सामग्री और उपयोग

सूरजमुखी के बीज के 14 फायदे, उपयोग और नुकसान – Sunflower Seeds Benefits in Hindi

by
सूरजमुखी के बीज के 14 फायदे, उपयोग और नुकसान – Sunflower Seeds Benefits in Hindi Hyderabd040-395603080 August 13, 2019

सूरजमुखी के फूल दुनिया के चुनिंदा खूबसूरत फूलों में गिने में जाते हैं। ये जितने देखने में आकर्षक लगते हैं, उससे कहीं ज्यादा गुणकारी हैं। इसका पूरा राज छुपा है, सुरजमुखी के बीज में। दरअसल, अभी तक हुए कई अध्ययनों में सूरजमुखी के बीज के औषधीय गुणों के बारे में पता चला है, जो शरीर को कई तरह से लाभ पहुंचाने का काम कर सकते हैं।

इस लेख के जरिए आप न सिर्फ सूरजमुखी के बीज खाने के फायदे जानेंगे, बल्कि हम आपको इसके पौष्टिक तत्वों और उपयोग के बारे में भी बताएंगे। आइए, जानते हैं सूरजमुखी के बीज के फायदे।

सूरजमुखी के बीज क्या हैं और आपकी सेहत के लिए क्यों अच्छे हैं?

सूरजमुखी के बीज सूरजमुखी को एक कारगर औषधि बनाने का काम करते हैं। जब सूरजमुखी के फूल सूख जाते हैं, तो उनकी पंखुड़ियां झड़ जाती हैं और फूल के बचे मध्य भाग में बीज बच जाते हैं, जिन्हें आसानी से निकाल लिया जाता है। एक अनुमान के मुताबिक, सूरजमुखी में लगभग दो हजार से ज्यादा बीज हो सकते हैं। इसके बीज मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं, एक जो बीज आप खा सकते हैं और दूसरे वो बीज जिससे सूरजमुखी का तेल निकाला जाता है।

अब बात करते हैं, सूरजमुखी बीज के फायदों की। सूरजमुखी के बीज औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं, जिनका सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जाता है। सूरजमुखी के बीज कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन और कई अन्य पौष्टिक तत्वों से समृद्ध होते हैं। ये शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाने का काम कर सकते हैं। इस लेख के आगे के भाग में हम इसी बारे में विस्तार से जानकारी देंगे (1)।

सूरजमुखी के बीज के फायदे अनेक हैं, जिनमें से कुछ की जानकारी हम नीचे आपको बता रहे हैं।

सूरजमुखी के बीज के फायदे – Benefits of Sunflower Seeds in Hindi

1. दिल के लिए सूरजमुखी के बीज के फायदे

1. दिल के लिए सूरजमुखी के बीज के फायदे Pinit

iStock

सूरजमुखी के बीज में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी के साथ-साथ घाव को भरने का गुण (wound-healing) भी होता है। सूरजमुखी के बीज में फ्लेवोनॉइड, पॉलीसैचुरेटेड फैटी एसिड और विटामिन मौजूद होते हैं, जो ह्रदय संबंधी समस्याओं से बचाव करने का काम करते हैं (2)। जरूरी नहीं कि जिनको दिल की समस्या है, वही इसका सेवन करें, जिनको ह्रदय रोग नहीं है, वो भी इसका सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इसके सेवन से ह्रदय स्वास्थ्य बरकरार रहता है। याद रखें कि दिल स्वस्थ तो आप स्वस्थ।

2. कोलेस्ट्रॉल के लिए सूरजमुखी के बीज के फायदे

अगर आपको कोलेस्ट्रॉल की समस्या है या भविष्य में कोलेस्ट्रॉल की समस्या से बचना है, तो आप सूरजमुखी के बीज के तेल को खाने में उपयोग कर सकते हैं। इसमें ओलेइक और लिनोलिक फैटी एसिड (oleic & linoleic acid) की प्रचुर मात्रा होती है, जो एलडीएल (LDL  cholesterol) यानी हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद कर सकता है (2), (3)। जिससे कई तरह की ह्रदय संबंधी समस्याओं से भी बचाव हो सकता है। इसलिए, आप अपने खाने के लिए सूरजमुखी के तेल का उपयोग एक स्वस्थ विकल्प के तौर पर कर सकते हैं।

3. कैंसर के सूरजमुखी के बीज

3. कैंसर के सूरजमुखी के बीज Pinit

iStock

लिगनेन युक्त खाद्य पदार्थ हार्मोन बदलाव से जुड़े कैंसर से बचाव कर सकते हैं। महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर के खतरे में इसके लाभ देखे जा सकते हैं। दरअसल, सूरजमुखी के बीज का सेवन महिलाओं को मेनोपॉज के बाद ब्रेस्ट कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है (4)। सूरजमुखी के बीज में लिगनेन मौजूद होता है, जो सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। लिगनेन एक प्रकार के पॉलीफेनोल होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करते हैं (5) (6)।

