तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय – Home Remedies For Mole Removal in Hindi

by

चेहरे, बाजू या शरीर के अन्य हिस्सों पर तिल का होना आम बात है। ये शरीर के कुछ खास हिस्सों जैसे चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने का काम करते हैं, लेकिन किसी एक हिस्से पर इनकी बढ़ती संख्या बदसूरती का कारण बन सकती है। यदि आप भी तिलों की समस्या से तंग आ चुके हैं और इनसे छुटकारा पाना चाहते हैं, तो परेशान होने की बिलकुल भी जरूरत नहीं है। स्टाइल क्रेज के इस लेख में हम आपके लिए कुछ ऐसे ही कारगर तिल हटाने के घरेलू उपाय लेकर आएं हैं, जो चमत्कारी तरीके से आपको तिल की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करेंगे। लेकिन सबसे पहले आइए जान लेते हैं तिल क्या है और शरीर पर तिल के कारण क्या हैं।

तिल होने का कारण – Causes of Moles in Hindi

तिल क्या है? तिल के कारण क्या हैं? इस संबंध में बात करें तो हमें जान लेना चाहिए कि त्वचा पर एकत्रित पिगमेंटेड कोशिकाएं ही हैं, जो तिल के रूप में दिखाई देती हैं। तिल पूरे शरीर में कहीं भी पाए जा सकते हैं (1)। वहीं शरीर पर तिल के कारण पर गौर करें तो इनके होने के निन्मलिखित वजहें हो सकती हैं (1), (2)।

  • शरीर के किसी एक निश्चित स्थान पर मेलेनोसाइट्स (त्वचा में रंगद्रव्य कोशिकाएं) का एकत्रित होना तिल के विकसित होने का मुख्य कारण है।
  • कई स्थितियों में तिल के कारण आनुवांशिक या हार्मोनल बदलाव भी हो सकते हैं।
  • लंबे समय तक धूप में रहना भी तिल होने का एक बड़ा कारण हो सकता है।

तिल के कारण जानने के बाद आइए जानते हैं तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय।

तिल कम करने के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies To Remove Moles in Hindi

Shutterstock

1. बेकिंग सोडा और कैस्टर ऑयल (अरंडी का तेल)

सामग्री
  • आधा चम्मच बेकिंग सोडा
  • दो से तीन बूंद कैस्टर ऑयल
  • एक बैंडेज
कैसे करें इस्तेमाल
  • सबसे पहले बेकिंग सोडा और कैस्टर ऑयल को मिलाकर पेस्ट बनाएं।
  • इसके बाद पेस्ट को तिल पर लगाएं।
  • बैंडेज की सहायता से पेस्ट को कवर करें और इसे रात भर के लिए छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को पांच से छह बार करीब हर रात दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

अनचाहे तिल को दूर करने के उपाय में बेकिंग सोडा और कैस्टर ऑयल का मिक्सचर चमत्कारी असर दिखा सकता है। माना जाता है कि बेकिंग सोडा तिल को प्राकृतिक रूप से जलाकर सुखा सकता है। वहीं साथ में मिलाया गया कैस्टर ऑयल स्किन को रिपेयर कर निशान को हटाने में मदद कर सकता है। हालांकि इस तथ्य की पुष्टि के लिए कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

2. लहसुन

सामग्री

  • लहसुन का एक कली।
  • सूती कपड़े का टुकड़ा।
कैसे करें इस्तेमाल
  • लहसुन को कुचालकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को तिल पर लगाएं।
  • अब ऊपर से सूती कपड़ा लपेट कर रातभर के लिए छोड़ दें।
  • अच्छे परिणाम पाने के लिए तीन सप्ताह तक लगातार इस प्रक्रिया को दोहराया जा सकता है।
कैसे है लाभदायक

तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय में लहसुन भी आपके बड़े काम का साबित हो सकता है। माना जाता है कि लहसुन के पेस्ट का निरंतर उपयोग तिल वाले स्थान की त्वचा को सुखाकर गिरा सकता है। इस प्रकार लहसुन तिल से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकता है।

