स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल के तेल का उपयोग – Coconut Oil for Stretch Marks in Hindi

Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

स्ट्रेच मार्क्स यानी खिंचाव के निशान शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकते हैं। यह कोई गंभीर समस्या नहीं है, लेकिन अधिकांश महिलाएं इससे परेशान रहती हैं। इसके कारण कई महिलाएं अपने पसंदीदा कपड़ों को नहीं पहन पाती हैं। ऐसे में बहुत सारी महिलाओं के मन में अक्सर यह सवाल आता है कि आखिर स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा कैसे पाया जाए। महिलाएं इसके लिए कई तरह के घरेलू उपायों का सहारा लेती हैं, जिसमें नारियल तेल का नाम भी शामिल है। नारियल तेल किस प्रकार स्ट्रेच मार्क्स कम करने में मदद कर सकता है, इसकी जानकारी स्टाइलक्रेज अपने इस लेख में लेकर आया है। साथ ही, इस लेख में स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल का तेल का उपयोग कैसे करना है, इस बारे में विस्तार से जानकारी दी जा रही हैं।

नीचे है पूरी जानकारी

लेख के पहले भाग में स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल का तेल अच्छा है या नहीं, इस संबंध में बता रहे हैं।

क्या स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल का तेल अच्छा है- Is Coconut Oil Good For Stretch Marks?

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल के तेल का उपयोग अच्छा हो सकता है। इस बात की पुष्टि एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) के एक रिसर्च में होती है। शोध में बताया गया है कि नारियल तेल से मसाज करने से स्ट्रेच मार्क्स को काफी हद तक कम करने में मदद मिल सकती है (1)। वहीं, एक अन्य शोध में भी इस बात का जिक्र मिलता है कि नारियल तेल को नियमित रूप से लगाने से स्ट्रेच मार्क्स से बचाव हो सकता है (2)

इसके अलावा, नारियल का तेल फाइब्रोब्लास्ट व त्वचा के कोलेजन के उत्पादन को बढ़ाने में सहायता कर सकता है (3)। बता दें, फाइब्रोब्लास्ट और कोलेजन की कमी स्ट्रेच मार्क्स के प्रमुख कारण हैं (4)। इसलिए, स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल के तेल का इस्तेमाल उपयोगी हो सकता है।

लेख को पढ़ते रहें

चलिए, लेख में आगे स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल तेल के इस्तेमाल के बारे में जानते हैं।

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल तेल का उपयोग कैसे करें- How To Use Coconut Oil For Stretch Marks In Hindi

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल अलग-अलग सामग्री के साथ किया जा सकता है। यहां हम क्रमवार तरीके से खिंचाव के निशान के लिए नारियल तेल के उपयोग के तरीकों के बारे में बता रहे हैं। इन्हें जानने से पहले यह समझ लें कि स्ट्रेच मार्क्स से पूरी तरह से निजात नहीं पाया जा सकता है। नीचे बताए गए उपाय कुछ हद तक स्ट्रेच मार्क्स के निशान को हल्का करने में मदद कर सकते हैं। लेख में आगे पढ़ें नारियल तेल की मदद से स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के उपाय:

1. नारियल तेल

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल तेल

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले नारियल तेल को हल्का गुनगुना कर लें।।
  • फिर पांच मिनट तक प्रभावित क्षेत्र पर गुनगुने तेल से मालिश करें।
  • रातभर इसे लगाकर छोड़ सकते हैं।
  • इस प्रक्रिया को रोजाना रात को सोने से पहले दोहरा सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

नारियल तेल की मालिश को स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए उपयोगी माना जाता है। दरअसल, एक शोध में जिक्र मिलता है कि नारियल तेल में उच्च मात्रा में विटामिन ई मौजूद होता है (5)। वहीं, विटामिन ई फाइब्रोब्लास्ट व त्वचा के कोलेजन के उत्पादन को बढ़ावा देने में अहम भूमिका निभा सकता है (6)। फाइब्रोब्लास्ट व कोलेजन का उत्पादन बढ़ने से स्ट्रेच मार्क्स कम हो सकते हैं (4)। इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि खिंचाव के निशान को कम करने में नारियल तेल का इस्तेमाल लाभकारी हो सकता है। 

