सामग्री और उपयोग

पिस्ता के 15 फायदे, उपयोग और नुकसान – Pista Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

by
पिस्ता के 15 फायदे, उपयोग और नुकसान – Pista Benefits, Uses and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 September 19, 2019

सूखे मेवों की बात हो और पिस्ता का जिक्र न किया जाए, यह तो संभव ही नहीं है। इसका हल्का नमकीन स्वाद भला किसे पसंद नहीं होता। वहीं, मिठाइयों, खीर व हलवे आदि में पिस्ता हो, तो फिर इनके स्वाद के क्या कहने। यह तो बात हुई इसके स्वाद की, लेकिन पोषक तत्वों की बात की जाए, तो इस मामले में भी पिस्ता नंबर-1 है। इसके स्वास्थ्य संबंधी कई सारे फायदे भी हैं, जिसकी वजह से भी पिस्ता को खास सूखे मेवे की लिस्ट में गिना जाता है। इसके अलावा भी पिस्ते की कई सारी खूबियां हैं। आपको स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम पिस्ता बादाम खाने के फायदे, पिस्ता के गुण व पिस्ता के नुकसान बताएंगे।

पिस्ता क्या है – What are Pistachios in Hindi

पिस्ता एक सूखा मेवा है। पिस्ता बादाम के फायदे के कारण, यह ड्राई फ्रूट्स में एक खास स्थान रखता है। पिस्ता पोषक तत्वों से भरपूर होता है (1)। इसका प्रयोग मिठाइयों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए किया जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम पिस्टेसिया वीरा (Pistacia vera) है। यह ईरान, अफगानिस्तान, सयुंक्त राज्य और सीरिया में बड़े स्तर पर पाया जाता है। दुनिया में सबसे ज्यादा पिस्ते की पैदावार ईरान में होती है। इस सूखे मेवे का प्रयोग वजन घटाने से लेकर बालों की सेहत सुधारने तक में किया जा सकता है (2) (3)।

लेख के इस भाग में आइए जानते हैं कि पिस्ते के क्या-क्या फायदे हैं।

पिस्ता खाने के फायदे – Benefits of Pista in Hindi

पिस्ता खाने के फायदे कई सारे हैं जो आपके शरीर को कई सारी बीमारियों से दूर रखने में मदद करते हैं। एक शोध के अनुसार, पिस्ता में वसा, पोटैशियम और कैलोरी की मात्रा कम होती है। इसके सेवन से विभिन्न प्रकार के रोगों से शरीर की रक्षा होती है। यहां हम पिस्ता खाने के फायदों के बारे में विस्तार से बता रहे हैं (4)।

1. हृदय स्वास्थ्य के लिए

Pista for Heart health in hindi Pinit

Shutterstock

पिस्ता खाने के फायदे में हृदय को तंदरुस्त रखना भी शामिल है। पिस्ता पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, पिस्ता में फैटी एसिड पाए जाते हैं, जो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं (2)। पिस्ता के फायदे पर आधारित एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, यह बताया गया है कि पिस्ता में मौजूद अनसैचुरेटेड फैटी एसिड कोरोनरी रोग (coronary disease) को रोकने में सक्रिय भूमिका निभा सकते हैं। इसके अलावा अनसैचुरेटेड फैटी एसिड शरीर में कोलेस्ट्रॉल के जमाव को रोक सकते हैं। इन्हें रोकने में सक्षम होने के कारण ही, पिस्ता को हृदय स्वास्थ्य के लिए प्रयोग किया जा सकता है (2)।

2. आंखों की देखभाल के रूप में

आंखें पूरे शरीर का सबसे अहम हिस्सा होती हैं और इन आंखों की देखभाल के लिए पिस्ता का प्रयोग किया जा सकता है। पिस्ता में विटामिन – ए की मात्रा पाई जाती है (5)। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, पिस्ता में मौजूद विटामिन ए, आंखों में रंगों की पहचान करने वाले रंजक (pigment) को पैदा करता है। कह सकते हैं, कि पिस्ता के सेवन से आंखों की देखभाल की जा सकती है (6)।

