Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

सदियों से भारतीय रसोई में घी का उपयोग तरह-तरह के पकवान बनाने, तड़का लगाने और स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता रहा है। शायद ही कुछ लोगों को पता हो कि रसोई में इस तरह से उपयोग होने वाला घी त्वचा के लिए भी लाभदायक होता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व और औषधीय गुण घी को स्किन के लिए फायदेमंद बनाते हैं। बस तो घी की इसी खासियत के चलते स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम त्वचा के लिए घी के फायदे बता रहे हैं। त्वचा पर घी लगाने के फायदे के साथ ही हम यह भी बताएंगे कि चेहरे पर घी लगाने के नुकसान होते हैं या नहीं।

स्क्रॉल करें

लेख में सबसे पहले जानते हैं कि त्वचा के लिए घी किस प्रकार फायदेमंद है।

क्यों फायदेमंद है घी आपकी त्वचा के लिए?

घी का उपयोग शरीर को विभिन्न रोगों से बचाने से लेकर त्वचा स्वास्थ्य के लिए किया जाता है। घी में फैटी एसिड्स की मात्रा अच्छी होती है, जिस वजह से इसे स्किन के लिए फायदेमंद माना जा सकता है। साथ ही घी में लिनोलिक एसिड होता है, जो इंफ्लेमेटरी एजेंट जैसे प्रोस्टाग्लैंडीन और ल्यूकोट्रिएन कंपाउंड के स्राव को कम करके त्वचा संबंधी रोगों से बचाव कर सकता है। इनके अलावा, फेस पर देसी घी लगाने के फायदे निम्न हैं (1):

पढ़ते रहें लेख

त्वचा के लिए घी के उपयोग के बाद बारी है त्वचा के लिए घी के फायदे जानने की।

त्वचा के लिए घी के फायदे – Benefits Of Ghee For The Face And Skin in Hindi

चेहरे पर देसी घी लगाना क्यों अच्छा होता है, यह हम ऊपर बता ही चुके हैं। यह किस तरीके से त्वचा को लाभ पहुंचाते हैं, जानने के लिए लेख को आगे पढ़ें। हम नीचे रिसर्च के आधार पर त्वचा के लिए घी के फायदे बता रहे हैं।

1. एंटी एजिंग प्रभाव

घी का उपयोग त्वचा की बढ़ती उम्र से जुड़े लक्षणों को कम करने के लिए किया जा सकता है। इस विषय पर हुए एक रिसर्च के मुताबिक, घी में एंटी-एजिंग गतिविधियां होती हैं। इससे स्किन की झुर्रियों और अन्य एजिंग के लक्षण कम हो सकते हैं। साथ ही घी को एजिंग की प्रक्रिया को धीमा करने और त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने के लिए भी फायदेमंद माना जाता है (2)

2. मॉइस्चराइजिंग

त्वचा को मॉइस्चराइज करने के लिए भी घी का उपयोग किया जा सकता है। दरअसल, घी में फैटी एसिड होते हैं। इन्हें त्वचा को पोषण देने के साथ ही मॉइस्चराइज करने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा, घी में मौजूद विटामिन ए और ई स्किन पर एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव दिखाते हैं। साथ ही घी के लिपिड्स त्वचा में मॉइस्चर बैलेंस कर सकते हैं। ये लिपिड्स त्वचा को रूखेपन से बचाने के साथ ही कोहनी, घुटनों को भी अच्छे से मॉइस्चराइज करने की क्षमता रखते हैं (3)

3. स्किन व्हाइटनिंग प्रभाव

घी का उपयोग त्वचा की रंगत में निखार लाने के लिए भी किया जा सकता है। एक रिसर्च के अनुसार, घी में कांतिवर्धन गुण यानी चमक बढ़ाने वाला प्रभाव होता है। घी में पाया जाने वाला यह गुण त्वचा के पिंगमेंटेशन यानी गहरी रंगत व दाग-धब्बों को हल्का करने में मददगार साबित हो सकता है (4)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि फेस पर देसी घी लगाने के फायदे में स्किन व्हाइटनिंग प्रभाव भी शामिल है।

