घरेलू उपचार

शरीर की दुर्गंध दूर करने के घरेलू उपाय – Body Odor Solution in Hindi

by
शरीर की दुर्गंध दूर करने के घरेलू उपाय – Body Odor Solution in Hindi Hyderabd040-395603080 August 21, 2019

पसीने का आना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। यह एक स्वाभाविक क्रिया है, जिससे शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है। वहीं, कई बार यह पसीना शरीर की दुर्गन्ध का कारण बन जाता है। पसीने की बदबू ऐसी होती है, जिसमें न तो डियोड्रेंट और न ही कोई इत्र काम करता है। कई बार तो आपके अपने भी इस शरीर की दुर्गन्ध की वजह से आपसे दूर भागने लगते हैं। अपनों को दूर करने वाली शरीर की बदबू को अब आप स्टाइलक्रेज के इस लेख में दिए गए कुछ आसान घरेलू उपायों से बाय-बाय कह सकते हैं।

आइए, पहले हम शरीर में दुर्गंध पैदा करने वाले कारणों के बारे में जान लेते हैं।

शरीर की दुर्गंध के कारण – Causes of Body Odor in Hindi

शरीर की दुर्गंध का कारण कुछ और नहीं, बल्कि हमारे तन में मौजूद बैक्टीरिया होते हैं। यह हमारे पसीने में मौजूद प्रोटीन को अलग-अलग एसिड में तोड़ते हैं, जिस कारण शरीर से बदबू आने लगती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि शरीर से दुर्गन्ध तब आती है, जब बैक्टीरिया हमारे शरीर के पसीने के संपर्क में आते हैं (1) (2)। चलिए, बैक्टीरिया के अलावा अन्य शरीर की दुर्गंध के कारण के बारे में जान लेते हैं (3)।

  • मसालेदार भोजन और पेय का सेवन करना – जैसे कि लहसुन, मसाले और शराब।
  • एंटीडिप्रेसेंट जैसी दवा के सेवन से।
  • मधुमेह या फिर गुर्दे की बीमारी के कारण भी शरीर से गंध आ सकती है।
  • तनाव में रहने पर भी ऐसा हो सकता है।
  • प्रत्येक व्यक्ति की भी एक अलग गंध होती है, जो बैक्टीरिया के कारण असहनीय हो सकती है (4)।

शरीर की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के उपाय जानने के लिए पढ़ते रहें यह लेख।

शरीर की दुर्गन्ध दूर करने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Body Odor in Hindi

1. तेल

तेल विभिन्न गुणों से भरपूर होते हैं। इनमें से कई तेल ऐसे भी हैं, जो शरीर की बदबू दूर करने में सहायक साबित होते हैं। शरीर की दुर्गन्ध दूर करने वाले कुछ ऐसे ही कारगर तेलों के बारे जानते हैं, जो आसानी से पसीने की बदबू का इलाज कर सकते हैं।

(क) नारियल तेल

सामग्री :

  • नारियल तेल की कुछ बूंदें
  • एक चम्मच सिट्रिक एसिड पाउडर
  • एक कप पानी

उपयोग का तरीका :

  • सिट्रिक एसिड पाउडर को पानी में मिलाएं।
  • नहाने के बाद इस पानी को शरीर पर डालें।
  • फिर तौलिये से शरीर को सूखाने के बाद पसीने की बदबू वाली जगह पर नारियल तेल लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

नारियल तेल में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो हमारे शरीर में मौजूद बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करते हैं (5)। त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया के खत्म होने से शरीर की दुर्गन्ध भी कम हो जाती है। संभवत: इसी वजह से नारियल तेल को डियोड्रेंट बनाने के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है (6)।

(ख) टी ट्री तेल

Tea tree oil Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • 1 चम्मच टी ट्री तेल
  • 1 चम्मच पानी

उपयोग का तरीका :

  • टी ट्री तेल पानी में डालकर अच्छे से मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को अंडरआर्म्स या पसीने वाले अन्य क्षेत्रों पर लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

टी ट्री ऑयल प्राकृतिक एंटीसेप्टिक और एंटी बैक्टीरियल गुणों से समृद्ध है। इसमें मौजूद टेर्पिन्न (Terpinen) शरीर पर मौजूद बैक्टीरिया और फंगल को दूर करने में मदद कर सकता है (7)। इसलिए, बैक्टीरिया से उत्पन्न होने वाली शरीर की गंध को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।