3. केले का छिलका

Shutterstock

सामग्री
  • केले का छिलका
  • एक एडहेसिव टेप
कैसे करें इस्तेमाल
  • केले के छिलके का एक टुकड़ा तिल वाले स्थान पर रखें।
  • ध्यान रहे, छिलके का गूदे वाला हिस्सा तिल के साथ संपर्क में रहे।
  • इसके बाद छिलके को टेप की सहायता से तिल के साथ मजबूती से बांध दें।
  • रात भर इसे लगा रहने दें।
  • इस प्रक्रिया को तब तक दोहराया जाना चाहिए, जब तक तिल गायब न हो जाए।
कैसे है लाभदायक

चेहरे से तिल हटाने के घरेलू नुस्खे में केले के छिलके को उपयोग में लाया जा सकता है। माना जाता है कि केले के छिलके में कुछ ऐसे प्राकृतिक एंजाइम्स और एसिड पाए जाते हैं, जो शरीर पर मौजूद अनचाहे तिलों को हटाने में कारगर साबित हो सकते हैं। हालांकि इस तथ्य की पुष्टि के लिए वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं हैं।

4. प्याज का रस

सामग्री
  • एक चौथाई प्याज का टुकड़ा।
  • एक ग्लास पानी।
कैसे करें इस्तेमाल
  • प्याज के टुकड़े को पीस कर रस निकाल लें।
  • अब प्याज के रस को तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • इसे ऐसे ही करीब 1 घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय हो जाने के बाद इसे पानी से धो डालें।
  • इसी प्रक्रिया को दिन में 2 से 3 बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

तिल को दूर करने के उपाय में प्याज का रस आपके बड़े काम आ सकता है। माना जाता है कि प्याज के रस में कुछ ऐसे तत्व और एसिड पाए जाते हैं, जो तिल को जड़ से खत्म करने में लाभकारी सिद्ध हो सकते हैं। हालांकि इस बात की पुष्टि के लिए भी कोई वैज्ञानिक तर्क मौजूद नहीं है।

5. गोभी का फूल

सामग्री
  • गोभी फूल के कुछ कटे हुए टुकड़े।
कैसे करें इस्तेमाल
  • गोभी के टुकड़ों को पीस कर रस निकाल लें।
  • इसके रस को तिल वाले स्थान पर अच्छे से मलें।
  • इसके बाद इसे ऐसे ही 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे पानी से धो डालें।
कैसे है लाभदायक

चेहरे से तिल हटाने के घरेलू नुस्खे में गोभी का फूल इस्तेमाल में लाया जा सकता है। दरअसल गोभी के फूल में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है (3)। माना जाता है कि विटामिन सी तिल को सुखाकर गिराने में मदद कर सकता है। हालांकि इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

6. अनानास का रस

सामग्री
  • अनानास का एक टुकड़ा
  • एक गिलास पानी।
कैसे करें इस्तेमाल
  • अनानास के टुकड़े को तिल वाली जगह पर कुछ मिनट तक अच्छे से रगड़ें।
  • जब अनानास का रस तिल के हिस्से पर अच्छी तरह लग जाए, तो उसे कुछ मिनटों के लिए ऐसी ही छोड़ दें।
  • बाद में त्वचा को पानी से साफ करने लें।
  • इस प्रक्रिया को आप दिन में तीन से चार बार दोहरा सकते हैं।
कैसे है लाभदायक

चेहरे से तिल हटाने के तरीके में अनानास एक बेहतरीन उपाय साबित हो सकता है। अनानास के जूस में सिट्रिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है (4)। माना जाता है कि यह एसिड तिल को जड़ से खत्म करने में मदद कर सकता है। हालांकि इस तथ्य की पुष्टि के लिए भी वैज्ञानिक प्रमाण का अभाव है।

7. सेब का सिरका

Shutterstock

सामग्री
  • सेब का सिरका
  • रूई
  • एक एडहेसिव टेप
कैसे करें इस्तेमाल
  • रूई को सेब के सिरके में डुबोएं।
  • भीगी हुई रूई को तिल वाले स्थान पर रखें।
  • टेप की सहायता से रूई को तिल वाले स्थान चिपका दें।
  • अब इसे पांच से छ घंटों के लिए छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को प्रतिदिन तब तक दोहराएं, जब तक तिल की पपड़ी न बनने लगे।
कैसे है लाभदायक

