घरेलू उपचार
Stylecraze

ड्राई स्कैल्प से राहत पाने के 10 घरेलू उपाय – Home Remedies To Get Rid Of Dry Scalp

by
ड्राई स्कैल्प से राहत पाने के 10 घरेलू उपाय – Home Remedies To Get Rid Of Dry Scalp Hyderabd040-395603080 February 7, 2019

जरा सोचिए, आप अपनी किसी जरूरी मीटिंग में हों और आपके सिर में लगातार तेज खुजली होने लगे। यकीन मानिए, यह अवस्था शर्मिंदगी भरी होती है। वास्तव में कुछ लोगों के साथ ऐसा होता है और सिर में खुजली होना कोई मामूली बात नहीं है। कई लोग बुरी तरह से इससे त्रस्त होते हैं और जगह-जगह इसका इलाज ढूंढते रहते हैं। कभी डॉक्टर के पास तो कभी शैंपू बदलकर या फिर कभी घरेलू उपचार अपनाकर, वो सिर की खुजली से छुटकारा पाने का प्रयास करते हैं। बेशक, कुछ को इससे आराम मिल जाए, लेकिन सभी के साथ ऐसा होना संभव नहीं है।

विषय सूची


आपको बता दें कि सिर में खुजली ज्यादातर रूखेपन यानी ड्राई स्कैल्प के कारण होती है, जो वाकई में परेशानी पैदा करती है। ऐसे में जरूरी है कि आप इस समस्या से राहत पाने के लिए तुरंत कारगर उपाय करें, ताकि बाहर जाकर किसी के सामने आपको शर्मिंदगी महसूस न हो। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम ड्राई स्कैल्प के कारण होने वाली खुजली के इलाज के बारे में बताएंगे। हम रूखे स्कैल्प के लिए कुछ असरदार घरेलू उपाय भी आपको बताएंगे।

सबसे पहले तो आइए जानते हैं रूखे स्कैल्प होने का क्या कारण है।

ड्राई स्कैल्प के कारण – What Causes Dry Scalp In Hindi

जब सिर की तैलीय ग्रंथियां ठीक से तेल उत्पादन करने में सक्षम नहीं होती हैं, तो स्कैल्प में रूखापन आ जाता है। इसके निम्न कारण हो सकते हैं :

  • कठोर शैंपू का लंबे समय तक उपयोग, जिनमें अधिक रासायन होते हैं।
  • फंगल इन्फेक्शन।
  • कठोर पानी का इस्तेमाल।
  • पोषक तत्वों की कमी।
  • मौसम का प्रभाव।
  • बालों के स्टाइल के लिए अत्यधिक उत्पादों का इस्तेमाल करना।
  • बालों की देखभाल न करना, नियमित रूप से तेल न लगाना आदि।

नीचे हम आपको ड्राई स्कैल्प से राहत पाने के घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं, जो इस समस्या से राहत देंगे।

ड्राई स्कैल्प के लिए घरेलू उपचार – Home Remedies for Dry Scalp in Hindi

1. टी-ट्री शैंपू

Tea-Tree Shampoo for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • टी-ट्री ऑयल
  • शैंपू

क्या करें?

  • अपने शैंपू में टी-ट्री ऑयल की कुछ बूंदें डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • फिर जब भी सिर धोएं, तो इसी शैंपू का इस्तेमाल करें।

ऐसा कब-कब करें?

आप सप्ताह में दो बार इस शैंपू से अपना सिर धोएं।

यह कैसे काम करता है?

जब रूखापन फंगल इन्फेक्शन के कारण हो, तो टी-ट्री ऑयल बेहतर विकल्प है, क्योंकि इसमें एंटीफंगल गुण मौजूद हैं। इसके अलावा, यह प्राकृतिक तेल उत्पान में भी मदद करता है (1)।

2. सेब का सिरका

Apple Cider Vinegar for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • दो से तीन चम्मच सेब का सिरका
  • थोड़ी-सी रूई

क्या करें?

