घरेलू उपचार

एलर्जिक राइनाइटिस के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय – Allergic Rhinitis (Hay Fever) Causes, Symptoms and Home Remedies in Hindi

by
एलर्जिक राइनाइटिस के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय – Allergic Rhinitis (Hay Fever) Causes, Symptoms and Home Remedies in Hindi Hyderabd040-395603080 October 17, 2019

आपने अक्सर गौर किया होगा कि कुछ लोग धूल, पराग, खास तरह की गंध या किसी जानवर के संपर्क में आते ही छींकने लगते हैं। ऐसा एलर्जी के कारण होता है। समय रहते इसका इलाज न करने पर यह समस्या बढ़कर एलर्जिक राइनाइटिस (Allergic Rhinitis) का रूप ले लेती है। अब आप समझ गए होंगे कि हमारे इस लेख का विषय क्या है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको एलर्जिक राइनाइटिस के बारे में जानकारी देंगे। हम न सिर्फ आपको एलर्जिक राइनाइटिस के कारण बताएंगे, बल्कि एलर्जिक राइनाइटिस के घरेलू उपाय के बारे में भी जानकारी देंगे।

सबसे पहले जानते हैं कि एलर्जिक राइनाइटिस क्या है, क्योंकि जब तक बीमारी के बारे में जानकारी न हो, तब तक उसका इलाज करना मुश्किल है। इसलिए, नीचे पहले इस बीमारी के बारे में जान लेते हैं।

एलर्जिक राइनाइटिस क्या है? – What is Allergic Rhinitis in Hindi

एलर्जिक राइनाइटिस को हे फीवर भी कहा जाता है। यह एक प्रकार की नाक की एलर्जी है, जिसमें व्यक्ति को पराग, धूल-मिट्टी या किसी जानवर के संपर्क में आते ही छींके या आंखों से पानी आना शुरू हो जाता है। इसे सीजनल एलर्जी के नाम से भी जाना जाता (1) (2) (3)।

लेख के इस भाग में हम आपको एलर्जिक राइनाइटिस के कारण की जानकारी देंगे।

एलर्जिक राइनाइटिस के कारण – Causes of Allergic Rhinitis in Hindi

बीमारी का सही इलाज करने से पहले बीमारी क्यों हो रही है, यह जानना जरूरी है। इसका सबसे बड़ा कारण एलर्जेन (Allergen) होता है, जो एक प्रकार का एलर्जी पैदा करने वाला तत्व होता है। यह एलर्जी को ट्रिगर करता है। नीचे हम कुछ एलर्जेन के उदाहरण दे रहे हैं, जो एलर्जिक राइनाइटिस के कारण बन सकते हैं (2) (4)।

  • पराग
  • जानवर के बाल
  • मोल्ड
  • धूल-मिट्टी
  • कीट

आगे जानिए एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षण क्या-क्या हो सकते हैं।

एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षण – Symptoms of Allergic Rhinitis in Hindi

Symptoms of Allergic Rhinitis in Hindi Pinit

Shutterstock

अगर बीमारी के लक्षण पता हों, तो बीमारी का इलाज करना आसान हो सकता है। इसलिए, नीचे हम आपको एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षण की जानकारी दे रहे हैं (1) (5) :

  • छींकना
  • खांसना
  • नाक बहना या नाक बंद होना
  • गले, कान व नाक में खुजली महसूस होना
  • आंखों में खुजली होना या आंखों का लाल हो जाना या पानी आना
  • आंखों के नीचे काले घेरे होना
  • सिरदर्द होना

अब एलर्जिक राइनाइटिस के लिए घरेलू उपाय के बारे में जानते हैं।

एलर्जिक राइनाइटिस के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Allergic Rhinitis (Hay Fever) in Hindi

नीचे हम आपको एलर्जिक राइनाइटिस के लिए घरेलू उपाय के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो आसान होने के साथ-साथ असरदार भी हो सकते हैं।

1. एलर्जिक राइनाइटिस के इलाज के लिए अदरक

Ginger for the treatment of allergic rhinitis Pinit

Shutterstock

सर्दी-जुकाम के दौरान आपने कई बार लोगों को अदरक का सेवन करते देखा होगा। वैसे ही हे फीवर या एलर्जिक राइनाइटिस में भी आप अदरक की चाय या गर्म पानी में अदरक उबालकर, ऊपर से जरूरत के अनुसार नींबू का रस और शहद मिलाकर सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा, आप खाना बनाते वक्त भी अदरक डाल सकते हैं। इससे न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ेगा, बल्कि आपको एलर्जिक राइनाइटिस की समस्या से भी आराम मिलने में मदद मिलेगी। यह न सिर्फ एलर्जिक राइनाइटिस के उपचार में मदद कर सकता है, बल्कि टोटल इम्यूनोग्लोबिन (Immunoglobulin E – IgE), जो कि एंटीबॉडीज होते हैं, उसे कम करने में मदद कर सकता है (6)। अगर शरीर में एंटीबॉडी की मात्रा बढ़ जाए, तो व्यक्ति को एलर्जिक रिएक्शन हो सकता है (7)।

2. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए तुलसी

तुलसी के पत्तों का उपयोग न सिर्फ पूजा में किया जाता है, बल्कि इसे औषधि के रूप में भी उपयोग किया जाता रहा है। सर्दी-जुकाम हो, बुखार हो या अन्य कोई स्वास्थ्य संबंधी समस्या, तुलसी खाने या तुलसी का काढ़ा पीने की सलाह दी जाती है। ऐसे में अगर बात करें एलर्जिक राइनाइटिस की, तो इस समस्या से राहत पाने के लिए भी आप तुलसी की चाय या हर रोज कुछ तुलसी के पत्तों का सेवन कर सकते हैं। तुलसी में एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और साथ ही एंटी-एलर्जी गुण भी होते हैं (8)। ऐसे में तुलसी के सेवन से एलर्जी की समस्या से राहत मिल सकती है। हालांकि, इस पर कोई शोध या प्रमाण नहीं है, लेकिन इसके उपयोग से नुकसान न के बराबर हैं, बल्कि इससे आपको लाभ ही मिलेगा।

3. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए नमक का पानी

Salt water for allergic rhinitis Pinit

Shutterstock

आप एलर्जिक राइनाइटिस से राहत पाने के लिए गुनगुने पानी में चुटकी भर नमक और बेकिंग सोडा मिलाकर जल नेति क्रिया कर सकते हैं। आप मेडिकल स्टोर से सेलाइन नोज ड्रॉप भी खरीद सकते हैं। इस ड्रॉपर की मदद से नमक-बेकिंग सोडा का पानी एक नाक में डालकर दूसरी नाक से निकालना होगा। यह प्रक्रिया मुश्किल हो सकती है, इसलिए बेहतर होगा इसके उपयोग के बारे में आप किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर की सलाह लें। सलाइन नेजल इर्रिगेशन या नमक पानी का उपयोग एलर्जिक राइनाइटिस में असरदार साबित हो सकता है, यह न सिर्फ एक थेरेपी की तरह है, बल्कि असरदार भी है (9)।

4. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए प्याज

आप एलर्जिक राइनाइटिस से राहत पाने के लिए प्याज का सेवन भी कर सकते हैं। प्याज में एंटी-हिस्टामिन (Antihistamine, जो एलर्जिक राइनाइटिस को कम कर सकता है), एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं (10) (11)। इससे एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षण और उसका असर कम होने में मदद मिल सकती है। आप अपने आहार में कच्चे प्याज को शामिल कर सकते हैं।

5. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए हल्दी

Turmeric for allergic rhinitis Pinit

Shutterstock

हल्दी को कई सालों से आयुर्वेदिक औषधि की तरह उपयोग किया जाता रहा है। एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षण से बचाव के लिए आप रात को सोने से पहले हल्दी दूध का सेवन कर सकते हैं। हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं, जो ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस, जो कई बीमारियों का कारण होता है, उसे कम करने में मदद करता है और एलर्जिक राइनाइटिस की समस्या को कम करने में मदद मिल सकती है (12)।

6. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए घी

Ghee for Allergic Rhinitis Pinit

Shutterstock

आप एलर्जिक राइनाइटिस से बचाव के लिए घी को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं या रात को सोने से पहले थोड़ा घी अपनी नाक में लगा सकते हैं। आयुर्वेद के अनुसार, गाय का घी कई प्रकार की एलर्जी, त्वचा संबंधी और सांस संबंधी समस्याओं से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (13)। हालांकि, यह एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षणों को कम करने में कितना सहायक है, इसके लिए अभी शोध की जरूरत है।

7. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए पिपरमिंट ऑयल

आजकल कई लोग बीमारियों के लिए कई तरह के एसेंशियल ऑयल से अरोमाथेरपी का भी सहारा लेते हैं। अगर बात करें एलर्जिक राइनाइटिस की, तो इस समस्या में भी एसेंशियल ऑयल मददगार साबित हो सकता है। एलर्जिक राइनाइटिस के लिए आप पिपरमिंट ऑयल की स्टीम ले सकते हैं, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो एलर्जिक राइनाइटिस में लाभकारी हो सकते हैं (14)।

8. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए भाप

Steam for allergic rhinitis Pinit

Shutterstock

स्टीम यानी भाप एलर्जिक राइनाइटिस के सबसे आसान घरेलू उपायों में से एक है। आप एक बड़े पतीले में गर्म पानी करके उसकी भाप ले सकते हैं। भाप लेते वक्त अपने सिर को तौलिए से ढक लें। इससे एलर्जिक राइनाइटिस के दौरान बंद नाक की समस्या ठीक हो सकती है। इसके अलावा, आप स्टीम बाथ भी ले सकते हैं (15) (16)।