2. नारियल तेल और एलोवेरा

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक चम्मच ताजा एलोवेरा जेल

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले नारियल तेल को गुनगुना कर लें।
  • फिर इसमें एलोवेरा जेल को अच्छी तरह मिलाएं।
  • तैयार मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर हल्के हाथों से मसाज करते हुए लगाएं।
  • इसे रातभर के लिए छोड दें।
  • इसका उपयोग रोजाना रात को सोने से पहले कर सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के घरेलू उपाय के तौर पर नारियल के तेल के साथ एलोवेरा का उपयोग किया जा सकता है। एक शोध में एलोवेरा को स्ट्रेच मार्क्स का कारगर इलाज बताया गया है (7)। इसके अलावा, एक अन्य शोध में कहा गया है कि एलोवेरा कोलेजन में वृद्धि कर सकता है (8)। लेख में पहले ही बताया जा चुका है कि स्ट्रेच मार्क्स को कम करने में मदद हो सकती है। इस आधार पर नारियल तेल और एलोवेरा का मिश्रण स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए काफी हद तक प्रभावतारी हो सकता है।

3. नारियल तेल और अरंडी का तेल

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक चम्मच अरंडी का तेल

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले दोनों तेलों को अच्छी तरह मिलाकर गुनगुना करें।
  • अब इस मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र पर लगाकर हल्के हाथ से मालिश करें।
  • इसे त्वचा में समाने दें। इस प्रक्रिया को हर रात को अपनाया जा सकता है।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए नारियल का तेल किस प्रकार से मदद करता है, इस संबंध में हम ऊपर जानकारी दे चुके हैं। वहीं, अरंडी का तेल भी खिंचाव के निशानों को ठीक करने में सहायक भूमिका निभा सकता है (9)। विशेषज्ञों द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार, अरंडी के तेल में लिनोलेनिक एसिड व रिसिनोलिक एसिड जैसे महत्वपूर्ण फैटी एसिड होते हैं, जो त्वचा में नमी को बरकरार रखने में मदद कर सकते हैं। साथ ही, यह स्किन इलास्टिसिटी यानि त्वचा की लोच में भी सुधार कर सकता है। इससे स्ट्रेच मार्क्स को कम करने में काफी हद तक मदद हो सकती है (10)

4. नारियल तेल और हल्दी

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक छोटी चम्मच हल्दी पाउडर

उपयोग का तरीका : 

  • नारियल तेल और हल्दी पाउडर को अच्छी तरह मिलाएं।
  • इस मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर हल्के हाथों से मसाज करते हुए लगाएं।
  • इसे कम से कम एक घंटे तक लगे रहने दें।
  • अब नॉर्मल पानी से धोकर प्रभावित जगह पर मॉइस्चराइजर लगा लें।
  • हर रोज इसे एक सो दो बार लगाया जा सकता है।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल के तेल के साथ हल्दी का इस्तेमाल अधिक प्रभावी हो सकता है। जैसा कि लेख में पहले ही जानकारी दी गई है कि नारियल तेल फाइब्रोब्लास्ट व कोलेजन के उत्पादन में वृद्धि कर स्ट्रेच मार्क्स को कम कर सकता है (3)। वहीं, एक शोध में इस बात का जिक्र है कि हल्दी भी कोलेजन और फाइब्रोब्लास्ट को बढ़ावा दे सकती है (11)। बता दे, कोलेजन और फाइब्रोब्लास्ट त्वचा की संरचना को बनाए रखने के साथ स्ट्रेच मार्क्स को कम कर सकते हैं (4)

5. नारियल तेल, नमक और चीनी

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक चम्मच नमक
  • एक चम्मच चीनी

उपयोग का तरीका : 

  • नारियल के तेल में नमक और चीनी को अच्छी तरह मिलाएं।
  • इस मिश्रण से प्रभावित जगह पर करीब 2-3 मिनट तक हल्के हाथों से मसाज करें।
  • फिर आधे घंटे के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद साफ पानी से धोकर मॉइस्चराइजर लगा लें।
  • इस प्रक्रिया को रोजाना एक बार उपयोग में ला सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स को कम करने में नारियल तेल किस तरह सकारात्मक प्रभाव दर्शा सकता है, इस बारे में लेख में पहले ही जानकारी दी जा चुकी है। वहीं इसमें नमक और चीनी मिला ली जाए तो यह और भी कारगर उपाय साबित हो सकता है। दरअसल, एक शोध में बताया गया है कि नमक में मैग्नीशियम होता है, जो त्वचा की कोमलता बढ़ाने और एक्सफोलिएशन यानी मृत त्वचा को  साफ करने में बढ़ावा दे सकता है (12)। इसके अलावा, शक्कर को भी स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए कारगर माना जाता है। हालांकि, अभी इस संबंध में किसी तरह का स्पष्ट वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं हैं।