4. हड्डियों के लिए सूरजमुखी के बीज

अगर शुरुआत से ही हड्डियों का ध्यान न रखा गया, तो बढ़ती उम्र का प्रभाव हड्डियों पर भी पड़ने लगता है। इसलिए, पोषक तत्वों से भरपूर आहार को अपनी डाइट में शामिल करना जरूरी है। खासकर, आयरन, कैल्शियम व जिंक (7) और सूरजमुखी के बीज में आयरन, जिंक, कैल्शियम मौजूद होते हैं, जो हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं (8), (9)।

5. दिमाग के लिए सूरजमुखी के बीज

5. दिमाग के लिए सूरजमुखी के बीज Pinit

iStock

मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी पोषक तत्व जरूरी होते हैं। बढ़ती उम्र का असर दिमाग पर भी पड़ता है, जिससे कई तरह की मस्तिष्क संबंधी समस्याएं (भूलने की बीमारी, सोचने की शक्ति कमजोर होना) उत्पन्न हो सकती हैं। ऐसे में सूरजमुखी के बीज आपकी मदद कर सकते हैं। सूरजमुखी के बीज में कैल्शियम व जिंक जैसे पोषक तत्व होते हैं, जो मस्तिष्क विकास में लाभकारी हो सकते हैं (10)।

6. मधुमेह के लिए सूरजमुखी के बीज

मधुमेह के मरीजों को हमेशा दुविधा महसूस होती है कि क्या खाएं और क्या न खाएं। यहां सुरजमुखी की अहम भूमिका देखी जा सकती है। मधुमेह के मरीज सूरजमुखी के बीज को स्नैक्स के तौर पर खा सकते हैं या सूरजमुखी के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं।

इसमें पोलीसैचुरेटेड फैट होता है। साथ ही इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा भी कम होती है, जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद कर सकती है (11), (12)। अगर आप सूरजमुखी के तेल का उपयोग कर रहे हैं, तो ध्यान रखें कि आप एक दिन में तीन चम्मच से ज्यादा तेल का उपयोग न करें (13)।

7. सूरजमुखी बीज में एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण

कई बार इन्फ्लेमेशन यानी सूजन के कारण भी शरीर में कई बीमारियां होने लगती है, जैसे – डायबिटीज, कैंसर, अल्जाइमर, हड्डियों और त्वचा से संबंधित समस्याएं शामिल हैं। इस स्थिति में सूरजमुखी के बीज या तेल काफी उपयोगी हो सकता है, क्योंकि इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं (6) (14) (15)।

8. एस्ट्रोजेन असंतुलन को नियंत्रित करता है

एस्ट्रोजेन एक प्रकार का हॉर्मोन होता है, जिसके असंतुलन से शरीर में कई तरह की समस्याएं जैसे – थायराइड, डायबिटीज व ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है। वहीं, सूरजमुखी में फाइटोएस्ट्रोजेन होते हैं, जो एस्ट्रोजन को संतुलित करने का काम कर सकते हैं। फाइटोएस्ट्रोजेन को एस्ट्रोजन रिप्लेसमेंट थेरेपी के लिए प्राकृतिक विकल्प के रूप में उपयोग किया जा सकता है (16)। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, फायटोएस्ट्रोजन ब्रेस्ट कैंसर के जोखिम कम कर सकता है (17)। यहां तक कि मेनोपॉज के बाद होने वाले कैंसर के खतरे को भी यह कम करने का कम करता है (18)।

9. ऊर्जा बढ़ाने के लिए सूरजमुखी के बीज

शरीर सही तरीके से काम करे उसके लिए ऊर्जा की जरूरत होती है। ऐसे में मेवे और बीज फायदेमंद साबित माने जाते हैं (19)। सूरजमुखी के बीज भी पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और ऊर्जा का एक अच्छा स्रोत माने गए हैं। शरीर में ऊर्जा का प्रवाह बनाए रखने के लिए आप सूरजमुखी के बीज का सेवन कर सकते हैं (6)।

10. रुमेटाइट अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis)

10. रुमेटाइट अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) Pinit

iStock

यह शरीर में सूजन के वजह से होने वाली जोड़ों से संबंधित समस्या है। इसमें हाथ-पैर व कोहनी के जोड़ों में दर्द होने की शिकायत होती है। ऐसे में सूरजमुखी तेल के कैप्सूल का सेवन इस समस्या से राहत दिला सकता है (20)। हालांकि, इसका सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टरी परामर्श जरूरी है।

