख में हम जॉन्डिस के लिए सटीक डाइट और खान-पान से जुड़ी सावधानियों को बारे में बताने जा रहे हैं। इसका पालन कर पीलिये से जल्द उबरा जा सकता है। आइए, उससे सबसे पहले जॉन्डिस डाइट के बारे में जान लेते हैं।

जॉन्डिस डाइट – Jaundice Diet in Hindi

पीलिया की रोकथाम में एक व्यक्ति का आहार महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लीवर भोजन को पचाने, ऊर्जा को स्टोर करने और विषाक्तता को दूर करने में मदद करता है (3)। एक स्वस्थ शरीर के लिए लीवर की कार्यप्रणाली सही तरीके से चलना बहुत जरूरी है। पीलिया से पीड़ित लोगों को ऐसे खाद्य और पेय पदार्थ लेने की सलाह दी जाती है, जो पाचन और मेटाबॉलिजम को बेहतर बनाने में मदद करें। साथ ही लीवर को ज्यादा नुकसान न पहुंचे।

पीलिया और जॉन्डिस डाइट के बारे में जानने के बाद अब नीचे जानिए पीलिया में क्या खाएं।

पीलिया में क्या खाएं – Food for Jaundice (Piliya) in Hindi

1. नारियल पानी

जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि लीवर से जुड़े रोग की वजह से पीलिया हो सकता है और गंभीर स्थिति में लीवर तक खराब हो सकता है। ऐसे में नारियल पानी आपकी मदद कर सकता है। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, नारियल पानी से बना विनेगर सूजन को कम कर और एंटीऑक्टीडेंट प्रभाव को बढ़ाकर लीवर डैमेज के जोखिम को कम कर सकता है (4)।

2. गन्ने का जूस

Sugarcane juice for jaundice in hindi
Image: Shutterstock

जॉन्डिस के लिए गन्ने का जूस लाभकारी माना जाता हैगन्ने का रस स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देने के साथ-साथ लीवर की कार्यप्रणाली में मदद करता है। इसके लिए आप एक गिलास गन्ने के जूस में कुछ बूंदे नींबू के रस की मिलाकर पी सकते हैं। बेहतर परिणाम के लिए आप इस उपाय को रोजाना दो बार कर सकते हैं (5)।

3. नींबू पानी

पीलिया के इलाज में नींबू पानी भी कारगर है। नींबू एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से समृद्ध होता है। यह पीलिया के उपचार में मदद कर सकता है। वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, नींबू पित्त नलिकाओं को खोलने का काम करता है, जिस वजह से यह पीलिया के लिए प्रभावी घरेलू उपाय बन जाता है (5)।

4. दही और छाछ

पीलिया के मरीज के लिए दही और छाछ भी प्रभावी उपाय हो सकते हैं। इसके लिए आप एक गिलास छाछ में चुकटी भर काली मिर्च के साथ एक चौथाई से भी कम फिटकरी (थोड़ी गर्म की हुई) मिलाकर पी सकते हैं। बेहतर परिणाम के लिए एक दिन में तीन बार इस उपाय को किया जा सकता है (5)। वहीं, दही भी लीवर के लिए फायदेमंद हो सकता है। वैज्ञानिक शोध में इस बात की पुष्टि की गई है कि दही नॉन अल्कोहलिक फैटी एसिड डिजीज के मरीजों में लीवर में जमने वाले फैट (hepatic steatosis) और लीवर एंजाइम में सुधार कर सकता है (6)।

5. हरी सब्जियां

green vegetables for jaundice in hindi
Image: Istock

पीलिया के मरीजों को कुछ चुनिंदा साग-सब्जियों का सेवन कराना चाहिए। इसमें गाजर, चुकंदर, ब्रोकली, केल, पत्ता गोभी व स्वीट पोटैटो आदि को शामिल किया जा सकता है। ये सभी सब्जियां लीवर को स्वस्थ रखने का काम करेंगी (7)।

6. मूली का जूस

पीलिया के लिए मूली का जूस लाभकारी हो सकता है। इसके लिए आप आधा गिलास ताजे मूली के जूस में 10 से 15 तुलसी के पत्तों के पेस्ट को मिलाकर पी सकते हैं। जॉन्डिस के लिए इस उपाय को रोजाना दो से तीन हफ्तों तक किया जा सकता है। इसके अलावा, पीलिया के मरीज को मूली के पत्तों का जूस (आधा लीटर) भी पिलाया जा सकता है। यह उपाय 10 दिन तक लगातार दोहराने से मरीज को आराम मिल सकता है (5)।