तिल को दूर करने के उपाय में सेब का सिरका काफी लाभकारी साबित हो सकता है। माना जाता है कि सेब के सिरके में मौजूद एसिड तिल को पपड़ी में बदलकर, उसे हटाने में कारगर साबित हो सकती है। इस विषय पर अभी शोध की आवश्यकता है।

8. आयोडीन

सामग्री
  • आयोडीन
  • पेट्रोलियम जेली
कैसे करें इस्तेमाल
  • आयोडीन की एक बूंद तिल के ठीक ऊपर लगाएं।
  • तिल के चारो ओर की त्वचा पर पेट्रोलियम जेली का लेप लगाएं।
  • सुनिश्चित करें कि तिल को छोड़कर त्वचा के अन्य हिस्से पर आयोडीन का संपर्क न हो।
  • इस प्रक्रिया को तिल गायब होने तक किया जा सकता है।
कैसे है लाभदायक

तिल के कारण को जड़ से खत्म करने के लिए आयोडीन को एक अच्छा उपाय माना जाता है। बताया जाता है कि तिल को गायब करने में आयोडीन का इस्तेमाल काफी असरदार साबित हो सकता है। यह तिल वाले स्थान को जलाकर त्वचा को सुखा सकता है।

नोट- आयोडीन का उपयोग यदि निरंतर जलन पैदा करता है तो इसका इस्तेमाल तुरंत बंद कर देना चाहिए।

9. एलोवेरा

सामग्री
  • ताजा एलोवेरा जेल आवश्यतानुसार
  • सूती कपड़े की पट्टी
कैसे करें इस्तेमाल
  • पहले तिल वाली जगह को अच्छे से साफ करें।
  • तिल वाले स्थान पर अच्छे से एलोवेरा जेल को लगाएं।
  • इसके बाद उस स्थान को सूती पट्टी से ढ़ककर बांध दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय में एलोवेरा का इस्तेमाल भी किया जाता है। बता दें एलोवेरा में पोलीसेकेराइड, टैनिन, एंजाइम, विटामिन और खनिज पाए जाते हैं। इसे त्वचा के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए उपयोगी माना जाता है (5)। बताया जाता है कि इसका निरंतर उपयोग तिल को मिटाने में प्रभावकारी असर दे सकता है। हालांकि इस पर अभी शोध की आवश्यकता है।

[ पढ़े: एलोवेरा (घृतकुमारी) के 21 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

10. अलसी का तेल

सामग्री
  • दो से तीन बूंद अलसी का तेल
  • दो से तीन बूंद शहद
  • 1 गिलास पानी
कैसे करें इस्तेमाल
  • सबसे पहले अलसी के तेल और शहद को आपस में मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • दो से तीन घंटे के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • बाद में इसे पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

कैसे है लाभदायक

बताया जाता है कि काफी प्राचीन समय से अलसी के तेल का उपयोग त्वचा की देखभाल और दाग-धब्बों को मिटाने के लिए किया जाता रहा है (6)। इसी कारण यह कहा जाता है कि इसका उपयोग तिल हटाने के नुस्खे के तौर पर किया जा सकता है।

11. नारियल का तेल

सामग्री
  • शुद्ध नारियल का तेल

कैसे करें इस्तेमाल

  • नारियल के तेल की कुछ बूंदें तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • तेल लगाने के बाद इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो बार उपयोग में लाएं।
कैसे है लाभदायक

पुराने समय से नारियल के तेल को त्वचा की देखभाल के लिए प्रयोग में लाया जाता रहा है। ऐसे में कई लोगों का यह भी मानना है कि यह तिल को दूर करने के उपाय में बेहद आसान और लाभकारी सिद्ध होता है। बताया जाता है कि नारियल का तेल त्वचा की देखभाल करने और उसे हाइड्रेट करने के लिए उपयोगी माना जाता है। उसमें पाए जाने वाले कुछ यौगिक और तत्व तिल को जड़ से खत्म करने में भी लाभकारी साबित हो सकते हैं। हालांकि इस बात की पुष्टि के लिए वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