(ग) लैवेंडर ऑयल

सामग्री :

  • लैवेंडर ऑयल की कुछ बूंदें
  • 3 चम्मच कॉर्न स्टार्च
  • 2 चम्मच बेकिंग सोडा

उपयोग का तरीका :

  • कॉर्न स्टार्च और बेकिंग सोडा को एक बर्तन में डालकर मिला लें।
  • अब लैवेंडर एसेंशियल की कुछ बूंदें इसमें मिलाएं।
  • इस मिश्रण को एक-दो दिन ऐसे ही रखें।
  • फिर इसे आवश्यकतानुसार लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

लैवेंडर एसेंशियल ऑयल दुर्गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया के बढ़ने से रोकता है (8)। वहीं, कॉर्न स्टार्च और बेकिंग सोडा बतौर डियोडोराइजर (deodorizer) काम करते हैं (9), जो बदबू खत्म करने के साथ ही बैक्टीरिया के जमाव को रोकते हैं।

(घ) पुदीने (पेपरमिंट) का तेल

सामग्री :

  • पुदीने के तेल की 5-6 बूंदें
  • आवश्यकतानुसार पानी
  • 2 चम्मच कॉर्न स्टार्च
  • 2 चम्मच बेकिंग सोडा

उपयोग का तरीका :

  • पेपरमिंट ऑयल को अंडरआर्म्स पर लगाएं।
  • आप पानी में तेल की कुछ बूंदें मिलाकर बतौर स्प्रे भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके अलावा, आप कॉर्न स्टार्च व बेकिंग सोडा में पुदीने का तेल मिलाकर तैयार पेस्ट भी बगल में लगा सकते हैं।

नोट: अंडरआर्म्स को सूखा रखने के लिए आपको कॉर्न स्टार्च, बेकिंग सोडा और पेपरमिंट ऑयल युक्त मिश्रण तैयार करना होगा। इसे आप फ्रिज में रखकर आवश्यकतानुसार उपयोग में ला सकते हैं।

कैसे लाभदायक है :

पुदीने के तेल में जीवाणुरोधी गुण होते हैं, इसलिए यह तन की दुर्गन्ध दूर करने में सहायक माना जाता है। डियोड्रेंट की जगह इसका भी उपयोग किया जा सकता है (10)। कॉर्न स्टार्च और बेकिंग सोडा पसीना निकलने वाली जगह को सूखा रखते हैं।

(च) सेज ऑयल (Sage Oil)

Sage Oil Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • सेज ऑयल की कुछ बूंदें
  • जरूरत के अनुसार पानी

उपयोग का तरीका :

  • सेज ऑयल में पानी मिलाकर उसे पतला कर लें और प्रभावित जगह पर स्प्रे करें।
  • आप सूखे सेज को भी गर्म पानी में भिगोकर इस पानी को अंडरआर्म्स पर लगा सकते हैं।
  • संवेदनशील जगहों पर तेल लगाने से बचें।

कैसे लाभदायक है :

सेज ऑयल में एंटी बैक्टीरियल गुण होता हैं, इसलिए यह तेल पसीने की बदबू से राहत पाने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है (11)।

2. बेकिंग सोडा

सामग्री :

  • एक चम्मच बेकिंग सोडा
  • आवश्यकतानुसार पानी

उपयोग का तरीका

  • बेकिंग सोडे को बदबू आने वाले हिस्से पर लगाएं।
  • आप पानी में बेकिंग सोडा मिलाकर पेस्ट भी बना सकते हैं।
  • पेस्ट को भी आप अंडरआर्म्स और अन्य पसीने वाली जगहों पर लगाएं।
  • पेस्ट लगाने के बाद 10-15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • फिर गुनगुने पानी से धो लें।

कैसे लाभदायक है :

बेकिंग सोडा का इस्तेमाल नमी को सोखने के लिए किया जाता है। इसलिए, यह शरीर से निकलने वाले अधिक पसीने को रोक सकता है। यह शरीर पर मौजूद बैक्टीरिया को मारता है और शरीर की दुर्गंध को बेअसर करने का काम करता है (12)।

3. सेब का सिरका

सामग्री :

  • सेब के सिरके की कुछ बूंदें
  • रुई
  • पानी

उपयोग का तरीका :