  • रूई की मदद से अपने सिर पर सेब का सिरका लगाएं।
  • फिर उंगलियों की मदद से दो से तीन मिनट सिर की मालिश करें।
  • इसके बाद इसे 10 मिनट तक लगा छोड़ दें, फिर ठंडे पानी से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार से ज्यादा न दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

एस्ट्रिंजेंट होने के कारण सेब का सिरका त्वचा को साफ कर हानिकारक जीवाणु दूर करता है और त्वचा के पीएच स्तर को भी संतुलित रखता है (2)। इससे सिर की तैलीय ग्रंथियां सामान्य तरीके से काम करती हैं और रूखी त्वचा से राहत मिलती है।

सावधानी

अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो सेब के सिरके में बराबर मात्रा में पानी मिलाकर सिर पर लगा सकते हैं। आप चाहें तो इस मिश्रण में थोड़ा-सा शहद भी मिला सकते हैं।

3. तेल

Oil for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • नारियल तेल या जैतून का तेल या बेबी ऑयल या ऑर्गन ऑयल या मोरोक्कन ऑयल
  • कुछ बूंदें टी-ट्री ऑयल (वैकल्पिक)

क्या करें?

  • अपनी पसंद का कोई भी एक तेल कटोरी में लेकर इसे हल्का-सा गर्म कर लें।
  • इसमें टी-ट्री ऑयल डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • फिर इसे अपने सिर पर लगाकर पांच से सात मिनट के लिए मालिश करें।
  • इस तेल को शैंपू करने से एक घंटा पहले लगाएं। बेहतर परिणाम के लिए आप इसे शैंपू करने से एक रात पहले भी लगा सकते हैं।

ऐसा कब-कब करें?

ड्राई स्कैल्प के उपाय के लिए आप सप्ताह में दो बार ये तेल अपने सिर पर लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

ड्राई स्कैल्प के उपाय के तौर पर तेल लगाने की यह तरकीब काफी असरदार है। तेल रूखे स्कैल्प को हाइड्रेट रखने में मदद करता है। सिर पर तेल लगाने से त्वचा पर नमी आती है। जब स्कैल्प से प्राकृतिक तेल उत्पादन ठीक से नहीं होता, तो तेल लगाने से रूखापन दूर करने में मदद मिलती है (3, 4, 5, 6)।

4. रूखी त्वचा के लिए जूस

नींबू का रस

Lemon Juice for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

● आधा चम्मच नींबू

क्या करें?

● नींबू को सिर पर दबाकर रगड़ें।
● रगड़ने के बाद इसके रस को पांच मिनट तक लगा छोड़ दें।
● फिर बालों को सामान्य तरीके से धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

ड्राई स्कैल्प के उपाय के तौर पर आप यह प्रक्रिया सप्ताह में दो बार दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

नींबू का रस एस्ट्रिंजेंट के रूप में काम करता है और स्कैल्प के पीएच स्तर को भी बनाए रखता है। इसके अलावा, यह डैंड्रफ के कारण होने वाले फंगल इन्फेक्शन से बचाता है (7)।

सेब का जूस

Apple Juice for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक से दो सेब का रस

क्या करें?

  • सेब का रस निकाल कर बालों में लगा लें।
  • इसे 10 मिनट तक बालों में लगा रहने दे और फिर सादे पानी से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में एक से दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

सेब के जूस में हल्का एसिड होता है, जो स्कैल्प से मृत और रूखी त्वचा को दूर सकता है। यह स्कैल्प के पीएच को भी ठीक रखने में मदद करता है (8)।

प्याज का रस

Onion Juice for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • ¼ कप प्याज का रस
  • एक चम्मच शहद
  • रूई

क्या करें?