6. नारियल तेल और जैतून का तेल

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • आधा चम्मच जैतून का तेल

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले दोनों तेल अच्छे से मिला लें।
  • अब इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगाकर हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसे रात भर लगाकर छोड़ दें और अगले दिन सुबह साफ पानी से धो लें।
  • ऐसा हर रात में सोने से पहले कर सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल और जैतून के तेल का मिश्रण प्रभावी साबित हो सकता है। दरअसल, जैतून के तेल में विटामिन-ई की अच्छी मात्रा पाई जाती हैं, जिस कारण इसे स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने के लिए उपयोग में लाया जा सकता है (13)। विटामिन ई फाइब्रोब्लास्ट व त्वचा के कोलेजन के उत्पादन को बढ़ावा दे सकता है, इस संबंध में हम ऊपर जानकारी दे चुके हैं।

7. नारियल तेल और टी ट्री ऑयल

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • तीन से चार बूंद टी ट्री ऑयल

उपयोग का तरीका : 

  • नारियल तेल में टी ट्री ऑयल की बूंदे डालकर अच्छी तरह से मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाकर थोड़ी देर मालिश करें।
  • इसके बाद एक घंटे के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो लें।
  • इसे धोने के बाद मॉइस्चराइजर लगा सकते हैं।
  • इस विधि को दिन में एक बार अपना सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए नारियल का तेल और टी ट्री ऑयल को उपयोग में लाया जा सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के मुताबिक, टी ट्री ऑयल में विटामिन सी और ई पाए जाते हैं (14)। विटामिन सी और ई फाइब्रोब्लास्ट और कोलेजन को बढ़ाने में सहायक हो सकते हैं (5)। ऐसे में स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा पाने के लिए नारियल और टी ट्री ऑयल का मिश्रण लाभकारी माना जा सकता है।

8. नारियल तेल और शिया बटर

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक चम्मच शिया बटर

उपयोग का तरीका : 

  • ऊपर दिए दोनों सामग्री को अच्छे से मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स से प्रभावित जगह पर लगाकर थोड़ी देर हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसे रात में सोने से पहले लगाकर छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को रोजाना दोहरा सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल तेल कितना लाभकारी है, यह तो आप जान ही चुके हैं। वहीं, इसमें अगर शिया बटर मिला दें, तो यह मिश्रण और भी फायदेमंद हो सकता है। एक शोध के अनुसार, नारियल तेल खिचाव के निशान में सुधार कर सकता है (2)। वहीं, एक अन्य शोध में कहा गया है कि शिया बटर त्वचा को सूदिंग यानी त्वचा को आराम देने के साथ गर्भवती महिलाओं में खिंचाव के निशान को रोकने में उपयोगी हो सकता है (15)। फिलहाल शिया बटर का कौन सा गुण ऐसा करता है, इस बात का ज्ञात नहीं हो पाया है।

9. नारियल तेल और नींबू का रस

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • आधा चम्मच नींबू का रस

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले नारियल तेल और नींबू के रस को मिला लें।
  • फिर इस मिश्रण से स्ट्रेच मार्क्स से प्रभावित त्वचा पर मसाज करें।
  • इसके बाद आधे घंटे के लिए छोड़ दें।
  • अब उस हिस्से को पानी से धोकर मॉइस्चराइजर लगाएं।
  • इस उपचार की प्रक्रिया को हर दिन एक बार कर सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

त्वचा के लिए नींबू के रस के फायदे कई सारे हैं, जिसमें स्ट्रेच मार्क्स को दूर करना भी एक है।  एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के मुताबिक, नींबू में विटामिन सी की भरपूर मात्रा होती है (16)। बता दें, विटामिन सी खिंचाव के निशान को काफी हद तक कम कर सकता है (17)। इस तरह, नारियल तेल और नींबू के रस का मिश्रण स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए लाभकारी हो सकता है।

10. नारियल तेल और बेकिंग सोडा

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • आधा चम्मच बेकिंग सोडा

उपयोग का तरीका : 

  • बेकिंग सोडा और नारियल तेल को अच्छी तरह मिला लें।
  • इस मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाकर कुछ मिनट मालिश करें।
  • अब इसे करीब 10 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर साफ पानी से धो लें।
  • इसे धोने के बाद मॉइस्चराइजर लगा सकते हैं।
  • इस विधि को हफ्ते में दो बार कर सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