4. मुंहासों की समस्या में

एक्ने यानी मुंहासे से संबंधित बैक्टीरिया के पनपने में ऑक्सीडेटिव डैमेज का भी अहम योगदान है (5)। घी का उपयोग इस समस्या में फायदेमंद हो सकता है। एक रिसर्च में बताया गया है कि घी में मौजूद विटामिन सी और ई एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव दिखाते हैं। फ्लेवर घी में ये दोनों ही मौजूद होते हैं। इनमें मौजूद यह एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव मुंहासे से संबंधित ऑक्सीडेटिव डैमेज को कम करके मुंहासे से बचाव कर सकता है (6)

5. घाव भरने के लिए

त्वचा की अन्य समस्याओं के अलावा घी का उपयोग जलने और कटने जैसे घावों पर भी किया जा सकता है। इस विषय पर हुए एक शोध के अनुसार, घी में घाव को तेजी से भरने वाला प्रभाव होता है। इसका उपयोग अकेले या शहद के साथ प्रभावित क्षेत्र पर किया जा सकता है। इससे घाव और उससे संबंधित सूजन को जल्दी भरने में मदद मिल सकती है (7)

पढ़ते रहें लेख

त्वचा के लिए घी के फायदे के बाद आगे जानते हैं त्वचा के लिए घी के उपयोग।

त्वचा और चेहरे पर घी का उपयोग- How To Use Ghee For Face And Skin in Hindi

चेहरे पर घी लगाने के फायदे पाना आसान है। बस जरूरत है, तो चेहरे के लिए घी का उपयोग कुछ अन्य सामग्रियों के साथ करने की। आगे हम इसी विषय पर यानी चेहरे पर घी के उपयोग से जुड़ी जानकारी दे रहे हैं।

1. बेसन और घी

सामग्री:

  • दो चम्मच घी
  • बेसन एक बड़ा चम्मच
  • एक चम्मच दूध

कैसे करें उपयोग:

  • सभी सामग्रियों को मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब पेस्ट को अपने पूरे चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • लगाने के बाद इसे सूखने के लिए छोड़ दें।
  • फिर चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।
  • इस पेस्ट को हफ्ते में एक बार उपयोग किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद:

यह तो आप जान ही गए हैं कि त्वचा के लिए घी के फायदे कितने हैं। यदि इसे बेसन के साथ मिलाकर उपयोग किया जाए, तो यह और प्रभावकारी होता है। दरअसल, बेसन का इस्तेमाल हर्बल फेस मास्क में घी के साथ करने पर यह त्वचा को एक्सफोलिएट कर सकता है। इससे त्वचा के अत्यधिक ऑयल को साफ करके पिंपल्स को कम करने में मदद मिल सकती है (8)

यही नहीं, बेसन का फेस पैक स्किन टेन को भी कम कर सकता है। साथ ही त्वचा को लाइट यानी रंगत में सुधार करने में भी इसे सहायक माना जाता है (8)। इसके अलावा, दूध में मौजूद लैक्टिक एसिड भी एक माइल्ड एक्सफोलिएटर के रूप में काम करने और नई कोशिकाओं की वृद्धि में मदद कर सकता है (9)। बस तो चेहरे पर घी लगाने के फायदे पाने के लिए इसे इन सामग्रियों के साथ मिक्स करके उपयोग करें।

2. शहद और घी

सामग्री:

  • आधा चम्मच घी
  • शहद आधा चम्मच

कैसे करें उपयोग:

  • घी और शहद को मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को अपने पूरे चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • इसे 15 से 20 मिनट के लिए लगा रहने दें।
  • अब चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।
  • ऐसा हफ्ते में एक बार कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद:

फेस पर देसी घी लगाने के फायदे पाने के लिए इसका उपयोग शहद के साथ किया जा सकता है। जहां एक ओर घी में मौजूद औषधीय गुण त्वचा को स्वस्थ बनाए रखते हैं। वहीं, शहद में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी माइक्रोबियल और घाव भरने वाले गुण होते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट, मुक्त कणों से लड़कर त्वचा स्वास्थ्य में सुधार और बढ़ती उम्र के संकेतों को कम कर सकते हैं। साथ ही शहद के उपयोग से बना यह घी का फेस मास्क त्वचा को नमी प्रदान कर सकता है (10) (11)

3. हल्दी और घी

सामग्री:

  • एक बड़ा चम्मच घी
  • आधा बड़ा चम्मच हल्दी पाउडर

कैसे करें उपयोग:

  • सामग्री को मिलाएं और मिश्रण को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • इसे सूखने तक लगा रहने दें।
  • सूखने पर ठंडे पानी से धो लें।

कैसे है फायदेमंद:

चेहरे पर घी लगाने के फायदे पाने के लिए घी के साथ शहद की तरह ही हल्दी का उपयोग भी किया जा सकता है। इसका प्रमुख कारण हल्दी में मौजूद करक्यूमिन कंपाउंड है। रिसर्च के अनुसार, हल्दी का सेवन करने और इसे त्वचा पर लगाने से फोटो एजिंग यानी सूर्य की किरणों से होने वाली बुढ़ापे से बचा जा सकता है (12)

साथ ही हल्दी का उपयोग करके एटोपिक डर्माटाइटिस यानी त्वचा पर होने वाले खुजली और घाव, सोरायसिस जैसे छाल रोग से बचाव हो सकता है। यही नहीं, रेडियोडर्माटाइटिस अर्थात एक्स-रे जैसी विकिरण के कारण त्वचा पर होने वाले दुष्प्रभाव से भी त्वचा को बचाया जा सकता है (12)

4. चंदन और घी

सामग्री:

  • चंदन पाउडर या चंदन के तेल की 2-3 बूंदें
  • एक बड़ा चम्मच घी
  • आधा बड़ा चम्मच हल्दी पाउडर

कैसे करें उपयोग:

  • सभी सामग्रियों को मिलाकर पेस्ट बनाएं।
  • अब इस पेस्ट को चेहरे और गर्दन पर लगा लें।
  • इसको 20 मिनट तक लगा रहने दें।
  • फिर चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

कैसे है फायदेमंद:

त्वचा के लिए घी के साथ चंंदन का उपयोग भी लाभदायक माना गया है। एक रिसर्च के अनुसार, चंदन में अल्फा सेंटालोल होता है, जो त्वचा की रंगत को साफ करने में मदद कर सकता है (13)। साथ ही हल्दी फोटो एजिंग यानी समय से पहले दिखने वाले बुढ़ापे और अन्य स्किन संबंधी समस्याओं के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है (12)। बस तो चेहरे पर घी लगाने के फायदे पाने के लिए इस फेसपैक का उपयोग कर सकते हैं।

पढ़ना जारी रखें

चेहरे पर देसी घी लगाने के फायदे के बाद उपयोग से जुड़ी सावधानियों पर गौर करते हैं।

घी का उपयोग करते समय ध्यान देने याेग्य बातें – Precautions To Follow Before Using Ghee on Skin in Hindi

त्वचा और चेहरे पर घी लगाने के फायदे पाने के लिए कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है। यहां हम उन्हीं के बारे में बता रहे हैं।

  • तैलीय त्वचा वालों को घी का उपयोग सीमित मात्रा में या फिर नहीं करना चाहिए।
  • यदि दूध और इससे बने किसी भी पदार्थ से एलर्जी हो, तो घी का उपयोग न करें।
  • घी युक्त फेस मास्क लगाने के बाद गुनगुने पानी से चेहरा धोएं, वरना त्वचा चिपचिपी ही रहेगी।
  • गंभीर त्वचा संबंधी बीमारियों के लिए घी को इलाज न समझें।
  • घी के साथ उन्हीं सामग्रियों का इस्तेमाल करें, जो आपकी त्वचा को सूट करती हों।
  • फेस पैक लगाते व धोते समय त्वचा पर हल्के हाथों का ही इस्तेमाल करें।
  • हमेशा साफ चेहरे पर ही घी युक्त फेसमास्क लगाएं।

हमारे साथ बने रहें

लेख के इस हिस्से में हम चेहरे पर घी लगाने के नुकसान बता रहे हैं।

त्वचा पर घी के नुकसान – Side Effects Of Using Ghee On Your Face in Hindi

चेहरे पर देसी घी लगाने के फायदे कई हैं, लेकिन इसकी अधिकता से संवेदनशील लोगों को नुकसान हो सकते हैं। आगे जानिए चेहरे पर देसी घी लगाना, कैसे नुकसानदायक हो सकता है।

  • कुछ लोगों को घी से एलर्जी भी हो सकती है।
  • इसकी अधिक मात्रा त्वचा को तैलिया बना सकती है।
  • मिलावटी घी में केमिकल्स हो सकते हैं, जो त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
  • इसका ज्यादा इस्तेमाल करने से पिंपल्स हो सकते हैं, क्योंकि ऑयल के कारण पिंपल्स की समस्या होती है (14)
  • घी ज्यादा लगाने से स्किन पोर्स ब्लॉक या बड़े हो सकते हैं (14)

चाहे घी को डाइट में शामिल किया जाए या लगाया जाए, दोनों ही तरीके से घी चेहरे के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। यह त्वचा को कई बीमारियों और समस्याओं से भी बचा सकता है। चेहरे पर घी लगाने के फायदों की वजह से ही इसका उपयोग पारंपरिक समय से ही लोकप्रिय रहा है। बस तो फेस पर घी लगाने के फायदे पाने के लिए इसे फेस पैक और आहार दोनों में जगह दें। इससे स्किन को मॉइस्चराइज और हाइड्रेट रखने के साथ ही उसे खिलीखिली बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या घी काले धब्बों को दूर कर सकता है?