3. वजन घटाने में मददगार

बढ़ते हुए वजन को हर कोई रोकना चाहता है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी, कि पिस्ता खाने के फायदे में वजन घटाने का फायदा भी शामिल है। पिस्ता खाने की सही विधि पर हुए एक शोध के अनुसार, यह देखा गया, कि पिस्ता खाने से कैलोरी की मात्रा को नियंत्रित किया जा सकता है (3)।

4. मधुमेह में कारगर

मधुमेह की समस्या में पिस्ता बादाम अपनी सक्रिय और प्रभावी भूमिका अदा कर सकता है। पिस्ता खाने की विधि पर आधारित एक वैज्ञानिक रिपोर्ट के मुताबिक कहा गया है, कि पिस्ता बादाम के उपयोग से मेटाबॉलिक स्थिति में सुधार किया जा सकता है। जिससे टाईप 2 डायबिटीज के इलाज में प्रभावी मदद मिल सकती है। वैज्ञानिक शोध के अनुसार, पिस्ता बादाम खाने के बाद यह देखा गया कि मधुमेह को नियंत्रित करने में पिस्ता का सेवन प्रभावी रूप से काम कर सकता है (1)।

5. सूजन में आरामदायक

Pista for Comfortable in swelling in hindi Pinit

Shutterstock

शरीर पर चोट लग जाने की वजह से, कभी-कभी प्रभावित जगह में सूजन आ जाती है। लेकिन पिस्ता बादाम का उपयोग करके, सूजन से आराम पाया जा सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, यह कहा गया है, कि पिस्ता बादाम में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी एंड एंटीऑक्सीडेंट गुण सूजन से राहत पहुंचाने का काम कर सकते हैं (7)।

6. मस्तिष्क स्वास्थ्य और तंत्रिका तंत्र में सहायक

पिस्ता बादाम खाने से मस्तिष्क स्वास्थ्य और तंत्रिका तंत्र को बेहतर बनाया जा सकता है। पिस्ता में थायमिन विटामिन मौजूद होता है (5)। थायमिन एक जरूरी पोषक तत्व है, जो कार्बोहाइड्रेट को ऊर्जा में बदलने का का काम करता है, जिससे दिमाग को ऊर्जा प्राप्त होती है और दिमाग की कार्यप्रणाली में भी सुधार होता है (8)।

7. कैंसर का खतरा कम करने में सहायक

पिस्ता का प्रयोग कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए भी किया जा सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के मुताबिक, पिस्ता केमो प्रिवेंटिव (chemopreventive) गुणों से समृद्ध होता है, जो कैंसर के जोखिम को कई गुना तक कम कर सकता है (9)।

8. प्रतिरक्षा को बढ़ावा देता है

पिस्ता के लाभ में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता के विकास का भी फायदा हो सकता है। पिस्ता में विटामिन ए और आयरन मौजूद होता है (5)। एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक यह बताया गया है कि विटामिन ए और आयरन शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है। इस प्रकार पिस्ता के लाभ के जरिए आयरन के सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सकती है (10) ।

9. हीमोग्लोबिन के लिए अच्छा होता है

Pista Good for hemoglobin in hindi Pinit

Shutterstock

सही से खान-पान न करने के कारण खून में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि हीमोग्लोबिन के लिए भी पिस्ता के गुण का इस्तेमाल किया जा सकता है। एक अध्ययन के मुताबिक, यह कहा गया है कि हीमोग्लोबिन की कमी, आयरन की कमी के कारण होती है और पिस्ता के सेवन से हमारे शरीर में आयरन की पर्याप्त मात्रा पहुंचेगी, जिससे हीमोग्लोबिन बढ़ सकता है (11)।

10. हड्डी को मजबूत बनाने में

विटामिन डी की कमी के कारण हड्डियां कमजोर हो जाती हैं, लेकिन हड्डी को मजबूत बनाने में पिस्ता काम आ सकता है क्योंकि पिस्ता में कैल्शियम मौजूद होता है (5)। हालांकि, पिस्ता कैसे खाना चाहिए इस बात को भी ध्यान में रखना है। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, यह कहा गया है, कि हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए कैल्शियम की आवश्यकता होती है। पिस्ता के सेवन से हमारे शरीर में कैल्शियम की प्राप्ति होगी, जो हड्डियों के स्वास्थ्य में काम आ सकती है (12)।