12. धनिया की पत्ती

Shutterstock

सामग्री
  • एक चौथाई कप हरा धनिया
कैसे करें इस्तेमाल
  • हरे धनिए को पीस कर और पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • 10 मिनट के लिए इसे छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को करीब 2 सप्ताह तक प्रतिदिन दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

तिल को हटाने के लिए घरेलू उपचार में धनिया की पत्तियों का इस्तेमाल करने का जिक्र भी अक्सर मिल जाता है। माना जाता है कि यह इस परेशानी से निजात पाने में अपना प्रभावशाली योगदान दे सकती हैं। माना जाता है कि धनिया की पत्तियों में कसैले (Astringent) गुण पाए जाते हैं। जो शुरुआत में त्वचा को ठंडक प्रदान करते हैं। बाद में इसका असर ताप देने वाला हो जाता है। इसका यही गुण तिल से निजात दिलाने में सहायक साबित हो सकता है।

13. हल्दी

सामग्री
  • एक चम्मच हल्दी
  • कुछ बूंदें शहद की
कैसे करें इस्तेमाल
  • हल्दी और शहद को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को तिल पर लगाएं।
  • 15 से 20 मिनट के लिए इसे छोड़ दें।
  • बाद में इसे पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को हर दिन दो बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

आयुर्वेद में हल्दी को कई रोगों की दवा के तौर पर इस्तेमाल में लाया जाता है। वहीं इसके बारे में एक कथन यह भी है कि यह अनचाहे तिलों को दूर करने में भी मददगार साबित हो सकती है। दरअसल हल्दी में एंटीबायोटिक गुण के साथ विटामिन सी (एस्कोर्बिक एसिड) काफी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है (7)। माना जाता है कि हल्दी में मौजूद विटामिन सी तिल को मिटाने में मददगार साबित हो सकता है। तथ्य की पुष्टि के लिए शोध की आवश्यकता है।

[ पढ़े: हल्दी के 25 फायदे, उपयोग और नुकसान ]

14. शहद

सामग्री
  • दो से तीन बूंद शहद
  • सूती कपड़े की पट्टी
कैसे करें इस्तेमाल
  • तिल वाले स्थान पर शहद लगाएं।
  • तिल वाले स्थान को पट्टी से ढकें।
  • इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर पट्टी हटा दें।
  • बाद में शहद वाले स्थान को पानी से धो लें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

अनचाहे तिलों से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खों में शहद का उपयोग बेहद लाभकारी माना जाता है। बता दें शहद में कई तरह के माइक्रोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं (8)। इनके कारण शहद का उपयोग अनचाहे तिलों को हटाने में मददगार साबित हो सकता है। तथ्य की पुष्टि के लिए शोध की आवश्यकता है।

15. नींबू का रस

सामग्री
  • नींबू का रस आवश्यकतानुसार
  • रूई
  • एडहेसिव टेप
कैसे करें इस्तेमाल
  • नींबू के रस में रूई को डुबोकर तिल पर लगाएं।
  • टेप का इस्तेमाल कर रूई को तिल वाली जगह पर चिपकाएं।
  • इसे करीब 20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में करीब दो बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

तिल को हटाने के घरेलू तरीकों में नींबू के रस का इस्तेमाल एक कारगर तरीका साबित हो सकता है। नींबू के रस में कसैले गुणों के साथ विरंजन (ब्लीचिंग) की क्षमता पाई जाती है (9)। नींबू में पाया जाने वाला यह गुण तिल को सुखाकर त्वचा से अलग करने में मददगार साबित हो सकता है।

16. टी ट्री ऑयल

सामग्री
  • टी ट्री ऑयल
  • रूई
कैसे करें इस्तेमाल
  • रूई को टी ट्री ऑयल में डुबाएं।
  • तेल से भीगी रूई की सहायता से तिल वाले स्थान को भिगाएं।
  • इस प्रक्रिया को रोजाना दो से तीन बार दोहराना चाहिए।
कैसे है लाभदायक