  • रुई में सेब के सिरके की बूंदें डालकर अंडरआर्म्स व शरीर के अन्य पसीने की बदबू आने वाले हिस्सों पर लगाएं।
  • सिरके को आप आधे कप पानी में मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे लाभदायक है :

सेब का सिरका एसेडिक होता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं (13)। इसलिए, यह शरीर की दुर्गंध दूर करने में सहायक साबित हो सकता है।

4. नींबू का रस

सामग्री :

  • आधा नींबू
  • पानी की कुछ बूंदें

उपयोग का तरीका :

  • आधे नींबू को अंडरआर्म्स पर रगड़कर छोड़ दें।
  • इसके सूखने के बाद बगल को गुनगुने पानी से धो लें।
  • संवेदनशील त्वचा वाले नींबू का रस निकालकर उसमें पानी की कुछ बूंदें मिलाकर लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

नींबू में एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं। इसके इस्तेमाल से पसीने की दुर्गन्ध वाली जगह पर मौजूद बैक्टीरिया को आप साफ कर सकते हैं (14)। नींबू बैक्टीरिया को पनपने से भी रोकने में मदद करता है, जिसकी वजह से शरीर में ज्यादा दुर्गंध पैदा नहीं होती।

5. गुलाब जल

rose water Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • तीन चम्मच गुलाब जल
  • एक चम्मच सेब का सिरका

उपयोग का तरीका :

  • सेब के सिरके को गुलाब जल में मिलाएं।
  • इसे बोतल में डालकर रख लें और आवश्यकता पड़ने पर अंडरआर्म्स व शरीर के अन्य पसीने वाले हिस्सों पर स्प्रे करें।

कैसे लाभदायक है:

गुलाब जल को इसकी खुशबू, क्लींजिंग व अस्ट्रिन्जन्ट गुण के चलते कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स में इस्तेमाल किया जाता है। शरीर को सुगंधित रखने के लिए भी पुराने समय से गुलाब की पंंखुडियों को पानी में डालकर नहाने के प्रयोग में लाया जाता रहा है। दरअसल, गुलाब जल की खुशबू दुर्गन्ध दूर करने के साथ ही छिद्रों के आकार को कम करती है, जिसे स्किन टोन करना भी कहा जाता है, जिससे पसीने का उत्पादन कम होता है (15) (16)। ऐसे में कहा जा सकता है कि गुलाब जल की खुशबू और सेब का सिरका शरीर की दुर्गंध को बेअसर करने का काम कर सकते हैं।

6. टमाटर के रस से स्नान

सामग्री :

  • दो कप टमाटर का रस
  • नहाने के लिए एक बाल्टी गर्म पानी

उपयोग का तरीका :

  • एक बाल्टी में टमाटर का रस मिलाएं या बाथ टब में गर्म पानी भरकर उसमें टमाटर का रस डालें।
  • बाथ टब में लगभग 20 से 30 मिनट तक इस पानी में शरीर को डुबोकर रखें या बाल्टी के पानी से नहा लें।

कैसे लाभदायक है :

टमाटर में पाया जाने वाला लाइकोपीन (Lycopene) एंटीऑक्सीडेंट और एंटीमाइक्रोबियल की तरह काम करता है। यह शरीर को बैक्टीरिया से बचाता है (17)।

7. नीम के पत्ते

सामग्री :

  • मुट्ठी भर नीम के पत्ते
  • एक कप पानी

उपयोग का तरीका :

  • नीम की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को पसीने वाली जगहों पर लगाएं।
  • पेस्ट सूखने के बाद गर्म पानी से धो लें।
  • वैकल्पिक रूप से नीम के पत्तों को पानी में डालकर उबाल सकते हैं।
  • फिर इसका इस्तेमाल आप नहाने के लिए भी कर सकते हैं।

कैसे लाभदायक है :

नीम में एंटीबैक्टीरियल, एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो शरीर में दुर्गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करते हैं। नीम शरीर से विषैले पदार्थों को दूर करने का काम भी करता है (18)। ऐसे में शरीर की दुर्गन्ध दूर करने के लिए नीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

8. दही और बेसन

सामग्री :

  • चार चम्मच दही
  • पांच चम्मच बेसन

उपयोग का तरीका :

