घरेलू उपचार

स्टीम/सॉना बाथ के फायदे और नुकसान – Steam/Sauna Bath Benefits and Side Effects in Hindi

by
स्टीम/सॉना बाथ के फायदे और नुकसान – Steam/Sauna Bath Benefits and Side Effects in Hindi Hyderabd040-395603080 October 18, 2019

जिम हो या फिर स्पा बिना स्टीम बाथ और सॉना बाथ के अधूरे हैं। ऐसा माना जाता है कि स्टीम बाथ का इतिहास प्राचीन रोमन सभ्यता से जुड़ा हुआ है, जहां से इसकी शुरुआत हुई थी। प्राचीन काल में रोमन वासियों ने कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए इस तकनीक को इजात किया था। स्टीम बाथ लेने के फायदे एक नहीं बल्कि कई हैं। समय के साथ-साथ इसमें तकनीकी सुधार होते चले गए। आज भी इसका उपयोग शरीर को रिलैक्स करने से लेकर कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख का मुद्दा भी स्टीम बाथ ही है। हम स्टीम बाथ के साथ-साथ सॉना बाथ के फायदे भी बताएंगे। साथ ही इससे होने वाले कुछ नुकसानों के बारे में भी बात करेंगे।

सबसे पहले हम जानते हैं कि स्टीम बाथ और सॉना बाॅथ कहते किसे हैं।

स्टीम/सॉना बाथ क्‍या है? – What is Steam/Sauna Bath in Hindi

स्टीम बाथ, जैसा की नाम से पता चल रहा है कि भाप के जरिए स्नान करना। यह एक प्रकार का खास स्नान है, जिसमें पानी की जगह पानी की भाप से नहाया जाता है। इसमें सबसे पहले एक कमरे को भाप से लगभग 110 से 114 डिग्री फेरेनहाइट तापमान पर किया जाता है। लोग इस भाप वाले कमरे में कुछ समय के लिए रुक कर भाप के माध्यम से स्नान करते हैं, अर्थात पूरे शरीर की भाप से सिकाई की जाती है। इसलिए, इसे स्टीम बाथ कहते हैं (1)। वहीं, सॉना बाथ में कमरे का तापमान 80 से 90 डिग्री सेल्सियस तक होता है, जिससे पसीने के माध्यम से हानिकारक पदार्थ शरीर से निकल जाते हैं। इसे 5 से लेकर 20 मिनट तक 1 से 3 बार दोहराया जा सकता है (2)।

स्टीम/सॉना बाथ के बारे में जानने के बाद अब इसके फायदाें के बारे में विस्तार से बात करते हैं। 

स्टीम/सॉना बाथ के फायदे – Benefits of Steam / Sauna Bath in Hindi

जो लोग स्टीम बाथ या सॉना बाथ लेते हैं, उन्हें भी नहीं मालूम होगा कि वो कितने फायदों का लाभ ले रहे हैं। यहां हम स्टीम बाथ और सॉना बाथ कुछ प्रमुख फायदों का जिक्र कर रहे हैं।

1. वजन कम करने के लिए स्टीम बाथ लेने के फायदे

The advantages of taking steam bath to lose weight Pinit

Shutterstock

क्या आप सोच सकते हैं कि नहाने से वजन कम हो सकता है। नहीं न, तो हम आपको बता दें कि स्टीम या सॉना बाथ लेने से आप अपना वजन कम कर सकते हैं। यह अतिरिक्त कैलोरी को बर्न करने में आपकी मदद करता है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती हैं। आप सॉना बाथ के लगभग 30 मिनट के सेशन में लगभग 600 कैलोरी तक बर्न कर सकते हैं। कैलोरी बर्न होने से आपके शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम हो जाती है और आप अपने वजन में कमी महसूस कर सकते हैं (1) (3)।