  • प्याज को घिसकर उसका रस निकाल लें।
  • इस रस में शहद डालकर अच्छी तरह मिलाएं।
  • फिर इस मिश्रण को रूई की मदद से अपनी स्कैल्प पर लगाएं और 15 से 30 मिनट तक लगा छोड़ दें।
  • फिर शैंपू से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

शुरुआत में प्याज के रस को सप्ताह में दो बार अपने सिर पर लगाएं। जब आपको असर नजर आने लगे, तो दो सप्ताह में एक बार इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

प्याज में मौजूद उच्च सल्फर डैंड्रफ के कारण होने वाले रूखेपन को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा, प्याज बालों की वृद्धि में भी मददगार होता है (9, 10)।

एलो वेरा जूस

Aloe Vera Juice for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एलोवेरा का एक पत्ता
  • पानी

क्या करें?

  • एलोवेरा की पत्ते में से उसका जेल निकाल लें।
  • फिर इसमें पानी मिलाकर जूस बना लें।
  • इस जूस को अपने बालों और स्कैल्प पर लगाकर कुछ मिनट के लिए मालिश करें।
  • मालिश के बाद 20 मिनट तक इसे लगा छोड़ दें और फिर सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

ड्राई स्कैल्प के उपाय के लिए इस प्रक्रिया को आप सप्ताह में दो बार दोहरा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

एलोवेरा रूखी और खुजली वाली स्कैल्प को राहत दिलाने में मदद करता है। इसमें एमिनो एसिड, विटामिन, शुगर और फैटी एसिड होते हैं, जो त्वचा को पोषण देते हैं। इसके अलावा, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुण भी होते हैं (11)। सप्ताह में एक बार इसका सेवन करने से आपके बाल स्वस्थ और चमकदार हो जाएंगे।

5. योगर्ट और अंडा

Yogurt and Egg for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक अंडा
  • दो से तीन चम्मच बिना फ्लेवर का योगर्ट
  • एक चम्मच शहद

क्या करें?

  • अंडे और योगर्ट को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इसमें शहद डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • इस पेस्ट को अपने सिर पर और बालों में लगाएं।
  • आधे घंटे तक इसे अपने सिर पर लगा रहने दें और फिर सामान्य शैंपू से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

बेहतर परिणाम के लिए सप्ताह में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

योगर्ट आपके सिर को साफ कर मृत व रूखी त्वचा दूर करता है। यह छिद्रों को भी खोलने में मदद करता है, जिससे तैलीय ग्रंथियां सामान्य तरीके से काम करने लगती हैं (12, 13)। वहीं, अंडे में फैट और प्रोटीन होता है, जो बालों को पोषण देता है (14)।

6. लिस्ट्रिन

Listerin for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • आधा कप लिस्ट्रिन
  • आधा कप पानी

क्या करें?

  • पहले अपने बालों को अच्छी तरह धोकर सुखा लें।
  • अब पानी में लिस्ट्रिन मिलाकर अपने सिर पर लगाएं।
  • इस दौरान उंगलियों की मदद से सिर की पांच मिनट तक मालिश करें।
  • अब सादे पानी से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में एक बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

लिस्ट्रिन में एंटीसेप्टिक और एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो सिर के सभी हानिकारक बैक्टीरिया को मारता है। इसके अलावा, यह सिर में होने वाली खुजली से भी राहत दिलाता है (15)।

7. मेयोनीज

Mayonnaise for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • आधा कप मेयोनीज
  • शॉवर कैप

क्या करें?

  • अपने सिर पर मेयोनीज लगाकर 15 से 20 मिनट के लिए शॉवर कैप पहन लें।
  • फिर गुनगुने पानी से सिर धोकर मेयोनीज निकाल दें।
  • इसके बाद शैंपू से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को कुछ समय के लिए सप्ताह में एक बार करें।

यह कैसे काम करता है?

मेयोनीज में ऑयल और फैट होता है, जो सिर को कंडीशन करने में मदद करता हैं (16)। इसकी मदद से सिर का रूखापन जल्दी दूर हो सकता है।

8. बेकिंग सोडा

Baking Soda for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • तीन से चार चम्मच बेकिंग सोडा
  • गुलाब जल

क्या करें?