हां, चेहरे पर देसी घी लगाना डार्क सर्कल और काले धब्बों को कम कर सकता है (4)

क्या घी मेरी रंगत को सुधार सकता है?

जी हां, घी में मौजूद कांतिवर्धन गुण त्वचा के पिंगमेंटेशन को कम करके रंगत में सुधार कर सकता है (4)

क्या मैं रोज अपने चेहरे पर घी का इस्तेमाल कर सकता हूं?

हां बिल्कुल, चेहरे पर देसी घी लगाने के फायदे होते हैं, इसलिए इसे रोजाना कम मात्रा में चेहरे को मॉइस्चराइज करने और अन्य लाभ पाने के लिए लगा सकते हैं।

क्या घी को सीधे चेहरे पर लगा सकते हैं?

हां, फेस पर घी लगाने के फायदे पाने के लिए इसे सीधे चेहरे पर लगा सकते हैं।

क्या घी त्वचा के लिए हानिकारक है?

नहीं, शुद्ध घी चेहरे के लिए हानिकारक नहीं होता है। हां, ज्यादा घी लगाने से त्वचा ऑयली दिख सकती है।

घी को चेहरे पर कितनी देर तक लगा सकते हैं?

फेस पर घी लगाने के फायदे के लिए इसे पूरी रात तक चेहरे पर लगाकर छोड़ा जा सकता है।

क्या घी चेहरे पर पिंपल्स का कारण बन सकता है?

हां, अधिक मात्रा में घी का उपोयग करने से स्किन ऑयली हो सकती है। रिसर्च बताती हैं कि ऑयली स्किन में पिंपल्स होने का खतरा अधिक होता है (14)। इसी वजह से घी की कम मात्रा का ही उपयोग करना चाहिए।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. The effect of ghee (clarified butter) on serum lipid levels and microsomal lipid peroxidation
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3215354/
  2. Health benefits of ghee (clarified butter) – A review from ayurvedic perspective
    https://www.ipinnovative.com/journal-article-file/12521#:~:text=Consumption%20of%20ghee%20in%20an
  3. Ghee-based all-purpose herbal cream of medicinal use
    https://www.researchgate.net/publication/343127300_Ghee-based_all-purpose_herbal_cream_of_medicinal_use
  4. TREATMENT OF BURN WOUND BY GHRUTA (GHEE) AND MADHU (HONEY) – A CASE REPORT
    http://www.iamj.in/posts/2016/images/upload/43_47.pdf
  5. Oxidative stress in acne vulgaris
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19943837/
  6. Butter oil (ghee) enrichment with aromatic plants: Chemical characterization and effects on fibroblast migration in an in-vitro wound healing model
    https://www.sciencedirect.com/science/article/pii/S1878535220304123
  7. Wound Healing Activity of Topical Application Forms Based on Ayurveda
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3136177/
  8. In-House Preparation and Standardization of Herbal Face Pack
    https://pdfs.semanticscholar.org/1ca2/5c17343fd28d0dfa868e2abd0919f8e986dd.pdf
  9. Dual Effects of Alpha-Hydroxy Acids on the Skin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6017965/
  10. Ghee and Honey Dressing for Infected Wounds
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3144338/
  11. Honey: A Therapeutic Agent for Disorders of the Skin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5661189/
  12. Effects of Turmeric (Curcuma longa) on Skin Health: A Systematic Review of the Clinical Evidence
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/27213821/
  13. Critical review of Ayurvedic Varṇya herbs and their tyrosinase inhibition effect
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4623628/
  14. Oily Skin: A review of Treatment Options
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5605215/
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.
कविता सिंह ने पंजाब तकनीकी विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन में स्नातक हैं। इन्होंने वर्ष 2014 में एक प्रख्यात न्यूज चैनल... more

ताज़े आलेख