  • दही और बेसन का पेस्ट बना लें।
  • स्नान के लिए जाने से पहले पूरे शरीर पर बेसन और दही का मिश्रण लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

बेसन त्वचा में मौजूद गंदगी के कणों को साफ करता है। मुख्य रूप से बेसन त्वचा के लिए एक टॉनिक के रूप में काम करता है और स्किन को एक्सफोलिएट करने में मदद करता है। यह त्वचा के तैलीय पन को कम करता है, जिससे दुर्गन्ध की समस्या को कम किया जा सकता है (19)। यहां हम बता दें कि शरीर की दुर्गंध दूर करने के संदर्भ में बेसन पर वैज्ञानिक अध्ययन कम हुआ है। वहीं, दही में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं (20)। ऐसे में दोनों के मिश्रण से नहाने के बाद आपके शरीर में मौजूद सभी बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं, जिस वजह से शरीर की बदबू नियंत्रित रहती है।

9. सेंधा नमक

Rock salt Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • दो कप सेंधा नमक
  • नहाने योग्य गर्म पानी

उपयोग का तरीका :

  • नहाने योग्य गर्म पानी से बाथ टब भरें और उसमें लगभग दो कप सेंधा नमक डालें।
  • कुछ देर तक शरीर को इस पानी में डुबोए रखें।

कैसे लाभदायक है :

सेंधा नमक में मैग्नीशियम और सल्फेट भरपूर होता है, जो शरीर को डिटॉक्सीफाई करने का काम करता है। साथ ही ये शरीर को रिलेक्स करता है, जिससे तनाव दूर होता है (21)। पसीने से दुर्गन्ध आने का कारण तनाव भी है (22), इसलिए इसका इस्तेमाल शरीर से विषैले पदार्थ निकालकर तन की दुर्गंध दूर करने में मदद करता है।

10. मेथी की चाय

सामग्री :

  • एक चम्मच मेथी के बीज
  • एक कप पानी

उपयोग का तरीका :

  • मेथी के बीजों को पानी में डालकर उबालें।
  • जब पानी पीले रंग का हो जाए, तो इसे गिलास में निकाल लें।
  • इस पानी को चाय की तरह रोजाना खाली पेट पिएं।

कैसे लाभदायक है :

मेथी के बीज एंटीऑक्सीडेंट,और एंटीसेप्टिक गुण से समृद्ध होते हैं (23)। इसलिए, मेथी से बनी चाय के सेवन से शरीर में पनपने वाले बैक्टीरिया खत्म हो सकते हैं, जिससे शरीर की दुर्गन्ध कम हो सकती है।

11. सौंफ

सामग्री :

  • एक चम्मच सौंफ
  • एक कप पानी
  • शहद (वैकल्पिक)

उपयोग का तरीका :

  • एक कप पानी में सौंफ के बीज डालकर पानी को उबालें।
  • स्वाद के लिए शहद मिला सकते हैं।
  • इसका रोजाना सेवन करें।

कैसे लाभदायक है :

सौंफ में एंटीऑक्सीडेंट व साइटोप्रोटेक्टिव जैसी कई गतिविधियां पाई जाती हैं, जो हमारे शरीर के बैक्टीरिया और फंगल को नियंत्रित करती हैं (24)।

12. ग्रीन टी

Green tea Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • ग्रीन टी की पत्तियां
  • पानी

उपयोग का तरीका :

  • आवश्यकतानुसार पानी में ग्रीन टी डालकर उबालें।
  • चाय ठंडी होने पर इसे छानकर पसीने वाली जगह पर लगाएं।
  • खाली पेट ग्रीन टी का सेवन करने से भी शरीर की दुर्गंध कम की जा सकती है।

कैसे लाभदायक है :

ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट सीधे बैक्टीरिया और वायरस को मारने में मदद करते हैं। साथ ही इसमें मिलने वाले पॉलीफेनोल्स में रोगाणुरोधी और डियोड्रेंट प्रभाव पाए जाते हैं, जिसकी वजह से चाय के पाउडर का इस्तेमाल मुंह से आने वाली दुर्गन्ध को दूर करने के लिए भी किया जाता है। ग्रीन टी को त्वचा पर इस्तेमाल करने से बैक्टीरिया दूर रहते हैं और इसे पीने से शरीर के सभी विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं (25)।