अनचाहे तिलों से निजात पाने के लिए आप टी ट्री ऑयल भी उपयोग में ला सकते हैं। प्राचीन समय से टी ट्री ऑयल का उपयोग त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए किया जाता रहा है। ऐसा माना जाता है कि टी ट्री ऑयल में कसैले गुण पाए जाते हैं (10), (11)। चाय के तेल में मौजूद यही गुण तिल की समस्या से निजात दिलाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

17. आलू

सामग्री
  • आलू का एक टुकड़ा
  • सूती कपड़े की पट्टी
कैसे करें इस्तेमाल
  • आलू के टुकड़े को तिल वाली जगह पर अच्छे से रगड़ें।
  • जब त्वचा पर आलू का रस अच्छे से लग जाए तो टुकड़े को पट्टी की मदद से बांध दें।
  • आलू के टुकड़े को चार से सात दिनों तक ऐसे ही बंधा रहने दें।
कैसे है लाभदायक

तिल की समस्या से परेशान लोगों के लिए आलू का उपयोग वैकल्पिक उपचार के तौर पर काम आ सकता है। बताया जाता है कि तिल पर बंधा आलू का टुकड़ा जब सड़कर पूरी तरह गल जाएगा तो उसके साथ ही तिल भी गायब हो जाएगा। बता दें आलू में प्राकृतिक रूप से फार्मेल्डिहाइड (ब्लीचिंग सब्सटेंस) पाया जाता है (12)। यह तिल को हटाने में मददगार साबित हो सकता है। इस विषय पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

18. ग्रेपफ्रूट (चकोतरा)

सामग्री
  • एक या दो बूंद ग्रेपफ्रूट के बीज का अर्क
  • सूती कपड़े की पट्टी
कैसे करें इस्तेमाल
  • ग्रेपफ्रूट के अर्क को सीधे तिल पर लगाएं।
  • तिल वाले स्थान को पट्टी से ढकें।
  • उसे करीब एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

ग्रेपफ्रूट का उपयोग तिल को खत्म करने में असरदार साबित हो सकता है। माना जाता है नींबू की तरह ही ग्रेपफ्रूट में भी कसैले गुणों के साथ विरंजन (ब्लीचिंग) की क्षमता भी पाई जाती है। इसका यह गुण तिल को सुखाकर शरीर से अलग करने में मदद कर सकता है।

19. अंजीर के तने का जूस

Shutterstock

सामग्री
  • अंजीर के तने का टुकड़ा
  • कॉटन बड
कैसे करें इस्तेमाल
  • अंजीर के तने के टुकड़े से रस निकालें।
  • इस रस को कॉटन बड की मदद से तिल पर लगाएं।
  • इसे दो से तीन घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे साफ पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में तीन बार तक दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

तिल हटाने के लिए अंजीर के तने का जूस भी एक बेहतर उपचार साबित हो सकता है। अंजीर के तने में ऑक्सालिक, साइट्रिक, मैलिक, शिमिक और फ्यूमरिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो स्क्रब के रूप में काम करते हैं और ब्लीचिंग एबिलिटी रखते हैं (13)। इस गुण के कारण अंजीर के तने के रस की सहायता से तिल को हटाने में सहायता मिल सकती है।

20. अजवायन का तेल

सामग्री
  • एक या दो बूंद अजवायन का तेल
  • एक या दो बूंद अरंडी का तेल
कैसे करें इस्तेमाल
  • दोनों तेलों को आपस में मिलाएं।
  • इस मिश्रण को तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

अजवायन के तेल की सहायता से भी अनचाहे तिलों की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। अजवायन के तेल में एंटीऑक्सिडेंट, एंटीप्रोलिफेरेटिव और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं (14)। अजवायन के ये गुण त्वचा से तिल को हटाने का काम कर सकते हैं हालांकि इस पर कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

21. लोबान का तेल

सामग्री
  • एक या दो बूंद लोबान का तेल
कैसे करें इस्तेमाल
  • लोबान के तेल को तिल पर लगाएं।
  • इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को हर दिन तीन से बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