9. एलर्जिक राइनाइटिस के लिए शहद

सामान्य सर्दी-जुकाम में शहद फायदेमंद होता है और इसे कई सालों से कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए उपयोग किया जाता रहा है। एलर्जिक राइनाइटिस के लिए भी शहद का सेवन लाभकारी हो सकता है। यह एलर्जिक राइनाइटिस के लिए थेरेपी की तरह काम कर सकता है (17) (18)।

एलर्जिक राइनाइटिस के घरेलू उपाय जानने के बाद अब बारी आती है, एलर्जिक राइनाइटिस में बचाव करने के बारे में जानने की।

एलर्जिक राइनाइटिस में परहेज – What to Avoid During Allergic Rhinitis in Hindi

एलर्जिक राइनाइटिस के इलाज के बारे में आपने ऊपर जाना, लेकिन घरेलू उपाय के बाद यह आपको दोबारा परेशान न करे, उसके लिए इससे बचाव करना भी जरूरी है। वैसे तो कई परहेज कई हैं, लेकिन हम कुछ सामान्य और महत्वपूर्ण परहेज के बारे में बता रहे हैं (1)।

  • धूल-मिट्टी से दूर रहें और घर में साफ-सफाई रखें।
  • जानवरों और कीड़े-मकोड़ों से दूर रहें।
  • पराग के मौसम में या बदलते मौसम में ज्यादा बाहर जाने से बचें।
  • बाहर के खेलकूद व अन्य गतिविधियों जैसे – गार्डनिंग करना या घास काटने से दूर रहें, खासकर जिस मौसम में ज्यादा पराग उड़ते हों।
  • अब बारी आती है एलर्जिक राइनाइटिस से बचने के उपाय जानने की।

एलर्जिक राइनाइटिस से बचने के उपाय – Prevention Tips for Allergic Rhinitis (Hay Fever) in Hindi

अगर आप चाहते हैं कि एलर्जिक राइनाइटिस आप से कैसे दूर रहे, तो नीचे बताए गए टिप्स को फॉलो करें। हालांकि, यह टिप्स कुछ-कुछ ऊपर बताए गए एलर्जिक राइनाइटिस में परहेज से मिलते-जुलते ही हैं (1) (19)।

  • अपनी नाक को ज्यादा न छुए या न रगड़ें।
  • अपने हाथों को साबुन या हैंडवॉश से धोएं।
  • एलर्जी से बचने के लिए अपने चादर, पिलो कवर और कपड़ों को गर्म पानी में डिटर्जेंट से धोएं।
  • अपने बेडरूम से पालतू जानवरों को दूर रखें, ताकि आप एलर्जी से बच सकें।
  • बाहर जाने से पहले चश्मा लगाएं या टोपी पहनें, ताकि पराग या धूल आपकी आंखों में न जाए।
  • बदलते मौसम में अपने घर के खिड़की दरवाजे बंद रखें।
  • आंखों को ठंडे पानी से धोएं, ताकि आपकी आंखें एलर्जेन से बची रहें।
  • बाहर से आने के बाद नहाएं या अच्छे से मुंह-हाथ धोएं।
  • चादर और कपड़ों को अच्छे से सुखाएं।

एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षण काफी परेशानी वाले होते हैं, लेकिन अगर ऊपर बताए गए एलर्जिक राइनाइटिस के घरेलू उपाय की मदद से इन लक्षणों का असर काफी हद तक ठीक हो सकता है। साथ ही इस लेख में बताए गए एलर्जिक राइनाइटिस से बचाव के टिप्स को फॉलो कर इस समस्या से आप दूर रह सकते हैं। आशा करते हैं कि इस लेख में बताए गए एलर्जिक राइनाइटिस के इलाज से आपको सहायता मिलेगी। इसके साथ ही अगर आपके पास भी एलर्जिक राइनाइटिस के घरेलू उपाय, इलाज या बचाव के टिप्स हैं, तो उन्हें भी हमारे साथ नीचे कॉमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते हैं।

The following two tabs change content below.

Arpita Biswas

अर्पिता ने पटना विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया है। इन्होंने 2014 से अपने लेखन करियर की शुरुआत की थी। इनके अभी तक 1000 से भी ज्यादा आर्टिकल पब्लिश हो चुके हैं। अर्पिता को विभिन्न विषयों पर लिखना पसंद है, लेकिन उनकी विशेष रूचि हेल्थ और घरेलू उपचारों पर लिखना है। उन्हें अपने काम के साथ एक्सपेरिमेंट करना और मल्टी-टास्किंग काम करना पसंद है। इन्हें लेखन के अलावा डांसिंग का भी शौक है। इन्हें खाली समय में मूवी व कार्टून देखना और गाने सुनना पसंद है।

संबंधित आलेख