13. रबिंग अल्कोहल

सामग्री :

  • रबिंग अल्कोहल की कुछ बूंदें
  • पानी
  • रुई

उपयोग का तरीका :

  • रुई पर रबिंग अल्कोहल की कुछ बूंदें डालें।
  • अब इसे अपने अंडरआर्म्स पर लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

रबिंग अल्कोहल को आइसोप्रोपिल एल्कोहॉल (Isopropyl alcohol) भी कहते हैं, जिसका इस्तेमाल साबुन व डियोड्रेंट बनाने में किया जाता है (26)। आइसोप्रोपिल एल्कोहॉल हमारे शरीर में बतौर जीवाणुनाशक (Bactericidal) काम करता है, जो शरीर में मौजूद बैक्टीरिया को खत्म करने के साथ ही इन्हें पनपने से भी रोकता है (27)।

14. विच हेजल (Witch Hazel)

Witch Hazel Pinit

Shutterstock

सामग्री :

  • विच हैजल की कुछ बूंदें
  • रुई

उपयोग का तरीका :

  • रुई पर विच हैजल की कुछ बूंदें डालें।
  • इस रुई को अपने अंडरआर्म्स व शरीर के अन्य पसीने वाले क्षेत्रों पर लगाएं।

कैसे लाभदायक है :

विच हेजल में अस्ट्रिन्जन्ट गुण मौजूद होते हैं, जो छिद्रों के आकार को कम करके पसीने को रोकते हैं (28)।

शरीर की दुर्गन्ध के घरेलू उपाय के बारे में जानने के बाद लेख में आगे पसीने की बदबू को कम करने के कुछ टिप्स की।

शरीर की दुर्गंध दूर करने के कुछ और उपाय – Tips to Reduce Body Odor in Hindi

शरीर की बदबू दूर करने के घरेलू उपायों को तो आप जान ही चुके हैं, लेकिन कुछ बातों का अगर आप रोजाना ख्याल रखें, तो तन से निकलने वाली दुर्गंध को कम या दूर किया जा सकता है (29)।

  • शरीर में पनपने वाले बैक्टीरिया को मारने के लिए रोज स्नान करें।
  • एंटीबैक्टीरियल साबुन से अपने आर्म्सपीट्स को साफ करते रहें।
  • नहाने के बाद प्राकृतिक डियोड्रेंट या एंटीपर्सपिरेंट का उपयोग करें।
  • प्राकृतिक रेशे वाले कपड़े पहनें, जैसे कि ऊन, रेशम या कपास।
  • कपड़े नियमित रूप से धोते रहें और साफ कपड़े ही पहने।
  • मसालेदार खाद्य पदार्थों की मात्रा सीमित करें – जैसे कि लहसुन व प्याज आदि।
  • पसीने से भीगे हुए हिस्से को पोंछने के लिए टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल करें।
  • मेथी के बीजों और ग्रीन टी से शरीर को डिटॉक्सीफाई करें।

इस लेख से आप शरीर की दुर्गन्ध को दूर करने के उपाय और इसके कारण के बारे में जान ही चुके होंगे। अगर इसके बावजूद आपके मन में पसीने की बदबू से जुड़ा कोई अन्य सवाल है, तो कमेंट बॉक्स के जरिए हमसे पूछ सकते हैं। इस लेख को अपने परिवार, दोस्तों और प्रियजनों के साथ साझा करना न भूलें। हम आशा करते हैं कि आप शरीर की दुर्गन्ध दूर करने के घरेलू उपाय अपनाकर हमेशा महकते रहेंगे।

The following two tabs change content below.

vinita pangeni

विनिता पंगेनी ने एनएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में बीए ऑनर्स और एमए किया है। टेलीविजन और डिजिटल मीडिया में काम करते हुए इन्हें करीब चार साल हो गए हैं। इन्हें उत्तराखंड के कई पॉलिटिकल लीडर और लोकल कलाकारों के इंटरव्यू लेना और लेखन का अनुभव है। विशेष कर इन्हें आम लोगों से जुड़ी रिपोर्ट्स करना और उस पर लेख लिखना पसंद है। इसके अलावा, इन्हें बाइक चलाना, नई जगह घूमना और नए लोगों से मिलकर उनके जीवन के अनुभव जानना अच्छा लगता है।

संबंधित आलेख