7. पपीता

एक चम्मच पपीते के पत्तों के पेस्ट में एक बड़ा चम्मच शहद मिलाएं। इसे नियमित रूप से लगभग एक या दो सप्ताह तक खाएं। यह पीलिया के लिए प्रभावी घरेलू इलाज साबित हो सकता है (5)।

8. टमाटर का जूस

पीलिया के लिए टमाटर फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए आप एक गिलास टमाटर के रस में चुटकी भर नमक और काली मिर्च मिलाकर सुबह खाली पेट पी सकते हैं (5)।

9. तरबूज

पीलिया के लिए तरबूज का सेवन किया जा सकता है और इसका जूस भी पिया जा सकता है। यह प्राकृतिक जूस लीवर को स्वस्थ रखने का काम करता है (7)।

10. क्रेनबेरी

क्रेनबेरी जूस पीलिया के इलाज के लिए कारगर साबित हो सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (मूत्र प्रणाली के किसी भी हिस्से में संक्रमण) का पीलिया के साथ संबंध पाया गया है। यहां क्रेनबेरी जूस की अहम भूमिका देखी जा सकती है, क्योंकि यह यूरिनरी ट्रैक्ट संक्रमण को दूर करने का काम कर सकता है (8), (9)। इस प्रकार क्रेनबेरी जूस के सेवन से पीलिया के जोखिम से बचा जा सकता है।

11. आंवला

पीलिया के लिए आंवला का जूस फायदेमंद हो सकता है। यह विटामिन-सी का अच्छा स्रोत है, जो जॉन्डिस के लक्षणों को दूर करने का काम कर सकता है (5)।

12. ताजे फल

जॉन्डिस से छुटकारा पाने के लिए आप ताजे फल जैसे केला, तरबूज, एवोकाडो, नींबू, पपीता, अंजीर व अनार आदि का सेवन करें। ताजे फल लीवर को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करेंगे (7)।

13. हल्दी

turmeric for jaundice in hindi
Image: Istock

जॉन्डिस के लिए हल्दी एक कारगर घरेलू उपचार हो सकती है। इसके लिए आप एक गिलास गर्म पानी में चुटकी भर हल्दी मिलाकर पिएं। बेहतर परिणाम के लिए यह उपाय रोजाना तीन से चार बार किया जा सकता है।

[ पढ़े: हल्दी के 25 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

14. केला

पीलिया के लिए आप केले को घरेलू उपचार के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप एक केले को मैश करें और उसमें थोड़ा शहद मिलाकर सेवन करें। बेहतर परिणाम के लिए रोजाना दो बार यह उपचार किया जा सकता है (5)।

15. बीन्स और मसूर की दाल

पीलिया के मरीजों के आहार में बीन्स और मसूर की दाल भी शामिल की जा सकती है। ये पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं। इनके सेवन से मरीज को जल्द ठीक होने में मदद मिलेगी। ध्यान रहे कि इन्हें बनाने के लिए तेल-मसालों का प्रयोग न करें (5)।

पीलिया में क्या क्या खाना चाहिए जानने के बाद अब नीचे जानिए पीलिया में क्या नहीं खाएं।

पीलिया (जॉन्डिस) में क्या नहीं खाना चाहिए – Foods to Avoid in Jaundice in Hindi

1. अंडे और मांस

पीलिया के मरीजों को अंडे और मांस का सेवन बिना तले और सीमित मात्रा में करना चाहिए। अगर इन्हें तल कर और मसालों के साथ बनाया गया, तो ये लीवर के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं (8)।

2. जंक फूड्स

पीलिया के मरीजों को जंक फूड्स का सेवन करने से बचना चाहिए। इस प्रकार के भोजन में हाइजीन और पोषक तत्वों की कमी होती है, जो आपके स्वास्थ्य को बिगाड़ सकते हैं (5)।

3. फैट फूड्स

एक वैज्ञानिक शोध में लीवर फैटी डिजीज के बारे में बात की गई है। इस बीमारी में लीवर में फैट बढ़ने लगता है (9)। इसलिए, पीलिया के मरीज को हाई फैट युक्त भोजन से भी बचना चाहिए।

4. कैफीन

Caffeine for jaundice in hindi
Image: Istock

पीलिया के मरीजों को कॉफी से दूर रहने की सलाह दी जाती है (5), क्योंकि इसमें कैफीन होता है, जो पीलिया के मरीज के लिए घातक हो सकता है।

5. प्रोटीन फूड्स

कुछ प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ जैसे फ्राइड अंडे और चिकन का सेवन पीलिया के दौरान नहीं किया जाना चाहिए (8)।