11. कब्ज के लिए सूरजमुखी के बीज के फायदे

कब्ज की शिकायत किसी को भी हो सकती है, ऐसे में फाइबर युक्त सूरजमुखी के बीज का सेवन लाभकारी हो सकता है (21)। ध्यान रहे कि आप सूरजमुखी के बीज का सेवन उसके छिलके को हटाकर करें। छिलके के साथ इसका सेवन फायदे के बजाय नुकसानदायक होता है।

12. सूरजमुखी के बीज के एंटी-माइक्रोबियल गुण

सूरजमुखी के बीज में एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-बैक्टीरियल व एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो शरीर को हानिकारक बैक्टीरिया से बचाने का काम करते हैं। इस कारण शरीर से कई बीमारियां दूर रहती हैं और शरीर स्वस्थ रहता है (6)।

13. चमकदार त्वचा के लिए सूरजमुखी के बीज के फायदे

13. चमकदार त्वचा के लिए सूरजमुखी के बीज के फायदे Pinit

iStock

कई बार पानी कम पीने की वजह से या देखभाल की कमी के कारण त्वचा अपनी प्राकृतिक चमक खोने लगती है। ऐसे में सूरजमुखी के बीज का तेल काफी लाभकारी हो सकता है। इसमें मौजूद लिनोलिक एसिड (linoleic acid) त्वचा को हाइड्रेट करके उसकी चमक बढ़ा सकता है (22)।

14. बालों के लिए सूरजमुखी के बीज

14. बालों के लिए सूरजमुखी के बीज Pinit

iStock

खूबसूरत लंबे बालों की चाहत लगभग हर किसी को होती है, लेकिन देखभाल की कमी, धूल-मिट्टी और प्रदूषण से बाल खराब होने लगते हैं। साथ ही शरीर में पोषक तत्वों की कमी भी बाल झडने का अहम कारण बनती है (23) (24)। ऐसे में सूरजमुखी के बीज के सेवन से बाल झड़ने की समस्या काफी हद तक ठीक हो सकती है, क्योंकि इसमें विटामिन, आयरन व जिंक जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो बालों को स्वस्थ बनाने में मददगार साबित हो सकते हैं (1)। आप चाहें तो सूरजमुखी के तेल से स्कैल्प और बालों की मालिश कर सकते हैं। इसके अलावा, सूरजमुखी के बीज या तेल युक्त हेयर केयर उत्पादों का उपयोग भी कर सकते हैं।

सूरजमुखी के फायदे जानने के बाद अब बारी आती है, उसमें मौजूद पोषक तत्वों के बारे में जानने की। नीचे हम उसी की सूची आपके साथ साझा कर रहे हैं।

सूरजमुखी के बीज के पौष्टिक तत्व – Sunflower Seeds Nutritional Value in Hindi

अब जानिए सूरजमुखी के बीज में कौन-कौन से पोषक तत्व हैं, जो उन्हें इतना लाभकारी बनाते हैं (1)।

पोषक तत्व   मात्रा प्रति 100 ग्राम
 पानी 4.73 ग्राम
 ऊर्जा 584 केसीएल
 प्रोटीन 20.78 ग्राम
 टोटल लिपिड (फैट) 51.46 ग्राम
 कार्बोहाइड्रेट 20.00 ग्राम
 फाइबर, टोटल डायरी 8.6 ग्राम
 शुगर, टोटल 2.62 ग्राम
    मिनरल
 कैल्शियम 78 मिलीग्राम
 आयरन 5.25 मिलीग्राम
 मैग्नीशियम 325  मिलीग्राम
 फास्फोरस 660 मिलीग्राम
 पोटैशियम 645 मिलीग्राम
 सोडियम 9 मिलीग्राम
 जिंक 5.00 मिलीग्राम
    विटामिन
 विटामिन सी, टोटल एस्कॉर्बिक एसिड 1.4 मिलीग्राम
 थायमिन 1.480 मिलीग्राम
 राइबोफ्लेविन 0.355 मिलीग्राम
 नियासिन 8.335 मिलीग्राम
 विटामिन बी -6 1.345 मिलीग्राम
 फोलेट डीएफई (Folate, DFE) 227 माइक्रोग्राम
 विटामिन बी-12 0.00    माइक्रोग्राम
 विटामिन ए, आरएई (Vitamin A, RAE) 3 माइक्रोग्राम
 विटामिन ए, आईयू (Vitamin A, IU) 50 आई यू
 विटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरोल) 35.17 मिलीग्राम
 विटामिन डी (डी2 + डी 3) 0.0 माइक्रोग्राम
 विटामिन डी 0 आई यू
 विटामिन के (फिलोक्विनोन-phylloquinone) 0.0 माइक्रोग्राम
    लिपिड
 फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड 4.455 ग्राम
 फैटी एसिड, टोटल मोनोसैचुरेटेड 18.528 ग्राम
 फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड 23.137 ग्राम