तिल हटाने के लिए घरेलू उपचार में लोबान के तेल का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। लोबान के तेल में त्वचा को पुनर्जीवित यानी रिपेयर करने का गुण पाया जाता है (15)। ऐसा माना जाता है कि लोबान का यह गुण त्वचा में खिंचाव पैदा कर सकता है, जिससे तिल सूखकर गिर सकता है।

22. काला मरहम

सामग्री
  • काला मरहम
  • बैंडेज
कैसे करें इस्तेमाल
  • तिल पर मरहम को लगाएं।
  • बाद में उसे बैंडेज की सहायता से कवर करें।
  • हर 12 घंटे में इसी प्रक्रिया को दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो तिल के घरेलू उपचार में काला मरहम का उपयोग करने की सलाह देते हैं। बताया जाता है कि काला मरहम को बनाने के लिए रक्तशोधक (ब्लड प्यूरीफायर) जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है। इसे ज्यादातर त्वचा संबंधी विकार को दूर करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है। संभावना जताई जाती है कि इसका निरंतर उपयोग अनचाहे तिलों से छुटकारा दिला सकता है।

23. हाइड्रोजन पेरोक्साइड

सामग्री
  • हाइड्रोजन पेरोक्साइड
  • कॉटन बड
कैसे करें इस्तेमाल
  • कॉटन बड की सहायता से हाइड्रोजन पेरोक्साइड को तिल पर लगाएं।
  • इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

चेहरे से तिल हटाने के तरीके में हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल किया जा सकता है। आमतौर पर झुर्रियां और त्वचा के निशानों को कम करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है (16)। माना जाता है कि इसका उपयोग अनचाहे तिलों को दूर करने में भी लाभकारी साबित हो सकता है।

24. सिंहपर्णी की जड़ें (Dandelion Root)

सामग्री
  • सिंहपर्णी की जड़ का टुकड़ा आवश्यकतानुसार
कैसे करें इस्तेमाल
  • सिंहपर्णी की जड़ के बीच मौजूद दूध को निकाल लें।
  • इसे तिल पर लगाएं।
  • इसे ऐसे ही करीब एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर इसे धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं।
  • ताजी जड़ ना मिलने की स्थिति में जड़ का पेस्ट बनाकर भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
कैसे है लाभदायक

प्राचीन समय से ही तिल हटाने के घरेलू उपाय में सिंहपर्णी की जड़ों को अचूक और लाभकारी माना जाता रहा है। माना जाता है कि सिंहपर्णी की जड़ में कुछ ऐसे यौगिक पाए जाते हैं, जो त्वचा संबंधी विकार जैसे- फुंसी, घाव, तिल और मस्सों को दूर कर सकने की क्षमता रखते हैं। इसलिए सिंहपर्णी की जड़ से तिल का इलाज किया जा सकता है। तथ्य की पुष्टि के लिए वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं हैं।

25. सिरका

सामग्री
  • सिरका आवश्यकतानुसार
  • रूई
  • एडहेसिव टेप
कैसे करें इस्तेमाल
  • रूई को सिरके में डुबाएं।
  • भीगी हुई रूई को तिल वाले स्थान पर रखें।
  • अब इसे टेप से फिक्स करें।
  • इसे ऐसे ही तीन से चार घंटे के लिए छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।
कैसे है लाभदायक

सिरके के इस्तेमाल से भी तिल का इलाज किया जा सकता है। माना जाता है कि सिरके में मौजूद एसिटिक तत्व विरंजन (ब्लीचिंग) गुण प्रदर्शित करते हैं। सिरके में मौजूद यही गुण तिल का इलाज करने में कारगर साबित हो सकता है।

नोट- ऊपर दिए गए किसी भी तिल हटाने के नुस्खे का कोई वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है। इसलिए दिए गए प्रयोगों को अपनाने से पूर्व अपने त्वचा विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

चेहरे से तिल हटाने के उपाय और उनसे संबंधित घरेलू उपचारों को जानने के बाद अब हम बात करेंगे तिल से बचाव के तरीकों के बारे में।