त्चचा संबंधित कई परेशानियों के लिए बेकिंग सोडा का इस्तेमाल सालों से किया जा रहा है (18)। स्ट्रेच मार्क्स कम करने के घरेलू उपाय के तौर पर बेकिंग सोडा और नारियल तेल के मिश्रण का इस्तेमाल उपयोगी हो सकता है। हालांकि, इस संबंध में कोई वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं है। लोगों की मान्यताओं के आधार पर स्ट्रेच मार्क्स के लिए बेकिंग सोडा को कारगर माना जाता है। ऐसे में नारियल तेल के साथ बेकिंग सोडा का इस्तेमाल खिंचाव के निशान को कम करने के लिए ट्राउल के रूप में किया जा सकता है।

11. नारियल तेल और कॉफी स्क्रब

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल तेल
  • एक चम्मच कॉफी पाउडर

उपयोग का तरीका : 

  • कॉफी पाउडर को नारियल तेल के साथ मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र पर लगाकर 5 मिनट तक हल्के हाथों से मालिश करें।
  • फिर इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद साफ पानी से साफ कर लें।
  • इसके बाद मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें।
  • हफ्ते में दो बार इसका उपयोग किया जा सकता है।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल का तेल का उपयोग किस तरह से फायदेमंद होता है, इस बारे में ऊपर लेख में विस्तार  से जानकारी दी गई है। वहीं, कॉफी के अर्क में क्लोरोजेनिक एसिड, क्विनिक एसिड और फेरुलिक एसिड होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट गतिविधि प्रदर्शित कर सकते हैं, जिससे फाइन लाइन्स, झुर्रियों और पिगमेंटेशन में सुधार हो सकता है (19)। इसका कुछ हद तक सकारात्मक असर खिंचाव के निशान को कम करने के लिए दिखाई दे सकता है।

12. नारियल तेल और वैसलीन

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक चम्मच वैसलीन

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले नारियल तेल से 5 मिनट तक स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह की मालिश करें।
  • 10 मिनट बाद वैसलीन को स्ट्रैच मार्क्स पर लगाएं।
  • इसे रात भर के लिए लगाकर छोड़ दें।
  • जब तक स्ट्रेच मार्क्स पर इसका असर नजर न आए, इसका इस्तेमाल हर दिन दोहराएं।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए नारियल के तेल के साथ वैसलीन का मिश्रण भी कारगर सिद्ध हो सकता है। एनसीबीआई पर उपलब्ध एक शोध के अनुसार, वैसलीन में ओकुलिसिव (Occlusive) प्रोपर्टीज होती हैं, जो कुछ हद तक खिंचाव के निशानों को रिकवर करने में मदद कर सकता है (20)। यही कारण है कि स्ट्रेच मार्क्स से निजात पाने के लिए नारियल तेल और वैसलीन के मिश्रण के इस्तेमाल को गुणकारी माना जाता है।

13. नारियल का तेल और अंडे का सफेद भाग

जरूरी सामग्री : 

उपयोग का तरीका : 

  • अंडे का सफेद भाग और नारियल के तेल को अच्छी तरह मिलाएं।
  • अब मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं।
  • इसे 10 मिनट तक लगे रहने दें।
  • इसके बाद त्वचा को साफ करें और मॉइस्चराइजर लगाएं।
  • स्ट्रेच मार्क्स से राहत पाने के लिए इस प्रक्रिया को रोजाना एक बार दोहराएं।

कैसे हैं लाभकारी :

नारियल तेल के फायदे स्ट्रेच मार्क्स पर किस तरह से होते हैं, इस संबंध में हमने ऊपर विस्तार से बताया है। वहीं, इसके साथ इस्तेमाल किए जाने वाले अंडे के सफेद भाग को भी खिंचाव के निशान को कम करने के लिए इस्तेमाल में लाया जा सकता है। दरअसल, एक शोध में साफ तौर से इस बात का जिक्र मिलता है कि अंडे में कोलेजन पाया जाता है (21)। वहीं, लेख में पहले ही बताया जा चुका है कि कोलेजन में वृद्धि स्ट्रेच मार्क्स से राहत प्रदान करने में मदद कर सकती है।