11. यौन स्वास्थ्य में लाभदायक

यौन स्वास्थय को बेहतर बनाने के लिए पिस्ता का प्रयोग किया जा सकता है और पिस्ता खाने से यौन स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है। एक शोध के अनुसार, यह कहा गया है, कि एक मुट्ठी पिस्ता, रोज खाने से यौन स्वास्थ्य में तेजी से परिवर्तन आ सकता है (13)।

12. एस्ट्रोजन का स्तर संतुलित करे

Pista for Balance estrogen levels in hindi Pinit

Shutterstock

एस्ट्रोजन एक प्रकार का हार्मोन होता है, जो महिला और पुरुष दोनों में पाया जाता है। इसकी ज्यादा मात्रा महिलाओं में होती है (14)। शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर सामान्य से अधिक होने पर कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आप स्वादिष्ट पिस्ता पर भरोसा कर सकते हैं। हालांकि, इस संबंध में ज्यादा वैज्ञानिक अध्ययन नहीं हुआ है, लेकिन एक शोध में जरूर इसकी पुष्टि की गई है कि पिस्ता के सेवन से एस्ट्रोजन के स्तर को संतुलित रखा जा सकता है (15)।

13. गर्भावस्था और ब्रेस्टफीडिंग में पिस्ता का उपयोग

पिस्ता में मौजूद राइबोफ्लेविन गर्भवती महिलाओं को गर्भधारण के दौरान एक स्वस्थ खुराक प्रदान कर सकता है। राइबोफ्लेविन एक जरूरी पोषक तत्व है, जो जन्म के समय नवजात के वजन और लंबाई पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है (5), (16)।

वहीं, पिस्ता का प्रयोग ब्रेस्टफीडिंग के दौरान शिशुओं के लिए आयरन की पूर्ति करता है। इसलिए ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पिस्ता का सेवन लाभदायक हो सकता है (5), (17)।

14. त्वचा के लिए उपयोगी

त्वचा के लिए भी पिस्ता के फायदे देखे जा सकते हैं (18)। एक शोध के मुताबिक, पिस्ता में गामा-टोकोफेरॉल (gamma-tocopherol) नामक खास पोषक तत्व मौजूद होता है, जो विटामिन ई का बढ़िया स्रोत होता है (19)। और विटामिन ई चेहरों पर पड़े भूरे निशान और त्वचा के कठोर हो जाने पर इसके उपचार में लाभदायक हो सकता है (20)।

15. बालों के स्वास्थ्य के लिए

Pista for Hair health in hindi Pinit

Shutterstock

पिस्ता के उपयोग से बालों की भी देखरेख की जा सकती है। पिस्ता में कई ऐसे पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं, जो बालों को स्वस्थ बनाने में मदद कर सकते हैं। पिस्ता में मौजूद गामा-टोकोफेरॉल विटामिन ई का बढ़िया स्रोत है (19) और एक शोध के मुताबिक विटामिन ई, बालों की कोशिका झिल्ली को मजबूती प्रदान करने में मदद करता है, जिससे बालों का झड़ना कम हो सकता है (21)।

नीचे दी गई सारणी के माध्यम से पिस्ता में मौजूद पौष्टिक तत्वों के बारे में पढ़िए।

पिस्ता के पौष्टिक तत्व – Pistachios Nutritional Value in Hindi

पिस्ता में मौजूद पोषक तत्व इस प्रकार हैं (5)।

पोषक तत्वमात्रा प्रति ग्राम
ऊर्जा533g
प्रोटीन20.00g
कुल लिपिड (वसा)46.67g
कार्बोहाइड्रेट26.67g
फाइबरटोटलडाइटरी10.0g
शुगरकुल6.67g
विटामिन्स
विटामिनसी0.0mg
थायमिन1.000mg
राइबोफ्लेमिन1.133mg
विटामिनए
मिनरल्स
कैल्शियम133mg
आयरन3.60mg
मैग्नीशियम133mg
फास्फोरस500mg
पोटैशियम1033g
सोडियम533mg
कॉपर1.333mg
लिपिड्स
फैटीएसिड , टोटलसैचुरेटेड5.000g
फैटीएसिड, टोटलमोनोअनसैचुरेटेड23.330g
फैटीएसिड, टोटलपॉलीअनसैचुरेटेड13.330g
फैटीएसिड्स टोटलट्रांस0.000g
कोलेस्ट्रॉल0mg

