सामग्री और उपयोग

हरे प्याज के फायदे और नुकसान – Spring Onion Benefits and Side Effects in Hindi

by
हरे प्याज के फायदे और नुकसान – Spring Onion Benefits and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 October 29, 2019

हरे प्याज के सेवन से आने वाली दुर्गंध के बारे में सोचकर अगर आप इससे परहेज करते हैं, तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप इसे अपने आहार में शामिल करने के बारे में जरूर सोचेंगे। दरअसल, हरा प्याज कई खास पोषक तत्वों से समृद्ध होता है, जो सामान्य सर्दी से लेकर कैंसर जैसी घातक बीमारी के लिए लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा, इसका सेवन और भी कई शारीरिक समस्याओं से आपको निजात दिलाने में मदद कर सकता है, जिनके बारे में जानने के लिए आप यह लेख जरूर पढ़ें। स्टाइलक्रेज के इस लेख में जानिए शरीर के लिए हरे प्याज के फायदे क्या-क्या हो सकते हैं, लेकिन सबसे पहले जानते हैं कि हरे प्याज क्‍या हैं?

हरे प्याज क्‍या हैं? – What is Spring Onion in Hindi

जब प्याज को उगाया जाता है, तो सबसे पहले प्याज के हरे रंग के स्प्रिंग निकलते हैं। इसे स्प्रिंग अनियन या हरे प्याज के नाम से जाना जाता है। हरा प्याज दाम में कम और पोषण में अधिक होता है। यह आपके स्वास्थ्य को बनाए रखने में सहायक हो सकता है। ज्यादातर जगहों में स्प्रिंग को सब्जी बनाकर खाया जाता है। इसके अलावा, हरे प्याज को विभिन्न व्यंजनों में इस्तेमाल कर बड़े चाव के साथ खाया जाता है।

आइए अब हरे प्याज के फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

हरे प्याज के फायदे – Benefits of Spring Onion in Hindi

1. रक्तचाप

हरे प्याज के सेवन से रक्तचाप को नियंत्रण में लाया जा सकता है (1)। रक्तचाप को कम करने के लिए पोटेशियम एक जरूरी पोषक तत्वों में से एक है (2)। हरे प्याज में पोटेशियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जो शरीर में सोडियम की मात्रा को कम करने का काम कर सकता है। सोडियम रक्तचाप को बढ़ाने वाले कारक में से एक होता है (3)। इसलिए, यह उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में लाने का काम कर सकता है।

2. हृदय के लिए

एक वैज्ञानिक शोध में पाया गया है कि फाइबर युक्त आहार का सेवन करने से शरीर के कुल सीरम और लो डेंसिटी लिपिड कोलेस्ट्रोल यानी खराब कोलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जा सकता है (4)। वहीं, हरे प्याज में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है (3)।

3. कैंसर

कैंसर की समस्या से निजात दिलाने के लिए हरे प्याज का उपयोग किया जा सकता है। हरे प्याज का सेवन करने से कैंसर सेल को विकसित होने से रोका जा सकता है। इसमें एंटी कैंसर गुण होते हैं, जो कैंसर के विरूद्ध लड़ने का काम करते हैं। इसके सेवन का असर विशेष रूप से कोलन कैंसर को दूर रखने का काम कर सकता है (1)।

4. मधुमेह

मधुमेह का मुख्य कारण रक्त में शुगर की मात्रा बढ़ना होता है। प्याज के सेवन से रक्त में ग्लूकोज को नियंत्रित किया जा सकता है। दरअसल, एक शोध के अनुसार प्याज का अर्क रक्त शर्करा को कम करने का काम कर सकता है। हरा प्याज मधुमेह के लिए सीधे तौर पर किस प्रकार काम करता है, फिलहाल इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है (5)।