14. नारियल तेल और विटामिन ई तेल

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • एक विटामिन ई कैप्सूल

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले विटामिन ई कैप्सूल से तेल को निचोड़ें लें।
  • अब नारियल और विटामिन ई तेल मिलाएं।
  • फिर तैयार मिश्रण से स्ट्रेच मार्क्स पर मसाज करें।
  • इसे रात भर लगा रहने दें।
  • बेहतर परिणाम के लिए रोजाना रात को सोने से पहले इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे हैं लाभकारी :

जैसा कि हमने पहले भी लेख में बताया है कि नारियल का तेल किस प्रकार स्ट्रेच मार्क्स को कम कर सकता है। वहीं, इसके साथ विटामिन-ई का इस्तेमाल किया जाए, तो खिंचाव के निशान हटाने के लिए इसके लाभ दोगुना हो सकते हैं। दरअसल, विटामिन ई के नियमति उपयोग से कुछ ही हफ्तों में स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा मिल सकता है (22)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के लिए नारियल के तेल के साथ विटामिन ई का इस्तेमाल प्रभावी हो सकता है।

15. नारियल तेल और कपूर

जरूरी सामग्री : 

  • एक चम्मच नारियल का तेल
  • दो बूंद कपूर का तेल

उपयोग का तरीका : 

  • ऊपर दिए गए दोनों तेल को मिला लें।
  • अब इसे प्रभावित क्षेत्र पर धीरे-धीरे मालिश करते हुए लगाएं।
  • इसे 5 मिनट के लिए लगे रहने दें।
  • इसके बाद इसे धोकर मॉइस्चराइजर लगा लें।
  • इसका इस्तेमाल हफ्ते में तीन से चार बार किया जा सकता है।

कैसे हैं लाभकारी :

स्ट्रेच मार्क्स के उपचार के तौर पर नारियल तेल का उपयोग किया जा सकता है, इस बात से तो सभी अच्छे से वाकिफ हैं। वहीं, नारियल तेल के साथ कपूर मिलाने से इसका असर तेजी से हो सकता है। हालांकि, कपूर स्ट्रेच मार्क्स को कम करता है या नहीं, इसको लेकर वैज्ञानिक शोध की आवश्यकता है। जानकारों का मानना है कि कपूर के इस्तेमाल से खिंचाव के निशान कम हो सकते हैं। वहीं, एक शोध के अनुसार, कपूर में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो डैमेज  स्किन को रिपेयर करने में मदद कर सकते हैं (23)। ऐसे में स्ट्रेच मार्क्स से राहत पाने के लिए इस नुस्खे को ट्राई किया जा सकता है।

पढ़ना जारी रखें

आइए, अब जान लेते हैं कि स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल तेल के इस्तेमाल से जुड़े कुछ टिप्स और सावधानियों के बारे में।

स्ट्रेच मार्क्स के लिए नारियल तेल के उपयोग से जुड़े टिप्स और सावधानियां- Tips & Precautions

नारियल तेल को त्वचा में लगाने से पहले कुछ सावधानियों को ध्यान में रखना जरूरी है, जो कुछ इस तरह हैं:

  • नारियल तेल या लेख में बताई गई किसी भी सामग्री का इस्तेमाल करने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।
  • स्ट्रेच मार्क्स के लिए हमेशा वर्जिन कोकोनट ऑयल का चयन करें।
  • संवेदेनशील त्वचा वाले इस तेल का इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सक से सलाह लें।
  • अगर किसी को लेख में दिए गए किसी भी घरेलू उपाय से एलर्जिक रिएक्शन होता है, तो उसका उपयोग बंद कर दें।
  • अगर बाजार से नारियल तेल खरीद रहे हैं, तो यह सुनिश्चित कर लें कि इसमें रसायन न मिला हो।

तो इस लेख के जरिए नारियल तेल से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय आप जान ही चुके हैं। हम उम्मीद करते हैं लेख में बताए गए नारियल तेल के उपयोग के तरीके खींचाव के निशान की समस्या से काफी हद तक राहत दिलनाने में सहायक साबित होंगे। वहीं, इस बात का खास ख्याल रखें कि नारियल तेल का प्रभाव नजर आने में समय लग सकता है, इसलिए संयम जरूर बरतें। यदि आपके आस-पास कोई स्ट्रेच मार्क्स से परेशान है तो उनके साथ इस आर्टिकल को जरूर शेयर करें। ऐसे ही अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहिए स्टाइलक्रेज की वेबसाइट से।

इस लेख के अंतिम भाग में स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए नारियल तेल लगाने से जुड़े कुछ सवालों के जवाब दे रहे हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

खिंचाव के निशान हटाने में नारियल का तेल कितना समय लेता है?