  • बेकिंग सोडा और गुलाब जल को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इसे अपने सिर पर लगाकर दो से तीन मिनट तक अच्छी तरह मालिश करें।
  • फिर ठंडे पानी से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

बेकिंग सोडा में एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुण के साथ-साथ ऐसे गुण भी होते हैं, जो सिर का पीएच स्तर बनाए रखने में मदद करते हैं। यह एक बेहतर एक्सफोलिएट भी है (17, 18, 19)। इसका इस्तेमाल सिर्फ प्राकृतिक तेल उत्पादन के लिए ही नहीं किया जाता, बल्कि इससे बाल भी बढ़ते हैं।

9. विटामिन-ई

Vitamin-E for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • विटामिन-ई के पांच-दस कैप्सूल

क्या करें?

  • सावधानीपूर्वक विटामिन-ई के कैप्सूल में सुराख करके तेल एक कटोरी में निकाल लें।
  • इसे अपने सिर पर लगाकर पांच-दस मिनट के लिए मालिश करें।
  • इसे अपने सिर पर एक घंटे तक लगाकर रखें और फिर सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

विटामिन-ई सिर को हाइड्रेट रखता है और मुक्त कणों से भी बचाता है (20)। इसे लगातार प्रयोग करने से यह रक्त संचरण में भी सुधार लाता है (21)।

10. ओलिव ऑयल और अंडा

Olive oil and Egg for Dry Scalp in Hindi Pinit

Shutterstock

इसके लिए आपको चाहिए :

  • एक अंडे की जर्दी
  • दो-तीन चम्मच ओलिव ऑयल
  • एक चम्मच नींबू का रस

क्या करें?

  • अंडे की जर्दी में सभी सामग्रियों को अच्छी तरह मिला लें।
  • इस मिश्रण को अपने सिर पर लगाकर 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर शैंपू और गुनगुने पानी से सिर धो लें।
  • इसके बाद ठंडे पानी से सिर धो लें।

ऐसा कब-कब करें?

इस मास्क का इस्तेमाल आप सप्ताह में एक बार कर सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

रूखी त्वचा के लिए अंडे की जर्दी काफी फायदेमंद होती है, क्योंकि इसमें विटामिन-ए और लेसिथिन स्टेरोल्स होते हैं। इसके अलावा, यह त्वचा को मुलायम भी बनाती है (22, 23)।

वहीं, ओलिव ऑयल में फैटी एसिड होता है, जो रूखी त्वचा को पोषण देता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो मुक्त कणों, बैक्टीरिया और प्रदूषण के कारण होने वाले नुकसान से बचाता है (24)।

इन उपायों के अलावा, आप ड्राई स्कैल्प से राहत पाने के लिए भरपूर मात्रा में पानी पिएं। इससे आपकी त्वचा हाइड्रेट रहेगी। इसके अलावा, अपने खानपान में नट्स, अंडे, सी-फूड, चिकन, टोफू, डेयरी उत्पाद, सोयाबीन, कैनोला ऑयल, पपीता, संतरा और हरी सब्जियां शामिल करें। इससे आपके शरीर में जिंक, आयरन, विटामिन और ओमेगा-3 फैटी एसिड की कमी पूरी होगी, जो स्कैल्प के लिए जरूरी है। अगर आपको पौषक तत्वों की कमी के कारण सिर पर रूखापन आ रहा है, तो इन चीजों के सेवन से आपको काफी फायदा मिलेगा।

नीचे हम इससे संबंधित कुछ प्रश्नों पर विशेषज्ञों के जवाब आपको बता रहे हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या ड्राई स्कैल्प से बाल झड़ते हैं?

हां, स्कैल्प का रूखापन आपके बालों की वृद्धि में बाधा पहुंचाता है और आपके बालों के रोम को कमजोर करता है। इस कारण बाल झड़ने लगते हैं।

ड्राई स्कैल्प कैसी दिखाई देती है?

स्कैल्प रूखी होने से सिर की त्वचा पर सफेद चकत्ते पड़ने लगते हैं और खुजली होती है।

ड्राई स्कैल्प और डैंड्रफ में क्या अंतर है?