5. आंखों के लिए

आंखों से संबंधित समस्या और आंखों के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए हरी सब्जी और फल उपयोगी माने जाते हैं। इन सब्जियों में हरे प्याज को भी शामिल किया जा सकता है। आंखों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए विटामिन (ए, सी, ई, के और बी) मुख्य भूमिका निभाते हैं (6)। जो हरे प्याज में प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं (3)।

6. हड्डियों के लिए

हरे प्याज के नियमित रूप से सेवन करने पर हड्डियों के स्वास्थ्य में सुधार किया जा सकता है। दरअसल,  प्याज में कुछ खास यौगिक पाए जाते हैं, जो हड्डियों को नुकसान से बचाने का कार्य करते हैं। साथ ही हड्डियों को मजबूत करने में योगदान दे सकते हैं (7)।

7. जुकाम

प्राचीन काल से ही कई पौधों को फ्लू और जुकाम की समस्या में हर्बल दवाई के रूप में उपयोग किया जाता रहा है। उन हर्बल दवाई में प्याज को भी शामिल किया गया है (8)। इसलिए, ऐसा माना जा सकता है कि हरा प्याज जुकाम से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। हालांकि, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

8. अस्थमा

Benefits of Spring Onion in Hindi Pinit

Shutterstock

अस्थमा की समस्या वाले लोगों की सांस जल्दी फूलने लगती है। ऐसे में हरे प्याज से सेवन से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है। दरअसल, अस्थमा को दूर करने के लिए एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण सहायक हो सकते हैं। इसलिए, दमा के लिए एंटी-इंफ्लेमेटरी युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन किया जा सकता है (9)। हरे प्याज में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, इसलिए ऐसा कहा जा सकता है कि यह अस्थमा के लिए फायदेमंद हो सकता है (10)। हालांकि, यह कितना कारगर होगा, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

9. गठिया

गठिया की समस्या के लिए हरे प्याज का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। शरीर के गठिया को दूर करने में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण फायदेमंद होता है (11)। हरे प्याज में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इसलिए, ऐसा माना जा सकता है कि इसका उपयोग गठिया की समस्या में लाभ पहुंचाने का काम कर सकता है (10)।

10. गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर

जब भी पेट संबंधी किसी भी तरह की समस्या के इलाज का जिक्र किया जाता है, तो सबसे अहम पोषक तत्व फाइबर को माना जाता है (12)। गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की समस्या को भी दूर करने के लिए हरे प्याज का उपयोग लाभकारी सिद्ध हो सकता है, क्योंकि इसमें फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है (3)। फाइबर पाचन को बढ़ावा देने के साथ-साथ कब्ज जैसी समस्या को दूर करने का काम कर सकता है।

आइए, हरे प्याज के पौष्टिक तत्व के बारे में पढ़ते हैं।

हरे प्याज के पौष्टिक तत्व – Spring Onion Nutritional Value in Hindi

हरे प्याज में मौजूद पोषक तत्व के कारण ही यह आपको फायदा पहुंचाने का काम करता है। उन पोषक तत्वों को एक टेबल के माध्यम से जानेंगे (3):

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 g
पानी89.83 g
ऊर्जा32 kcal
प्रोटीन1.83 g
टोटल लिपिड (फैट)0.19 g
कार्बोहाइड्रेट7.34 g
फाइबर , टोटल डाइटरी2.6 g
शुगर, टोटल2.33 g
मिनरल
कैल्शियम ,Ca72 gm
आयरन ,Fe1.48 mg
मैग्नीशियम , Mg 20 mg
फास्फोरस ,P37 mg
पोटैशियम ,K276 mg
सोडियम ,Na16 mg
जिंक ,Zn0.39 mg
विटामिन
विटामिन सी, टोटल एस्कॉर्बिक एसिड18.8 mg
थाइमिन0.055 mg
राइबोफ्लेविन0.080 mg
नियासिन0.525 mg
विटामिन बी-60.061 mg
फोलेट DFE64 µg
विटामिन ए ,RAE50 µg
विटमिन ए ,।U997 ।U
विटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरॉल)0.55 mg
विटामिन के (पिल्लोक्विनोने )207.0 µg
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड0.032 g
फैटी एसिड, टोटल मोनोसैचुरेटेड0.027 g
फैटी एसिड, टोटल पॉलीसैचुरेटेड0.074 g