2. रक्त संचार के लिए सॉना बाथ के फायदे

रक्त संचार में सुधार के लिए सॉना या स्टीम बाथ आदर्श तरीके हो सकते हैं। दरअसल, जब आप स्टीम या सॉना बाथ लेने के लिए स्टीम बाथरूम में बैठते हैं, तो शरीर की रक्त वाहिकाएं फैल जाती हैं, जिससे रक्तचाप और पल्स रेट कम हो जाता है, जिससे शरीर में रक्त संचार में सुधार हो सकता है। हालांकि, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है (1) (4)।

3. जोड़ाें की अकड़न को दूर करने के लिए स्टीम बाथ लेने के फायदे

Benefits of taking a steam bath to remove stiffness of joints Pinit

Shutterstock

अगर आप जिम करके आ रहे हैं और जिम के दौरान मांसपेशियों और जोड़ों की अकड़न को दूर करना चाहते हैं, तो स्टीम या सॉना बाॅथ आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। ये आपकी मांसपेशियों को रिलैक्स करता है। साथ ही जोड़ों की अकड़न और दर्द में भी राहत प्रदान कर सकता है (5)।

4. प्रतिरोधक क्षमता को ठीक करने के लिए सॉना बाथ के फायदे

आपको जानकर हैरानी होगी कि स्टीम या सॉना बाथ आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को सुधारने में भी आपकी मदद करता है। स्टीम बाथ या सॉना बाथ लेने से शरीर का तापमान बढ़ जाता है। इससे मोनोसाइट्स (एक प्रकार की सफेद रक्त कोशिका) की गतिविधि बढ़ जाती है। ये कोशिकाएं बैक्टीरिया को खत्म करने और मृत ऊतकों को हटाने में मदद करती हैं। इसके अलावा, ये कोशिकाओं के विकास में भी भूमिका अदा करती हैं। मोनोसाइट्स और न्यूट्रोफिल (सफेद रक्त कोशिका के प्रकार) हानिकारक सूक्ष्म जीवाें से शरीर की रक्षा करने में मदद करने के साथ ही प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करते हैं (6)।

5. तनाव को दूर करने के लिए स्टीम बाथ लेने के फायदे

Benefits of taking steam bath to relieve stress Pinit

Shutterstock

अगर आप किसी काम को लेकर तनाव ग्रस्त हैं, तो कुछ देर के लिए स्टीम बाथ या सॉना बाथ ले सकते हैं। ये खास स्नान आपके तनाव को दूर करने में आपकी मदद करेंगे। ये दोनों बाथ आपकी बॉडी को रिलैक्स करने के साथ ही शरीर के ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को दूर करने में आपकी मदद कर सकते हैं। साथ ही इस स्नान से चिंता और अवसाद में कमी आती है, जिससे अच्छी नींद लेने में मदद मिलती है (7)।

6. रक्तचाप को कम करने में मदद करता है

रक्तचाप की समस्या को दूर करने के लिए स्टीम बाथ बेहतर विकल्प हो सकता है। जब आप स्टीम बाथ लेते हैं, तो शरीर का तापमान बढ़ने लगता है। इससे सभी रक्त वाहिकाएं फैल जाती हैं और रक्त वाहिकाओं के फैलने से रक्तचाप कम हो जाता है (1)।

7. त्वचा के लिए सॉना बाथ के फायदे

Advantages of sauna bath for skin Pinit

Shutterstock

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि स्टीम बाथ आपकी त्वचा के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है। स्टीम बाथ लेने से त्वचा के पोर्स खुल जाते हैं, जिनसे पसीना निकलता है। पसीने के साथ ही त्वचा को नुकसान पहुंचाने वाले हानिकारक बैक्टीरिया भी बाहर निकल जाते हैं। इसके अलावा, ये विषाक्त पदार्थ को भी त्वचा से अलग करने में आपकी मदद करते हैं (1)।