पिस्ता का उपयोग – How to Use Pistachios in Hindi

पिस्ता एक सूखा मेवा है, जिसे आप रोजाना खा सकते हैं। पिस्ता कैसे खाना चाहिए, पिस्ता कब खाना चाहिए और इसे खाने के लाभ के बारे में अभी आपने ऊपर पढ़ा भी है। पिस्ता के अन्य कई उपयोग भी हैं। नीचे दिए गए बिन्दुओं को ध्यान से पढ़िए और जानिए कि पिस्ता का इस्तेमाल और किस प्रकार से किया जा सकता है।

  • कटोरी में रात को एक मुट्ठी पिस्ता भिगो दें आप सुबह इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • पिस्ता को आप खीर जैसे मीठे पकवानों को बनाने में भी उपयोग कर सकते हैं।
  • पिस्ता का उपयोग आप घर में बनने वाली मिठाई में भी कर सकते हैं।
  • पिस्ता का उपयोग मुंह की दुर्गन्ध को भी दूर करने के लिए किया जा सकता है।

पिस्ता के पौष्टिक तत्व और उपयोग को पढ़ने के बाद अब आगे पिस्ता से होने वाले नुकसान के बारे में भी जानते हैं।

पिस्ता के नुकसान – Side Effects of Pista in Hindi

पिस्ता एक लाभदायक ड्राई फ्रूट है, जो आपको कई तरीके से फायदे पहुंचा सकती है, लेकिन पिस्ता कैसे खाना चाहिए, पिस्ता कब खाना चाहिए को बिना जाने और अत्यधिक मात्रा में इसका सेवन करने से यह नुकसानदायक भी हो सकता है।

  • पिस्ता में पोटैशियम की पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है (5)। अगर आप इसका अत्यधिक सेवन करते हैं, तो यह हाइपरकलेमिया नामक बीमारी को जन्म देता है। हाइपरकलेमिया, एक ऐसी स्थिति है, जिसमें सांस लेने में समस्या होती है और सीने में दर्द भी होता है (22)। इसलिए, पिस्ता का सेवन सीमित मात्रा में ही करें।
  • पिस्ता में आयरन भी मौजूद होता है (5) और पिस्ता का अत्यधिक सेवन आयरन के अत्यधिक सेवन का कारण बन सकता है। शरीर में आयरन की अधिक मात्रा, बच्चों के लिए हानिकारक हो सकती है (23)।

यह तो आप मानेंगे ही कि पिस्ता गुणों का खजाना है। अगर इसे सीमित मात्रा में खाया जाए, तो यह कई शारीरिक समस्याओं में रामबाण इलाज साबित हो सकता है। इसलिए, जब आप अगली बार ड्राई फ्रूट्स खरीदने बाजार जाएं, तो साथ में थोड़े-से पिस्ता भी जरूर ले आएं। फिर चाहे आप इसे ऐसे ही खाएं या फिर पकवान बनाएं। बेशक, पिस्ता गुणकारी है, लेकिन जरूरत से ज्यादा खाने पर नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसे कैसे खाना है, वो हम इस लेख में बता ही चुके हैं। वहीं, अगर आप किसी समस्या से पीड़ित हैं, तो इसका सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर से बात जरूर कर लें। इस विषय में अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए हमसे संपर्क कर सकते हैं।

स्वस्थ रहें, खुश रहें।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Somendra Singh

सोमेंद्र ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से 2019 में बी.वोक इन मीडिया स्टडीज की है। पढ़ाई के दौरान ही इन्होंने पढ़ाई से अतिरिक्त समय बचाकर काम करना शुरू कर दिया था। इस दौरान सोमेंद्र ने 5 वेबसाइट पर समाचार लेखन से लेकर इन्हें पब्लिश करने का काम भी किया। यह मुख्य रूप से राजनीति, मनोरंजन और लाइफस्टइल पर लिखना पसंद करते हैं। सोमेंद्र को फोटोग्राफी का भी शौक है और इन्होंने इस क्षेत्र में कई पुरस्कार भी जीते हैं। सोमेंद्र को वीडियो एडिटिंग की भी अच्छी जानकारी है। इन्हें एक्शन और डिटेक्टिव टाइप की फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

संबंधित आलेख