त्वचा पर त्रिफला लगाने के फायदे – Triphala Benefits For Skin in Hindi

Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

भारत में आयुर्वेदिक औषधि का काफी महत्व है। ऐसी ही एक औषधि त्रिफला भी है, जिसे इसके गुणों की वजह से महाऔषधि भी कहा जाता है। त्रिफला का मतलब है तीन फल। इसे आंवला, हरड़ और बहेड़ा के पाउडर से बनाया जाता है, इसलिए त्रिफला कहते हैं (1)। यह त्रिफला सेहत के साथ ही त्वचा स्वास्थ्य के लिए भी बेहद फायदेमंद माना जाता है। वैज्ञानिक अध्ययन के आधार पर हम इस लेख में त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे बताएंगे। साथ ही त्वचा पर त्रिफला का उपयोग करने के प्रभावी तरीकों का भी जिक्र करेंगे।

स्क्रॉल करें

लेख में सबसे पहले हम बता रहे हैं कि त्वचा के लिए त्रिफला कैसे फायदेमंद है।

क्यों फायदेमंद है त्रिफला आपकी त्वचा के लिए?

त्रिफला में कई प्रकार के औषधीय गुण और पौष्टिक तत्व होते हैं, जिस वजह से यह त्वचा के लिए फायदेमंद कहलाता है। यहां हम बता रहे हैं कि त्वचा के लिए त्रिफला में मौजूद कौन से गुण प्रभावी रूप से कार्य करते हैं।

1. एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव

त्रिफला के अर्क में एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव होता है, जो त्वचा की कोशिकाओं को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से बचा सकता है। साथ ही यह त्वचा की कोशिकाओं पर सुरक्षात्मक प्रभाव डालते हुए एंटीएजिंग क्षमता भी दिखा सकता है। इससे झुर्रियों और बढ़ती उम्र के लक्षणों को कुछ कम किया जा सकता है (1)

2. फाइटोकेमिकल्स

त्रिफला के अर्क में कई प्रकार के फाइटोकेमिकल्स पाए जाते हैं। ये त्वचा को सुरक्षा प्रदान करने के साथ ही मेलेनिन उत्पादन को घटाने की क्षमता रखते हैं। इससे स्किन के दाग-धब्बे और हाइपरपिगमेंटेशन यानी त्वचा की गहरी व असमान रंगत कम हो सकती है (1)

3. कोलेजन को बढ़ाए

कोलेजन के निर्माण में भी त्रिफला लाभदायक हो सकता है। रिसर्च के दौरान, त्रिफला के अर्क में त्वचा के कोलेजन को बढ़ाने का प्रभाव पाया गया। इससे त्वचा जवां और टाइट नजर आ सकती है। इसके अलावा, त्रिफला के अर्क में इलास्टिन को बढ़ाने वाले प्रभाव भी होता है, जो त्वचा की लोच यानी इलास्टिसिटी को बनाए रख सकता है (1)

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस हिस्से में जानिए कि त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे क्या हैं।

त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे – Benefits Of Triphala For The Face And Skin in Hindi

त्रिफला में कई प्रकार के पोषक तत्व और औषधीय प्रभाव होते हैं, जो इसे त्वचा और चेहरे के लिए लाभदायक बनाते हैं। इस आधार पर हम आगे त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे बता रहे हैं।

1. झुर्रियों को रोके

कभी धूप, तो कभी बढ़ती उम्र के कारण त्वचा पर झुर्रिया नजर आती हैं। इस समस्या को कम करने के लिए त्रिफला का उपयोग किया जा सकता है। रिसर्च बताती हैं कि त्रिफला में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट प्रभाव स्किन एजिंग को धीमा कर सकता है। एजिंग का ही एक लक्षण झुर्रिया है। इस आधार पर कहा जा सकता है कि त्रिफला चेहरे और माथे की झुर्रियों को कम करने में सहायक हो सकता है (2)

2. सनबर्न की समस्या में

अक्सर सूर्य की हानिकारक किरणें त्वचा को नुकसान पहुंचाती हैं। इस विषय पर हुए एक शोध के मुताबिक, त्रिफला का उपयोग सनबर्न के घरेलू उपचार के लिए किया जा सकता है (3)। एक अन्य रिसर्च में भी इस बात का जिक्र मिलता है कि त्रिफला का उपयोग चोट के निशान, सनबर्न और त्वचा पर होने वाले चकत्ते को ठीक करने में भी प्रभावी साबित हो सकता है (4)