सूरजमुखी के बीज खाने के फायदे तभी अच्छे से होंगे जब इसे सही तरीके से उपयोग किया जाएगा। नीचे हम आपको सूरजमुखी के बीज के उपयोग का तरीका बता रहे हैं।

सूरजमुखी के बीज का उपयोग – How to Use Sunflower Seeds in Hindi

सूरजमुखी के बीज का उपयोग - How to Use Sunflower Seeds in Hindi Pinit

iStock

सूरजमुखी के बीज के फायदे जल्दी अनुभव करने के लिए उसे सही तरीके से सेवन करना जरूरी है, इसलिए नीचे जानिए सूरजमुखी के बीज के सेवन का तरीका-

  • सूरजमुखी के बीज को छिलकर आप कच्चा खा सकते हैं।
  • आप सूरजमुखी के बीज को छिलकर और फिर उसे भूनकर स्नैक्स के रूप में खा सकते हैं।
  • आप सूरजमुखी बीज का मक्खन की तरह पेस्ट बनाकर उपयोग कर सकते हैं।
  • आप सूरजमुखी बीज को नर्म खाने को कुरकुरा बनाने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।
  • आप इसे सलाद, सैंडविच व पास्ता में भी उपयोग कर सकते हैं। इससे न सिर्फ स्वाद बढ़ेगा, बल्कि पौष्टिकता भी बढ़ेगी।

नोट : अगर बात करें कि इसे कितनी मात्रा में सेवन किया जाए, तो उसके बारे में कोई ठोस जानकारी नहीं है। ऐसा इसलिए, क्योंकि हर व्यक्ति एक दूसरे से अलग होता है और उनके शरीर की जरूरतें भी अलग होती है। इसलिए, सही मात्रा का सेवन करने के लिए आप डॉक्टर या विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

आगे जानिए सूरजमुखी के बीज को स्टोर करने का तरीका।

सूरजमुखी के बीज को कैसे स्टोर करें?

  • आप सूरजमुखी के बीज को एयर टाइट डिब्बे में रख सकते हैं।
  • इसे एयर टाइट बैग में भी रखा जा सकता है।
  • ध्यान रहे कि आप इसे प्लास्टिक के डिब्बे या बैग में न रखें।
  • आप इसे शीशे के जार में रख सकते हैं।
  • इसे शीशे के एयर टाइट जार या डिब्बे में डालकर फ्रिज में भी रख सकते हैं।
  • अगर आपको इसमें से खराब या सड़ी हुई गंध आए, तो इसका उपयोग न करें।

आगे जानिए सूरजमुखी के बीज के नुकसान।

सूरजमुखी के बीज के नुकसान – Side Effects of Sunflower Seeds in Hindi 

अगर कोई भी चीज जरूरत से ज्यादा उपयोग की जाए, तो उसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। ठीक उसी तरह से सूरजमुखी के फायदे हैं तो नुकसान भी हैं। अगर सूरजमुखी के बीज का अत्यधिक सेवन किया जाए, तो वो हानिकारक भी हो सकते हैं। इसलिए, हम आपको सूरजमुखी के बीज के नुकसान बता रहे हैं, ताकि आप सावधानी से इसका सेवन करें।

  • गर्भवती महिलाएं या स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सूरजमुखी के बीज नुकसानदायक साबित हो सकते हैं। इस संबंध में अभी शोध की आवश्यकता है।
  • जब भी सूरजमुखी के बीज का सेवन करें, तो उसका छिलका हटा लें। छिलके के साथ खाने से इसके फायदे न होकर नुकसान होंगे। इससे पेट दर्द और उल्टी जैसी समस्या हो सकती हैं (25)।
  • सूरजमुखी के बीज के सेवन से एलर्जी की समस्या भी हो सकती है। इसमें पित्ती, श्वास संबंधी एलर्जी ( दमा) और कई अन्य एलर्जी शामिल हैं (26), (6)।

सूरजमुखी के फूल की सुंदरता जैसे आंखों को भाती है, वैसे ही उनके बीज की गुणवत्ता शरीर को सेहतमंद बनाती है। ऊपर सूरजमुखी के बीज के फायदे जानने के बाद आप इसे अपने डाइट में शामिल कर इसके गुणों का लाभ उठा सकते हैं। हालांकि, इसका अत्यधिक सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है, जिसके बारे में हमने लेख में आपको बताया है। अगर सूरजमुखी के बीज के सेवन या इस्तेमाल के दौरान कुछ दुष्प्रभाव आपको नजर आते हैं, तो संबंधित डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। इसके अलावा, अगर आपके पास सूरजमुखी के बीज खाने के फायदे से जुड़े कुछ अनुभव या सवाल हैं, तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर शेयर करें।

संबंधित आलेख