6. तले हुए भोजन

पीलिया के मरीजों को तले हुए भोजन का सेवन न करने की सलाह दी जाती है (8)। इस प्रकार के भोजन पाचन और लीवर के लिए कष्टदायक हो सकते हैं।

7. मीठे खाद्य पदार्थ

पीलिया के मरीजों को केक, चॉकलेट, शहद और क्रीम आदि पदार्थों को सेवन सीमित मात्रा में करने की सलाह दी जाती है(5)।

8. अल्कहोल

जॉन्डिस के मरीज अल्कोहल के सेवन से बचें। अल्कहोल को लीवर के लिए घातक माना गया है और इसका अत्यधिक सेवन लीवर रोगों का कारण बन सकता है (9)।

जॉन्डिस में क्या नहीं खाना चाहिए जानने के बाद चलिए आगे जानते हैं पीलिया के लिए आहर चार्ट के बारे में।

पीलिया के लिए नमूना आहार चार्ट – Sample Diet Chart for Jaundice in Hindi

भोजनपीलिया में क्या खाएं
सुबह उठते ही
  • एक गिलास  गन्ने, तरबूज या अनार के जूस का सेवन करें।
  • साथ में आप वीट ब्रेड में ताजा मक्खन लगाकर खा सकते हैं।
नाश्ता
  • एक गिलास तरबूज, गन्ने या अनार का जूस पिएं।
दोपहर का खाना
  • वेजिटेबल सलाद।
  • गेंहू की रोटी के साथ बिना तेल-मसालों के हरी सब्जी।
  • भोजन के बाद एक गिलास छाछ पी सकते हैं।
दोपहर के खाने

के बाद

  •  क्रेनबेरी का जूस या नींबू पानी।
शाम का नाश्ता
  •  सब्जियों का सूप या
  •  गन्ने का जूस
रात का खाना
  •  टमाटर का सूप
  • चावल और हरी सब्जियां मिलाकर खिचड़ी (बिना तेल-मसालों के)।

जॉन्डिस में क्या खाना चाहिए और पीलिया के लिए डाइट चार्ट के बाद अब जानते हैं जॉन्डिस के लिए कुछ अन्य टिप्स।

पीलिया के लिए कुछ और डायट टिप्स – Other Tips for Jaundice (Piliya) in Hindi

मसालेदार भोजन – पीलिया के मरीज तेल और मसालेदार भोजन से दूर रहें। इस प्रकार के भोजन पेट की समस्याओं के साथ लीवर को नुकसान पहुंचा सकते हैं (5)।

ज्यादा नकम – जॉन्डिस के मरीज भोजन में अत्यधिक नमक का सेवन न करें। नमक में सोडियम होता है, जिसकी अधिक मात्रा मरीज के लिए नुकसानदायक हो सकती है (8)।

स्वच्छ पानी की पर्याप्त मात्रा – पीलिया के मरीज जितना ज्यादा हो सके साफ पानी का सेवन करें। पानी पाचन को बढ़ावा देगा और शरीर को डिटॉक्सीफाई करने का काम करता है (10)।

अत्यधिक भोजन का सेवन – इस बात का भी ध्यान रखें कि पीलिया का मरीज अत्यधिक भोजन का सेवन न करें। ऐसा करने से पाचन तंत्र बिगड़ सकता है (11)।

उम्मीद है कि अब आप जान गए होंगे कि पीलिया में क्या खाना चाहिए और पीलिया में क्या-क्या नहीं खाना चाहिए। यह समस्या किसी भी उम्र के व्यक्ति को अपना शिकार बना सकती है। इसलिए, जरूरी है कि आप इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी अपने पास रखें और दूसरों के साथ भी साझा करें। पीलिया के मरीज का खान-पान बेहद मायने रखता है, इसलिए लेख में बताए गए खाद्य पदार्थों को जॉन्डिस के मरीज के आहार में जरूर शामिल करें। अगर मरीज का स्वास्थ्य ठीक नहीं हो रहा है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। आशा है कि यह लेख आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा। अपने सुझाव और अन्य सवालों के लिए आप हमसे नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़े:

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Anuj Joshi

Anuj Joshiचीफ एडिटर

अनुज जोशी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से बीकॉम और कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन में एमए किया है। अनुज को प्रिंट व ऑनलाइन मीडिया जगत में काम करते हुए करीब 11 वर्ष हो गए हैं। इन्हें एडिटिंग व लेखन का अच्छा खासा अनुभव है। हिंदी के कई प्रमुख अखबारों में विभिन्न विषयों पर इनके लेख प्रकाशित हो चुके हैं। मुख्य रूप...read full bio

ताज़े आलेख