ऊपर आपने स्टीम और सॉना बाथ के फायदे के बारे में जाना, यहां हम इससे होने वाले नुकसान के बारे में बता रहे हैं।

स्टीम/सॉना बाथ के नुकसान – Side Effects of Steam/Sauna Bath in Hindi 

सावधानीपूर्वक लिया जाने वाला स्टीम या सॉना बाॅथ फायदेमंद होता है, लेकिन लापरवाही बरतने पर नुकसानदायक भी साबित हो सकता है। नीचे जानिए इसके कुछ हानिकारक प्रभाव –

  • स्टीम या सॉना बाथ लेने से पहले एक बात जरूर ध्यान रखें कि ज्यादा देर तक बाथ लेने से गर्म तापमान के कारण आपकी त्वचा जल सकती है और फफोले पड़ सकते हैं।
  • अल्कोहल का सेवन करने के बाद आपको स्टीम या सॉना बाथ नहीं लेना चाहिए, इससे आपका रक्तचाप बढ़ सकता है, जो आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है (8)।
  • हृदय और उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित व्यक्तियों के लिए भी ये बाथ नुकसानदायक हो सकते हैं। इससे हृदय गति बढ़ सकती है, जिससे गंभीर स्थिति पैदा हो सकती है (8)।
  • अगर आप गर्भवती हैं, तो ध्यान रहे कि अधिक समय तक लिया हुआ स्टीम या सॉना बाथ आपके और आपके गर्भस्थ शिशु के लिए नुकसानदायक हो सकता है (8)।
  • स्टीम या सॉना बाथ लेने से पहले आप अपने नाजुक अंगों को तौलिये से ढक कर रखें, नहीं तो वहां की त्वचा पर फफोले होने की समस्या जैसे हानिकारक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं (9)।
  • बाथ के दौरान अन्य लोगों के तौलिये और साबुन का उपयोग करने से संक्रमण का खतरा हो सकता है।
  • स्टीम बाथ में ज्यादा देर तक बैठने या फिर दिए गए निर्देशों के पालन में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने पर त्वचा संक्रमण की समस्या हो सकती है। कुछ गंभीर मामलों में तो मृत्यु तक हो सकती है (10)।
  • अधिक समय तक लिया गया स्टीम या सॉना बाथ हृदयाघात का कारण बन सकता है (11)।

आपने जाना कि स्टीम बाथ या फिर सॉना बाथ किस प्रकार आपको फायदा पहुंचा सकता है। साथ ही ये भी जाना कि इसके उपयोग से हम कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं को दूर कर सकते हैं। इसके अलावा, आपने इसके नुकसान के बारे में भी पढ़ा, जिससे आप खुद का बचाव कर सकते हैं। स्टीम बाथ और सॉना बाथ के ऊपर लिखा गया यह लेख आपको कैसा लगा और किस प्रकार से फायदेमंद रहा, हमें नीचे दिए कॉमेंट बॉक्स में बताना न भूलें। अगर आप इस विषय के संबंध में कुछ और जानना चाहते हैं या फिर कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए हमें संपर्क कर सकते हैं।

The following two tabs change content below.

Saral Jain

सरल जैन ने श्री रामानन्दाचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय, राजस्थान से संस्कृत और जैन दर्शन में बीए और डॉ. सी. वी. रमन विश्वविद्यालय, छत्तीसगढ़ से पत्रकारिता में बीए किया है। सरल को इलेक्ट्रानिक मीडिया का लगभग 8 वर्षों का एवं प्रिंट मीडिया का एक साल का अनुभव है। इन्होंने 3 साल तक टीवी चैनल के कई कार्यक्रमों में एंकर की भूमिका भी निभाई है। इन्हें फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, एडवंचर व वाइल्ड लाइफ शूट, कैंपिंग व घूमना पसंद है। सरल जैन संस्कृत, हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती, मराठी व कन्नड़ भाषाओं के जानकार हैं।

संबंधित आलेख