तिल से बचने के उपाय – Prevention Tips for Moles in Hindi

  • धूप में ज्यादा देर तक न रहें।
  • अगर लंबे समय तक धूप में रहना पड़े तो सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल करें।
  • पहले से मौजूद तिलों की स्थिति पर नजर बनाएं रखें, तिलों की संख्या अधिक होने पर डॉक्टर से संपर्क करें।
  • हफ्ते में दो दिन त्वचा को स्क्रब करें। ताकि डेड सेल्स जमा न होने पाएं, जो आगे चलकर तिल होने का कारण बनती हैं।

अब तो आप यह अच्छी तरह जान गए होंगे कि तिल क्या होते हैं और ये कौन-कौन सी वजहों से विकसित होते हैं। वहीं लेख के माध्यम से आपको चेहरे से तिल हटाने के उपाय से संबंधित कई घरेलू उपचारों और सुझावों के बारे में भी बताया गया है। अगर आप भी अनचाहे तिलों की समस्या से परेशान हैं और उनसे छुटकारा पाना चाहते हैं तो लेख में दी गई सभी जानकारियों को अच्छे से पढ़ें और फिर उन्हें अमल में लाएं। आशा करते हैं कि लेख में शामिल की गई जानकारी आपको अनचाहे तिलों की समस्या से छुटकारा दिलाने में काफी हद तक मददगार साबित हो सकती है। किसी भी प्रकार के सुझाव और सवालों के लिए आप नीचे दिए कमेंट बॉक्स के जरिए संपर्क कर सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

सवाल – तिल से छुटकारा क्या दर्द देता है?

जवाब – बता दें कि तिल से छुटकारा पाने के किसी भी उपाय को अपनाने में दर्द का एहसास नहीं होता। तिल का इलाज करने के लिए चाहे आप लेख में दिए गए किसी घरेलू उपचार का प्रयोग करें या फिर सर्जरी का। बता दें सर्जरी के दौरान चिकित्सक ऑपरेशन वाली जगह को सुन्न कर देते हैं। इससे दर्द का एहसास बिलकुल भी नहीं होता।

सवाल – क्या लेजर विधी से तिल हटाने पर दाग रह जाता है?

जवाब – हां चेहरे से तिल हटाने के उपाय में लेजर ट्रीटमेंट के बाद कई मामलों में संभव है कि दाग रह जाए। लेकिन यह इतना छोटा होगा कि इसके होने का एहसास न के बराबर होगा। यदि आप चाहते हैं कि तिल हटाने की प्रक्रिया में कोई दाग बाकी न रहे तो संभव ही लेजर विधि आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प साबित होगी।

सवाल- एक तिल हटाने में कितना खर्च होता है?

जवाब – चेहरे से तिल हटाने के उपाय में लेजर विधी या सर्जरी का उपयोग किया जाता। इसका भारत में औसतन खर्च करीब 5000 रूपये है। चूंकि तिल को जड़ से हटाने के लिए इस प्रक्रिया को दो से तीन बार दोहराने की जरूरत पड़ती है, इसलिए इसपर आने वाली लागत और भी बढ़ जाती है। ध्यान देने वाली बात यह है कि चिकित्सक और अस्पताल के आधार पर तिल हटाने के खर्च में परिवर्तन आ सकता है।

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Ankit Rastogi

अंकित रस्तोगी ने साल 2013 में हिसार यूनिवर्सिटी, हरियाणा से एमए मास कॉम की डिग्री हासिल की है। वहीं, इन्होंने अपने स्नातक के पहले वर्ष में कदम रखते ही टीवी और प्रिंट मीडिया का अनुभव लेना शुरू कर दिया था। वहीं, प्रोफेसनल तौर पर इन्हें इस फील्ड में करीब 6 सालों का अनुभव है। प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में इन्होंने संपादन का काम किया है। कई डिजिटल वेबसाइट पर इनके राजनीतिक, स्वास्थ्य और लाइफस्टाइल से संबंधित कई लेख प्रकाशित हुए हैं। इनकी मुख्य रुचि फीचर लेखन में है। इन्हें गीत सुनने और गाने के साथ-साथ कई तरह के म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट बजाने का शौक भी हैं।

ताज़े आलेख

scorecardresearch