3. त्वचा पर निखार लाने के लिए

त्वचा पर प्रकृतिक निखार लाने के लिए त्रिफला का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। एक शोध में पाया गया है कि त्रिफला में मौजूीद फाइटोकेमिकल्स मेलेनिन के उत्पादन को कम करने के साथ ही हाइपरपिगमेंटेशन को रोकने में मदद कर सकते हैं। इससे त्वचा पर पड़ने वाले काले धब्बे दूर होते हैं और त्वचा पर निखार आ सकता है (1)

एक अन्य रिसर्च के अनुसार त्रिफला चूर्ण त्वचा संबंधी समस्याओं में भी लाभ पहुंचा सकता है। साथ ही यह त्वचा पर प्राकृतिक चमक लाने में भी मदद कर सकता है (4)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि प्राकृतिक निखार और चमक पाने के लिए त्रिफला का उपयोग किया जा सकता है।

4. एंटी एजिंग प्रभाव

एजिंग यानी त्वचा की उम्र बढ़ने पर स्किन में ढीलापन, चमक में कमी, कोलेजन का न बनना और त्वचा पर खुरदापन नजर आने लगता है (5)। इससे बचने के लिए त्रिफला का उपयोग किया जा सकता है। हम ऊपर भी बता चुके हैं कि उम्र से संबंधित समस्या से निपटने में त्रिफला में मौजूद एंटी एजिंग प्रभाव मददगार साबित हो सकता है। इस प्रभाव के पीछे का कारण त्रिफला में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट क्षमता है (2)। त्रिफला के उपयोग से त्वचा जवां और खिलीखिली नजर आ सकती है (4)

5. डेड स्किन सेल्स को हटाए

त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने और त्वचा को जवां बनाए रखने में भी त्रिफला के फायदे देखे गए हैं। एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि त्रिफला का उपयोग त्वचा की अन्य समस्याओं को दूर करने के साथ ही मृत कोशिकाओं को हटाने का काम भी कर सकता है (4)। इसके लिए त्रिफला युक्त स्किन स्क्रब बनाकर उपयोग में ला सकते हैं।

पढ़ते रहें लेख

त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे के बाद इसके उपयोग के तरीके जानिए।

त्वचा के लिए त्रिफला का उपयोग कैसे करें – How To Use Triphala For Face And Skin in Hindi

त्वचा और चेहरे के लिए त्रिफला का उपयोग कई तरीकों से किया जा सकता है, जो कुछ इस प्रकार हैं।

  • दो चम्मच त्रिफला पाउडर को एक चम्मच एलोवेरा जेल के साथ मिलाकर इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • अपने रेगुलर फेस पैक में आधा चम्मच त्रिफला पाउडर को मिलाकर त्वचा पर लगा सकते हैं।
  • एक चम्मच त्रिफला पाउडर को चुटकी भर हल्दी और आधा चम्मच दही में मिक्स करके उपयोग कर सकते हैं।
  • एक चम्मच बेसन में एक चम्मच त्रिफला चूर्ण और आवश्यकतानुसार गुलाब जल डालकर फेस पैक बना सकते हैं।
  • शहद और त्रिफला को बराबर मात्रा में मिलाकर स्किन को स्क्रब कर सकते हैं।
  • पानी के साथ त्रिफला का सेवन भी किया जा सकता है। ऐसा करना भी स्किन के लिए फायदेमंद साबित होता है (6)

आगे पढ़ें

यहां हम त्वचा के लिए त्रिफला का उपयोग करने से जुड़ी सावधानियां बता रहे हैं।

त्रिफला का उपयोग करते समय किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए – Precautions To Follow Before Using Triphala on Skin in Hindi

त्वचा के लिए त्रिफला का उपयोग करते समय कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है। ये सावधानियां कुछ इस प्रकार हैं।

  • हरड़, बहेड़ा या आंवला में से किसी से भी एलर्जी की समस्या है, तो इसका उपयोग न करें।
  • त्रिफला युक्त फेस पैक या त्रिफला को चेहरे पर लगाने से पहले पैच टेस्ट कर लें।
  • इसे चेहरे पर सीमित मात्रा में ही लगाएं।
  • चेहरे पर त्रिफला का उपयोग करने से पहले त्वचा को अच्छे से साफ कर लें।
  • ब्रश से चेहरे पर फेस पैक लगा रहे हैं, तो उसे भी पहले धो लें।
  • त्वचा संबंधी किसी तरह की गंभीर समस्या हो, तो इसका उपयोग त्वचा विशेषज्ञ से पूछकर ही करें।
  • त्रिफला युक्त स्क्रब को चेहरे पर ज्यादा न रगड़ें।
  • चेहरे पर त्रिफला लगाने के फायदे पाने के लिए यह फेसपैक कुछ देर चेहरे पर लगा रहने दें।