आइए, हरे प्याज के उपयोग के बारे में पढ़ते हैं।

हरे प्याज का उपयोग – How to Use Spring Onion in Hindi

हरे प्याज को उपयोग करने के कई तरीके हो सकते हैं। यहां हम कुछ तरीकों के बारे में आपको बता रहे हैं।

कैसे खाएं :
  • हरे प्याज को सब्जी बनाकर खाया जा सकता है।
  • हरे प्याज और अंकुरित मूंग को मिलाकर टिक्की बनाई जा सकती है।
  • आप सूप में हरे प्याज को मिला सकते हैं। इससे सूप का स्वाद कई गुना बढ़ जाएगा।
  • गार्निश करने के लिए भी हरे प्याज का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • हरे प्याज को परांठे में भी उपयोग किया जा सकता है।
कब खाएं :
  • वैसे तो हरे प्याज को खाने का कोई निर्धारित समय नहीं है। फिर भी इसे सुबह नाश्ते, दोपहर या रात के भोजन में इस्तेमाल कर खाया जा सकता है।
कितना खाएं :
  • अन्य खाद्य पदार्थों की तरह इसका भी सेवन आप सीमित मात्रा में ही करें।

आइए, हरे प्याज खाने से होने वाले नुकसान के बारे में पढ़ते हैं।

हरे प्याज के नुकसान – Side Effects of Spring Onion in Hindi

वैसे तो हरे प्याज खाने के फायदे अधिक हैं, लेकिन इसके अधिक सेवन से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं:

  • जिन्हें प्याज से एलर्जी है, उन्हें हरा प्याज खाने से एलर्जी की समस्या हो सकती है।
  • हरे प्याज का अधिक मात्रा में सेवन हृदय संबंधित जोखिम बढ़ा सकता है, क्योंकि इसमें कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाए जाता है, जो इसके लिए जिम्मेदार हो सकता है (13) (3)।
  • हरे प्याज में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है (3), लेकिन इसकी अधिक मात्रा में सेवन से गैस, उल्टी और मतली जैसी समस्या उत्पन्न हो सकती हैं (14)।
  • हरे प्याज का सेवन करने से आपके मुंह से प्याज की दुर्गंध आ सकती है।

अब तो आप जान गए होंगे कि हरा प्याज क्या होता है और इसके सेवन को लेकर आपकी सोच में भी परिवर्तन हो गया होगा। साथ ही आपको इस बात की जानकारी भी मिल गई होगी कि यह कौन-कौन सी समस्याओं में लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा, इस लेख में हरे प्याज के उपयोग की जानकारी भी दी गई है। आशा करते हैं कि इस आर्टिकल में दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी। इस लेख से जुड़ा अगर कोई सवाल आपके मन में है, तो उसे बेहिचक हमारे साथ नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए साझा कर सकते हैं।

और पढ़े:

The following two tabs change content below.

Bhupendra Verma

भूपेंद्र वर्मा ने सेंट थॉमस कॉलेज से बीजेएमसी और एमआईटी एडीटी यूनिवर्सिटी से एमजेएमसी किया है। भूपेंद्र को लेखक के तौर पर फ्रीलांसिंग में काम करते 2 साल हो गए हैं। इनकी लिखी हुई कविताएं, गाने और रैप हर किसी को पसंद आते हैं। यह अपने लेखन और रैप करने के अनोखे स्टाइल की वजह से जाने जाते हैं। इन्होंने कुछ डॉक्यूमेंट्री फिल्म की स्टोरी और डायलॉग्स भी लिखे हैं। इन्हें संगीत सुनना, फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

संबंधित आलेख