ड्राई स्कैल्प में जहां छोटी-छोटी सफेद पपड़ी निकलती है, तो वहीं डैंड्रफ में बड़ी और चिपचिपी पपड़ी निकलती है। डैंड्रफ के कारण फंगल इन्फेक्शन भी हो सकता है।

ड्राई स्कैल्प और सोरायसिस के बीच अंतर क्या है?

ड्राई स्कैल्प में आपके सिर की त्वचा रूखी हो जाती है और इसमें खुजली के साथ सफेद पपड़ी निकलने लगती है। वहीं, अगर आपको सोरायसिस है, तो सिर खुजलाने पर खून निकल सकता है। इसके अलावा, ऐसे में सूजन, त्वचा लाल और संवेदनशील हो जाती है।

रूखी स्कैल्प के लिए बेहतर शैंपू कौन सा है?

आप ऐसा हाइड्रेटिंग शैंपू का चयन करें, जो स्कैल्प को पोषण दे। रसायन युक्त शैंपू से दूर रहें, जो आपकी समस्या को और गंभीर कर सकता है।

रूखे स्कैल्प पर नमक लगाने से क्या होगा?

स्कैल्प पर नमक डालकर मालिश करने से रूखेपन और पपड़ी की समस्या से राहत पाने में मदद मिलेगी। नमक में हल्के एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो त्वचा को एक्सफोलिएट करते हैं, लेकिन नमक लगाने के बाद शैंपू से सिर धोना न भूलें।

लाल निशान और रूखी स्कैल्प से राहत पाने के लिए मैं क्या लगाऊं?

त्वचा पर जमा मृत कोशिकाएं छिद्रों को बंद करती हैं और स्कैल्प पर लाल थक्के बनने लगते हैं। ये थक्के संक्रमित भी हो सकते हैं, जिससे मुंहासे हो जाते हैं। टी ट्री शैंपू और सेब के सिरके से किए जाने वाले उपचार इन थक्कों और रूखेपन को दूर करते हैं। आप टी-ट्री ऑयल में कैरियर ऑयल मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

रंगे हुए बाल और ड्राई स्कैल्प के लिए क्या करें?

ऊपर बताए गए ज्यादातर उपचार रंगे हुए बाल और ड्राई स्कैल्प दोनों के लिए अपनाए जा सकते हैं। हॉट ऑयल ट्रीटमेंट, एलोवेरा और मेयोनीज रंगे हुए बालों के लिए बेहतर है, क्योंकि इससे बालों के रंग पर कोई असर नहीं पड़ता। रूखे बालों के लिए ऐसा कोई उपचार न अपनाएं, जिसमें एसिड हो जैसे नींबू का रस या सेब का सिरका आदि।

नवजात शिशु की रूखी स्कैल्प के लिए क्या करें?

वर्जिन नारियल तेल या बादाम का तेल नवजात के लिए सुरक्षित होता है। आप इन तेल से शिशु के सिर की मालिश करें। आप सिर पर जमी परत हटाने के लिए तेल लगाने के 10 से 15 मिनट बाद मुलायम कंघे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

बच्चों के सिर पर खुजली और रूखी स्कैल्प होने पर क्या करें?

बच्चों में ड्राई स्कैल्प की परेशानी से राहत दिलाने के लिए वर्जिन ओलिव ऑयल, बेबी ऑयल या अरंडी के तेल से मालिश कर सकते हैं। यह उसकी त्वचा को मॉइस्चराइज करेगा।

थोड़ा-सा ध्यान देने से आप ड्राई स्कैल्प के कारण होने वाली खुजली से राहत पा सकेंगे। स्वस्थ और पोषण युक्त स्कैल्प पाने के लिए आसानी से मिल जाने वाली इन सामग्रियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। फिर देर किस बात की? अगर आप रूखे स्कैल्प की समस्या से परेशान हैं, तो इन उपायों को जरूर अपनाएं। इसके अलावा, अगर आपको कोई अन्य उपचार भी पता है, तो हमारे साथ नीचे कमेंट बॉक्स में शेयर करना न भूलें।

और पढ़े:

संबंधित आलेख