पढ़ना जारी रखें

लेख के इस भाग में स्किन पर त्रिफला के नुकसान होते हैं या नहीं, यह जानिए।

त्वचा के लिए त्रिफला के नुकसान – Side Effects Of Using Triphala On Your Face in Hindi

आयुर्वेदिक चीजों से मिलकर बने होने की वजह से त्रिफला को त्वचा व चहरे के लिए सुरक्षित माना जाता है। हां, कुछ संवेदनशील लोगों को त्रिफला के नुकसान हो सकते हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं।

  • संवेदनशील त्वचा वालों को त्रिफला युक्त फेसपैक लगाने से एलर्जी होने का जोखिम हो सकता है।
  • त्रिफला युक्त स्क्रब को चेहरे पर ज्यादा देर तक रगड़ने से त्वचा पर रेडनेस नजर आ सकती है, जो कुछ देर में ठीक हो जाती है।
  • कुछ लोगों को त्वचा पर त्रिफला लगाने के बाद हल्की खुजली का एहसास हो सकता है।

त्रिफला में हरड़ की 20 ग्राम, बहेड़ की 40 ग्राम और आंवला की 80 ग्राम मात्रा होती है। इन सभी में मौजूद गुण ही त्वचा को स्वस्थ, खिलीखिली और चमकदार बनाने में मदद करते हैं। बस तो पार्लर जैसा ग्लो पाने के लिए आज ही त्रिफला को अपने स्किन केयर रुटीन में शामिल कर लें। हां, इतना ध्यान जरूर दें कि त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे भले ही कई हैं, लेकिन यह किसी गंभीर त्वचा रोग का इलाज नहीं है। कोई भी स्किन संबंधी गंभीर समस्या होने पर विशेषज्ञ से संपर्क जरूर करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या त्रिफला काले धब्बों को दूर कर सकता है?

हां, त्रिफला के फाइटोकेमिकल्स स्किन में मेलेनिन के उत्पादन को कम करके काले दाग धब्बों को दूर कर सकते हैं (1)

क्या त्रिफला मेरी त्वचा को निखार दे सकता है?

जी हां, त्रिफला से त्वचा पर निखार आ सकता है (1)

क्या मैं त्रिफला को रोजाना चेहरे पर लगा सकता हूं?

हां, त्रिफला को सीमित मात्रा में रोज उपयोग किया जा सकता है।

क्या त्रिफला को सीधे चेहरे पर लगा सकते हैं?

हां, इसे सीधे चेहरे पर लगा सकते हैं।

क्या त्रिफला त्वचा के लिए हानिकारक है?

त्वचा के लिए त्रिफला के दुष्प्रभावों को लेकर अधिक शोध नहीं हुए हैं। हां. संवेदनशील त्वचा वालों को इससे एलर्जी और हल्की जलन हो सकती है। साथ ही इसे चेहरे पर ज्यादा तेज रगड़ने से त्वचा में रेडनेस नजर आ सकती है।

त्रिफला को चेहरे पर कब तक छोड़ सकते हैं?

त्रिफला को अधिक से अधिक 20 मिनट तक त्वचा पर लगाकर रखा जा सकता है।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Therapeutic Uses of Triphala in Ayurvedic Medicine
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5567597/
  2. Protective Effects of Triphala on Dermal Fibroblasts and Human Keratinocytes
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4711708/
  3. Potential of Tannnins: A Review
    https://scialert.net/fulltext/?doi=ajps.2010.209.214
  4. Triphala churna, myth and microscopic characterization
    http://ukaazpublications.com/attached/publications/Article20.pdf
  5. Fighting against Skin Aging
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6047276/
  6. Urushiol-induced contact dermatitis caused during Shodhana (purificatory measures) of Bhallataka (Semecarpus anacardium Linn.) fruit
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23559802/
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.
कविता सिंह ने पंजाब तकनीकी विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन में स्नातक हैं। इन्होंने वर्ष 2014 में एक प्रख्यात न्यूज चैनल... more

ताज़े आलेख