हर व्यक्ति की त्वचा पर नारियल तेल का असर अलग-अलग तरीके से होता है। इसके उपयोग से कुछ लोगों के स्ट्रेच मार्क्स 3-4 हफ्ते में कम हो जाते हैं,  तो कुछ लोगों के स्ट्रेच मार्क्स को कम होने में महीने लग सकते हैं। ऐसे में यह स्पष्ट रूप से कहना काफी मुश्किल है कि नारियल तेल के इस्तेमाल से कितने समय में स्ट्रेच मार्क्स हट सकते हैं।

क्या गर्भवती पेट के लिए नारियल का तेल अच्छा है?

जी हां, नारियल का तेल गर्भवती के पेट के लिए अच्छा हो सकता है। इसे गर्भावस्था के समय पेट पर होने वाले खिंचाव के निशान के लिए उपयोग कर सकते हैं (24)

संदर्भ (Sources):

  1. The use of anti stretch marks’ products by women in pregnancy: a descriptive, cross-sectional survey
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5031338/
  2. Phytochemical Analysis of Cocos nucifera L
    https://jprsolutions.info/files/final-file-57a7ee63968347.14684687.pdf
  3. Anti-Inflammatory and Skin Barrier Repair Effects of Topical Application of Some Plant Oils
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5796020/
  4. Stretch Marks
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK436005/
  5. Vitamins E and C may increase collagen turnover by intramuscular fibroblasts. Potential for improved meat quality
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/21175176/
  6. Coconut oil: what do we really know about it so far?
    https://www.researchgate.net/publication/332565821_Coconut_oil_what_do_we_really_know_about_it_so_far
  7. Plants used to treat skin diseases
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3931201/
  8. ALOE VERA: A SHORT REVIEW
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2763764/
  9. Castor Oil Plant (Ricinus communis L.): Botany, Ecology and Uses
    https://www.ijsr.net/archive/v3i5/MDIwMTMyMDY1.pdf
  10. Biomaterials Based on Essential Fatty Acids and Carbohydrates for Chronic Wounds
    https://japsonline.com/admin/php/uploads/1673_pdf.pdf
  11. Potential of Curcumin in Skin Disorders
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6770633/
  12. Interaction of mineral salts with the skin: A literature survey
    https://www.researchgate.net/publication/227393833_Interaction_of_mineral_salts_with_the_skin_A_literature_survey
  13. Stretch marks during pregnancy: a review of topical prevention
    https://deepblue.lib.umich.edu/bitstream/handle/2027.42/110856/bjd13426.pdf?sequence=1&isAllowed=y
  14. In Vitro Evaluation of Antioxidant and Antimicrobial Activities of Melaleuca alternifolia Essential Oil
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5960548/
  15. Effects of Topical and Dietary Use of Shea Butter on Animals
    https://www.researchgate.net/publication/277021242_Effects_of_Topical_and_Dietary_Use_of_Shea_Butter_on_Animals
  16. Citrus limon (Lemon) Phenomenon—A Review of the Chemistry, Pharmacological Properties, Applications in the Modern Pharmaceutical, Food, and Cosmetics Industries, and Biotechnological Studies
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7020168/
  17. Preliminary study on the development of an antistretch marks water-in-oil cream: ultrasound assessment, texture analysis, and sensory analysis
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5019162/
  18. Antibacterial activity of baking soda
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12017929/
  19. Skin Ageing: Natural Weapons and Strategies
    https://downloads.hindawi.com/journals/ecam/2013/827248.pdf
  20. Effects of petrolatum on stratum corneum structure and function
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/1564142/
  21. Risk factors for the formation of striae gravidarum in women in Jiangsu Province of China
    https://www.sciencedirect.com/science/article/pii/S1028455919301652
  22. Aegeia Skin Care, LLC
    https://www.fda.gov/inspections-compliance-enforcement-and-criminal-investigations/warning-letters/aegeia-skin-care-llc-512736-02172017
  23. Study of management of superficial burn wounds (up to 30%), using camphor and coconut oil, in 2000 patients
    https://statperson.com/Journal/ScienceAndTechnology/Article/Volume14Issue2/14_2_13.pdf
  24. The use of anti stretch marks’ products by women in pregnancy: a descriptive, cross-sectional survey https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5031338/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख