आंखों के नीचे सूजन के कारण, लक्षण और घरेलू इलाज – Home remedies For Eye Bags in hindi

Written by

आंखें हमारी शरीर के नाजुक अंगों में से एक होती है। कई बार इसमें दर्द, जलन या फिर सूजन की शिकायत होने लगती है। ये समस्याएं सुनने में भले ही आम हों, लेकिन यह काफी कष्टदायक होती है। ऐसे में इससे निजात पाने के लिए स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आंखों के नीचे सूजन के लिए घरेलू उपाय लेकर आए हैं। साथ ही यहां हम आंखों के नीचे सूजन कम करने के टिप्स और आंखों के नीचे सूजन के कारण भी बता रहे हैं।

पढ़ना शुरू करें

सबसे पहले जानते हैं कि आंखों के नीचे सूजन क्यों होती है।

आंखों के नीचे सूजन क्यों होती है?

आंखों के नीचे की त्वचा जब सामान्य दिनों के मुकाबले थोड़ी फूली हुई लगने लगती है, तो उसे आंखों की सूजन कहा जाता है। मेडिकल भाषा में इस समस्या को पेरिऑरबिटल एडिमा के नाम से जाना जाता है। आंख के नीचे सूजन कई कारणों से हो सकती है, जिसके परिणामस्वरूप तरल पदार्थ जमा होने लगता है और आंखों की त्वचा सूज सकती है (1)।

आंखों के नीचे सूजन दो प्रकार से हो सकती है। पहला है क्रोनिक पेरिऑरबिटल एडिमा, जिसमें आंखों में सूजन धीरे-धीरे आ सकती है। वहीं, दूसरा है एक्यूट पेरिऑरबिटल एडिमा। इसमें आंखें तेजी से सूजने लगती है। कई बार आंख के नीचे फूलने की समस्या सामान्य या किसी गंभीर स्वास्थ्य स्थिति का संकेत भी हो सकती है। इसके अलावा, बढ़ती उम्र और आनुवंशिक कारण से भी आंखों के ऊतक कमजोर हो सकते हैं और इस वजह से फैट निचली पलकों में चला जाता है, जिससे आंखें सूजी हुई दिखने लगती हैं (1)।

आगे पढ़ें

अब बारी है आंखों के नीचे सूजन का कारण जानने की।

आंखों के नीचे सूजन होने का कारण – Causes of Eye Bags in Hindi

आंखों के नीचे सूजन कई अलग-अलग कारणों से हो सकती है, जिसकी चर्चा हम नीचे क्रमवार तरीके से कर रहे हैं (1) :

  • अधिक नमक का सेवन : आहार में अधिक नमक या सोडियम का सेवन शरीर के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। दरअसल, अतिरिक्त सोडियम शरीर में पानी बनाए रख सकता है और अधिक पानी से चेहरे व शरीर में सूजन आ सकती है। बता दें कि आंखों के आसपास की त्वचा काफी पतली होती है, जिस वजह से वहां सूजन होने का खतरा अधिक होता है।
  • रोने के कारण : अधिक रोने से आंखों के आसपास तरल पदार्थ जमा होने लगता है, जिस वजह से थोड़े समय के लिए सूजन की समस्या हो सकती है। आमतौर पर इस प्रकार की सूजन अपने आप ही ठीक हो जाती है।
  • एलर्जी : एलर्जी की भी समस्या आंखों के नीचे सूजन का कारण बन सकती है। बता दें कि एलर्जी के कारण साइनस और आंखों के आसपास तरल पदार्थ जमा हो सकते हैं। इस वजह से सूजन की समस्या हो सकती है। एलर्जी की वजह से आंखें लाल, खुजली दार और पानीदार हो सकती हैं। आंखों में होने वाली एलर्जी में पराग, धूल, धुआं, प्रदूषण, रूसी, जानवरों के बाल, रसायन व इत्र आदि शामिल हैं।
  • आंखों में संक्रमण: आंख में संक्रमण की वजह से भी सूजन की समस्या हो सकती है। आमतौर पर आंखों में संक्रमण पहले एक आंख में होती है, लेकिन बाद में यह दूसरे आंख में भी फैल सकती है।
  • अंश्रू नली में रुकावट: अंश्रू नली का मुख्य काम आंखों से आंसू और पानी को निकालना होता है। अगर इस नली में किसी प्रकार की रुकावट पैदा होती है, तो इस वजह से आंखों के आसपास तरल पदार्थ जमा हो सकता है और आंखों के नीचे सूजन का कारण बन सकता है।

स्क्रॉल करें

होम रेमेडी टू क्योर आई बैग में अब हम आंखों के नीचे सूजन का इलाज करने के लिए घरेलू उपाय जानेंगे।

आंखों के नीचे सूजन कम करने के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies To Cure Eye Bags in Hindi

आंख के नीचे फूलने की समस्या से निजात पाने के लिए यहां हम आंखों के नीचे सूजन कम करने के लिए घरेलू उपाय बता रहे हैं। साथ ही यहां हम स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि यहां बताए गए उपाय किसी भी प्रकार से इस समस्या का संपूर्ण इलाज नहीं है, ये केवल उसके लक्षणों को कम कर सकते हैं। अब जानें आंखों के नीचे सूजन के लिए घरेलू उपाय :

1. टी बैग

सामग्री :

  • दो टी बैग

उपयोग का तरीका :

  • सबसे पहले टी बैग्स को 10 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें।
  • टी बैग्स के ठंडा होने के बाद उसे फ्रिज से निकाल कर आंखें बंद करके उसके ऊपर रखें।
  • 10 से 15 मिनट तक उसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • आंख के नीचे सूजन से राहत पाने के लिए दिन में 2 से 3 बार ऐसा कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

आंखों के नीचे सूजन कम करने के टिप्स में टी बैग्स का इस्तेमाल करने की सलाह दी जा सकती है। दरअसल, टी बैग्स लगाने से आंखों के नीचे सूजन में राहत मिल सकती है। इससे जुड़े शोध की मानें, तो टी बैग में मौजूद कैफीन एंटी इन्फ्लेमेटरी यानी सूजन को कम करने वाला गुण प्रदर्शित कर सकता है, जोकि आमतौर पर उस जगह में तरल पदार्थ के जमा होने के कारण होता है ( 2)। ऐसे में यह माना जा सकता है कि आंखों की सूजन को कम करने के लिए टी बैग्स का उपयोग करना लाभकारी साबित हो सकता है।

2. एसेंशियल ऑयल

सामग्री :

  • 1 बूंद लैवेंडर का तेल
  • 1 बूंद नींबू का तेल (लेमन एसेंशियल ऑयल)
  • 1 बूंद कैमोमाइल तेल
  • 1 छोटा चम्मच पानी
  • 1 छोटी कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में सबसे पहले सभी तेलों को मिला लें।
  • इसके बाद उसमें पानी डालकर उसे अच्छे से मिलाएं।
  • अब रात को सोने से पहले इस मिश्रण को आंखों के नीचे लगाएं।
  • फिर हल्के हाथों से उस जगह पर मसाज करें और रात भर के लिए उसे छोड़ दें।
  • इसके लाभ पाने के लिए नियमित रूप से रात में सोने से पहले इसका इस्तेमाल करें।

कैसे है फायदेमंद :

आंखों के नीचे सूजन का इलाज करने के लिए एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल, नींबू का तेल एंटी इंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध होता है जो सूजन को कम करने में सहायक हो सकता है (3)। इसके अलावा, कैमोमाइल के तेल में भी एंटी इंफ्लेमेटरी प्रभाव मौजूद होता है (4)। इसका यह गुण भी आंखों के ऊपर सूजन के साथ-साथ नीचे के सूजन को भी कम कर सकता है।

वहीं, अगर बात की जाए लैवेंडर के तेल की तो बता दें कि लैवेंडर का तेल त्वचा के साथ-साथ नसों में आरामदेह प्रभाव डाल सकता है (5)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि एसेंशियल ऑयल का यह मिश्रण आंखों के नीचे की सूजन को दूर करने में मददगार साबित हो सकता है।

3. विच हेजल

सामग्री :

  • 2 चम्मच ठंडा विच हेजल
  • कॉटन पैड

उपयोग का तरीका :

  • कॉटन पैड को ठंडे विच हेजल में भिगो लें।
  • फिर उसे निचोड़ कर बंद आंखों पर 10 से 15 मिनट के लिए रखें।
  • इसके बाद चेहरा धो लें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में 2 से 3 बार दोहरा सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

आंखों के नीचे सूजन कम करने के टिप्स में विच हेजल का उपयोग करने की सलाह दी जा सकती है।
एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध के मुताबिक, विच हेजल में इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, जो सूजन को कम करने में मददगार हो सकते हैं (6) l यही वजह है कि आंखों के नीचे सूजन कम करने के लिए घरेलू उपाय में विच हेजल का इस्तेमाल करना लाभकारी साबित हो सकता है।

4. नारियल तेल

सामग्री :

  • एक चम्मच नारियल तेल
  • एक कटोरी

उपयोग का तरीका :

  • सबसे पहले एक छोटी कटोरी में नारियल का तेल निकाल लें।
  • अब उसमें उंगलियों को डुबोकर आंखों के नीचे दाएं से बाएं कुछ मिनट के लिए हल्की मसाज करें।
  • फिर उसे रात भर के लिए वैसे ही लगा रहने दें।
  • हर रात सोने से पहले इस प्रक्रिया को आजमाएं।

कैसे है फायदेमंद :

त्वचा के लिए नारियल तेल के फायदे कई सारे हैं। इसका इस्तेमाल आंखों के नीचे सूजन का इलाज कर सकता है। बता दें कि नारियल का तेल इंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध होता है, जो सूजन को कम करने के लिए लाभकारी माना जाता है (7)। इसके अलावा, नारियल का तेल त्वचा संक्रमण सहित त्वचा की अन्य समस्याओं के इलाज में भी मदद कर सकता है (8)। ऐसे में यह माना जा सकता है कि आंखों की सूजन के साथ-साथ चेहरे के लिए नारियल तेल का उपयोग करना फायदेमंद साबित हो सकता है।

5. कॉफी ग्राउंड

सामग्री :

  • आधी चम्मच पिसी हुई कॉफी बीन्स
  • 1 छोटा चम्मच नारियल का तेल
  • कॉटन या फेस वाइप

उपयोग का तरीका :

  • कॉफी बीन्स और नारियल का तेल एक साथ अच्छे से मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण को आंखों के नीचे सावधानी से लगाएं और 10 के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने के बाद कॉटन को गीला कर या फेस वाइप से उसे पोंछ लें।
  • इस प्रक्रिया को सप्ताह में 2 से 3 बार दोहरा सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

स्वास्थ्य के लिए कॉफी पीना फायदेमंद तो है ही, इसके अलावा आंखों की सूजन के लिए भी कॉफी का इस्तेमाल किया जा सकता है। बता दें कि कॉफी में फेरुलिक एसिड मौजूद होता है, जो इंफ्लेमेटरी प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है (9)। इसका यह गुण सूजन से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। वहीं, अगर इसमें नारियल तेल मिला जाए, तो यह और भी प्रभावकारी साबित हो सकता है।

जैसा कि हमने लेख में बताया कि नारियल के तेल में सूजन कम करने की क्षमता होती है (1)। इसके अलावा, नारियल तेल एक बेहतरीन मसाज ऑयल के रूप में भी जाना जाता है। यह शुष्क त्वचा सहित सभी प्रकार की त्वचा पर प्रभावी मॉइस्चराइजर के रूप में कार्य कर सकता है (8)। ऐसे में कॉफी और नारियल तेल का मिश्रण आंखों के नीचे सूजन आने की समस्या को कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं।

6. कोल्ड स्पून

सामग्री :

  • 4-5 स्टील के चम्मच

उपयोग का तरीका :

  • सभी चम्मच आधे घंटे के लिए फ्रिज में रख दें।
  • जब ये ठंडे हो जाएं, तो एक-एक करके उन्हें आंखों पर नीचे की ओर घुमावदार तरीके से रखें।
  • करीब 15 से 20 मिनट तक चम्मच रखने के बाद उसे हटा लें।
  • इस विधि का इस्तेमाल दिन में कम से कम दो बार आजमाएं।

कैसे है फायदेमंद :

आंख के नीचे सूजन से राहत पाने के लिए ठंडे चम्मच का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे जुड़े एक शोध में इस बात की जानकारी मिलती है। इस शोध के मुताबिक, सूजन वाली आंखों पर ठंडा चम्मच रखने से कुछ हद तक सूजन को कम किया जा सकता है ( 2)। यही वजह है कि आंख के नीचे सूजन से राहत पाने के लिए ठंडे चम्मच का उपयोग करने की सलाह दी जाती है।

7. बेकिंग सोडा

सामग्री :

  • 1 चम्मच बेकिंग सोडा
  • 1 कप गर्म पानी
  • कॉटन पैड

उपयोग का तरीका :

  • बेकिंग सोडा को पानी में अच्छी तरह मिला लें।
  • अब उसमें कॉटन पैड को भिगो लें।
  • फिर उसे निचोड़ कर आंखों के नीचे रखें।
  • 10 से 15 मिनट बाद रुई हटा कर ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • ऐसा दिन में एक से दो बार कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

बेकिंग सोडा के फायदे भी आंखों के नीचे सूजन का इलाज करने के लिए देखे जा सकते हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध के मुताबिक, बेकिंग सोडा में एंटी इंफ्लेमेटरी यानी सूजन कम करने वाले गुण होते हैं (10)। ऐसे में माना जा सकता है कि इसका इस्तेमाल आंखों के नीचे सूजन को कम करने में सहायक हो सकता है।

8. खीरा

सामग्री :

  • 4 से 5 खीरे के गोल टुकड़े

उपयोग का तरीका :

  • सबसे पहले खीरे के स्लाइस को 10 से 15 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें।
  • इसके बाद उसे फ्रिज से निकालकर बंद आंखों पर रखें।
  • 10 से 15 मिनट बाद आंखों से खीरा हटा लें और ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • इसे दिन में आसानी से 3 से 4 बार आजमाया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद :

आंख के नीचे सूजन से राहत पाने के लिए खीरे का भी उपयोग किया जा सकता है। दरअसल, खीरे पर हुए एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि थकी हुई आंखों के इलाज के साथ-साथ आंखों के नीचे आई बैग को हटाने के लिए बंद आंखों के ऊपर खीरे का एक टुकड़ा रखना लाभकारी हो सकता है। बताया जाता है कि खीरे में एस्कॉर्बिक एसिड और कैफिक एसिड मौजूद होता है, जो पानी के जमाव को कम कर सकता है। इससे आंख के ऊपर सूजन से साथ-साथ आंखों के नीचे सूजन से भी छुटकारा मिल सकता है (11)।

9. एग वाइट मास्क

सामग्री :

  • एक अंडे का सफेद भाग
  • एक नरम ब्रश

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में अंडे के सफेद भाग को अच्छी तरह से फेंट लें।
  • उसके बाद एक सॉफ्ट ब्रश की मदद से उसे आंखों के नीचे लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें।
  • फिर 15 मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।
  • दिन में एक बार इस प्रक्रिया को अपनाएं।

कैसे है फायदेमंद :

अंडे का उपयोग फेस पैक के रूप में कई समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है। वहीं, आंखों के नीचे सूजन का इलाज करने के लिए अंडे का इस्तेमाल किया जा सकता है। शोध की मानें तो अंडे में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होता है, जो सूजन को दूर करने में प्रभावी साबित हो सकता है (12)। इस आधार पर हम कह सकते हैं कि आंखों के नीचे सूजन के लिए घरेलू उपाय में अंडे का इस्तेमाल करना लाभकारी साबित हो सकता है।

10. एलोवेरा

सामग्री :

  • एक चम्मच फ्रेश एलोवेरा जेल

उपयोग का तरीका :

  • एलोवेरा जेल को आंखों के नीचे उंगलियों की मदद से लगाएं।
  • फिर वहां हल्के हाथों से 2 मिनट तक मसाज करें।
  • 10 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • आंखों के नीचे सूजन को कम करने के लिए दिन में दो बार एलोवेरा जेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

आंख के नीचे सूजन की दवा के रूप में एलोवेरा काम कर सकता है। दरअसल, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सूजन की समस्या को कम कर सकते हैं। इसके अलावा, यह एलर्जी की समस्या में भी लाभकारी पाया गया है (13 )। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि आंखों के नीचे सूजन को कम करने के लिए एलोवेरा का उपयोग करना फायदेमंद हो सकता है।

11. पेट्रोलियम जेली

सामग्री :

  • आधा चम्मच पेट्रोलियम जेली

उपयोग का तरीका :

  • सोने से पहले पेट्रोलियम जेली को आंखों के नीचे लगाएं।
  • फिर वहां उंगलियों के सहारे हल्का मसाज करें और रात भर के लिए छोड़ दें।
  • हर रात सोने से पहले यह प्रक्रिया आजमाएं।

कैसे है फायदेमंद :

पेट्रोलियम जेली का उपयोग त्वचा के रूखेपन को दूर करने के लिए किया जा सकता है (14)। वहीं, एक शोध में यह जानकारी मिलती है कि कई बार अधिक ड्राइनेस के कारण भी आंखों के आसपास हल्की सूजन की समस्या हो सकती है (15)। ऐसे में पेट्रोलियम जेली ड्राइनेस को कम कर सकती है, जिसे सूजन की समस्या से बचने में मदद मिल सकती है। सीधे तौर पर आंखों के सूजन को कम करने के लिए पेट्रोलियम जेली किस प्रकार मदद कर सकती है, फिलहाल इस बारे में अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

12. आलू

सामग्री :

  • कद्दूकस किया हुआ एक छोटा आलू
  • सूती कपड़ा

उपयोग का तरीका :

  • कद्दूकस किए हुए आलू को सूती कपड़े में बांध लें।
  • अब इस पोटली को 10 से 15 मिनट के लिए बंद आंखों पर रखें।
  • अगर चाहे तो आलू को गोल टुकड़ों में भी काटकर सीधे बंद आंखों पर रख सकते हैं।
  • इस उपाय का इस्तेमाल दिन में 2 से 3 बार करें।

कैसे है फायदेमंद :

आंखों के नीचे सूजन से राहत पाने के लिए आलू का इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे जुड़े एक शोध में साफ तौर से इस बात का जिक्र मिलता है कि आलू के टुकड़ों का इस्तेमाल आंखों के नीचे सूजन का इलाज करने के लिए किया जा सकता है। इसके पीछे इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी यानी सूजन को कम करने वाले गुण को जिम्मेदार माना जा सकता है (16)। इस आधार पर आंखों के नीचे सूजन कम करने के लिए घरेलू उपाय में आलू के इस्तेमाल की सलाह दी जा सकती है।

13. सॉल्ट वाटर या सलाइन

सामग्री :

  • एक कटोरी गुनगुना पानी
  • चुटकी भर नमक
  • आई पैड या कॉटन बॉल

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी गुनगुना पानी में नमक मिलाएं।
  • अब इसमें आई पैड या फिर कॉटन बॉल डालकर उसे भिगो लें।
  • फिर उसे निचोड़ कर आंखों के नीचे वाले हिस्से पर रखें ।
  • 15 मिनट के बाद चेहरा धो लें।
  • हर रात सोने से पहले इस उपाय को करें।

कैसे है फायदेमंद :

नमक और पानी का इस्तेमाल करके भी आंखों के नीचे सूजन का इलाज किया जा सकता है। जैसा कि हमने लेख में बताया है कि कई बार आंखों में हुए संक्रमण और एलर्जी के कारण भी सूजन की समस्या हो सकती है (1) । ऐसे में सलाइन का इस्तेमाल करना फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, एक शोध में बताया गया है कि सॉल्ट वाटर का इस्तेमाल आंखों के संक्रमण और एलर्जी के लक्षणों को कम कर सकता है (17)। ऐसे में माना जा सकता है कि पानी और नमक का इस्तेमाल आंखों के सूजन को कम करने में सहायक हो सकता है।

14. स्ट्रॉबेरी

सामग्री :

  • एक से दो स्ट्रॉबेरी (मैश की हुई)

उपयोग का तरीका :

  • मैश की हुई स्ट्रॉबेरी को आंखों के नीचे सावधानी से लगाएं।
  • इसे करीब 10 से 12 मिनट के लिए ऐसे छोड़ दें।
  • इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • दिन में एक बार स्ट्रॉबेरी के इस उपाय को अपनाएं।

कैसे है फायदेमंद :

स्ट्रॉबेरी की मदद से भी आंख के नीचे फूलना कम किया जा सकता है। स्ट्रॉबेरी पर हुए शोध में पता चलता है कि इसमें में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होता है (18)। इसका यह गुण आंख के नीचे सूजन से निजात दिलाने में सहायक हो सकता है। ऐसे में स्ट्रॉबेरी का इस्तेमाल सूजी हुई आंखों से छुटकारा दिलाने में घरेलू उपाय के तौर पर किया जा सकता है।

15. लेमन जूस

सामग्री :

  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक चम्मच दूध या क्रीम
  • कॉटन बॉल

उपयोग का तरीका :

  • एक कटोरी में नींबू का रस और दूध या मलाई मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण में कॉटन बॉल को भिगो लें।
  • इसे आंखों के नीचे हल्के हाथों से लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • दिन में एक से दो बार ये विधि अपना सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

आंख के नीचे सूजन को कम करने के लिए नींबू के रस का इस्तेमाल किया जा सकता है। बता दें कि नींबू में सूजन को कम करने वाले गुण मौजूद होते हैं (19)। इसके अलावा, दूध में भी एंटी-इंफ्लेमेटरी यानी सूजन से राहत दिलाने वाला गुण पाया जाता है (20)। इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि दूध व नींबू का मिश्रण आंखों की सूजन से राहत दिला सकता है।

16. विटामिन-के

सामग्री :

  • विटामिन-के युक्त खाद्य पदार्थ

उपयोग का तरीका :

  • विटामिन-के युक्त खाद्य पदार्थ को अपने आहार में शामिल करें।
  • चाहें तो विटामिन-के सप्लीमेंट का भी सेवन डॉक्टरी सलाह पर कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

आंखों के लिए विटामिन-के बेहद लाभकारी माना जाता है। बताया जाता है कि इसमें सूजन को कम करने वाला गुण मौजूद होता है (21)। ऐसे में माना जा सकता है कि यह आंखों के नीचे के सूजन को कम करने में मदद कर सकता है। वहीं, इसकी पूर्ति के लिए विटामिन-के युक्त खाद्य पदार्थ, जैसे पालक, केल, ब्रोकली और लेट्यूस, वनस्पति तेल, ब्लूबेरी, अंजीर, मांस, पनीर, अंडे, और सोयाबीन का सेवन किया जा सकता है (22)।

नोट : ऊपर बताई गई किसी भी सामग्री को इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट कर यह सुनिश्चित कर लें कि कहीं इसे किसी प्रकार की एलर्जी तो नहीं। इसके अलावा, इन सामग्रियों का इस्तेमाल आंखों में लगाते वक्त ध्यान से करें, ताकि वो आंखों के अंदरूनी हिस्से में न जा पाए।

आगे है और जानकारी

आंखों के नीचे सूजन के लिए घरेलू उपाय के बाद जानेंगे आंखों के नीचे सूजन से बचने के उपाय।

आंखों के नीचे सूजन से बचने के उपाय – Prevention Tips for Eye Bags in Hindi

आंख के नीचे सूजन के कारण कई सारे हैं, जिसके बारे में हम लेख में बता चुके हैं। वहीं, कुछ बातों का ध्यान रख कर इस समस्या से बचा भी जा सकता है। इसलिए, यहां हम आंखों के नीचे सूजन से बचने के उपाय बता रहे हैं, जो इस प्रकार हैं :

  • आंख के नीचे सूजन से बचने के लिए नमक का सेवन सीमित मात्रा में करें।
  • आंखों के नीचे सूजन से बचने के लिए पर्याप्त नींद लेना भी आवश्यक है। इससे आंखों के नीचे ही नहीं, बल्कि आंखों के ऊपर सूजन से भी बचा जा सकता है।
  • रात को सोने से पहले मेकअप हटा कर सोएं।
  • आंखों की सूजन से बचने के लिए शराब का सेवन न करें।
  • आंख के नीचे सूजन से बचने के लिए धूम्रपान से परहेज करें।
  • जब भी घर से बाहर धूप में निकलें, तो धूप का चश्मा पहनकर निकलें। ये आंखों को हानिकारक यूवी किरणों से बचाने के साथ-साथ धूल और संक्रमण से भी
  • बचाने में मदद कर सकता है।
  • आंखों को छूने या रगड़ने से बचें। इससे संक्रमण फैलने का खतरा बना रहता है।
  • आंखों की नियमित रूप से सफाई करते रहें।

आंखें शरीर के महत्वपूर्ण हिस्सों में से एक हैं, जिसे खास देखभाल की जरूरत होती है। इस लेख में हमने आंखों के नीचे सूजन से छुटकारा पाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे बताए हैं। इसके अलावा, यहां हमने आंखों के नीचे सूजन का कारण भी समझाया है। वहीं, अगर लेख में आंखों के नीचे सूजन कम करने के टिप्स अपनाने के बाद भी किसी प्रकार की समस्या हो, तो बिना देर किए डॉक्टर से संपर्क करें। लेख में आगे हम पाठकों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब दे रहे हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या नींद की कमी के कारण आंख के नीचे सूजन की समस्या हो सकती है?

जी हां, पर्याप्त नींद न लेने से आंखों के नीचे सूजन नजर आ सकती है (1)।

किस उम्र में आंखों के नीचे सूजन दिखाई देती है?

आंखों के नीचे सूजन की समस्या किसी भी उम्र में हो सकती है। फिलहाल, इस पर हुए शोध से जानकारी मिलती है कि बढ़ती उम्र के साथ आंखों के नीचे हल्की सूजन की समस्या देखी जा सकती है। वहीं, कई बार ये समस्या समय से पहले भी दिखाई दे सकती है (23)।

क्या आंखों की सूजन स्थायी होते हैं?

नहीं, आंखों की सूजन स्थायी नहीं होती है (1)। लेख में ऊपर बताए गए घरेलू उपायों के इस्तेमाल से इस समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

कौन से खाद्य पदार्थ आंखों के सूजन का कारण बनते हैं?

आंखों के सूजन की समस्या अधिक नमक के सेवन से हो सकती है। खासकर सुबह के नाश्ते में अगर अधिक नमक युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन किया जाए, तो इससे आंखों में सूजन होने का जोखिम बढ़ सकता है (1)।

मैं अपनी आंखों के नीचे सूजन से जल्दी कैसे छुटकारा पा सकती हूं?

आंखों के नीचे सूजन से जल्दी छुटकारा नहीं पाया जा सकता है। इसके लिए धैर्य बरतने की आवश्यकता होती है। वहीं, इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए लेख में बताए गए घरेलू उपायों को अपनाया जा सकता, जिसका असर धीरे-धीरे हो सकता है।

क्या बेकिंग सोडा आई बैग्स को हटा सकता है?

जी हां, बेकिंग सोडा आई बैग्स को हटा सकता है। जैसा कि हमने लेख में ऊपर बताया है कि बेकिंग सोडा में एंटी-इंफ्लेमेटरी यानी सूजन को कम करने वाला गुण मौजूद होता है (10)। ऐसे में इसका इस्तेमाल आंखों के नीचे के सूजन को कम कर सकता है। इसे कैसे इस्तेमाल करना है, उसकी विधि लेख में ऊपर विस्तार से बताई गई है।

क्या वजन कम करने से आई बैग्स कम हो जाते हैं?

नहीं, वजन कम करने से फैट बर्न हो सकता है (24)। इसका आई बैग्स पर कितना प्रभाव पड़ सकता है, फिलहाल इस बारे में शोध किया जा रहा है।

संदर्भ (Sources)

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Periorbital Edema
    https://www.researchgate.net/publication/332670247_Periorbital_Edema
  2. Evaluation of Caffeine Gels on Physicochemical Characteristics and In Vivo Efficacy in Reducing Puffy Eyes
    http://japsonline.com/admin/php/uploads/20_pdf.pdf
  3. Anti-Inflammatory Properties and Chemical Characterization of the Essential Oils of Four Citrus Species
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4835072/
  4. Anti-inflammatory effects of chamomile essential oil in mice
    https://www.researchgate.net/publication/236023127_Anti_inflammatory_effects_of_chamomile_essential_oil_in_mice
  5. Lavender and the Nervous System
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3612440/
  6. Antioxidant and potential anti-inflammatory activity of extracts and formulations of white tea rose and witch hazel on primary human dermal fibroblast cells
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3214789/
  7. Anti-inflammatory analgesic and antipyretic activities of virgin coconut oil
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/20645831/
  8. Medicinal benefit of coconut oil
    https://www.researchgate.net/publication/268805677_Medicinal_benefit_of_coconut_oil
  9. Antioxidant and Antiradical Activity of Coffee
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4665516/
  10. Antibacterial activity of baking soda
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12017929/
  11. Invigorating Efficacy of Cucumis Sativas for Healthcare
    https://www.pharmaresearchlibrary.com/wp-content/uploads/2014/04/IJCPS2001.pdf
  12. Eggs and Health Special Issue
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5188439/
  13. ALOE VERA: A SHORT REVIEW
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2763764/
  14. petroleum jelly
    https://www.cancer.gov/publications/dictionaries/cancer-terms/def/petroleum-jelly
  15. Eyelid Edema
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2884828/
  16. Health Benefits and Cons of Solanum tuberosum
    https://www.plantsjournal.com/vol1Issue1/Issue_jan_2013/3.pdf
  17. Herbal Significance and Home Remedies to Treat Conjunctivitis: An Overview
    http://rjtcsonline.com/AbstractView.aspx?PID=2014-5-1-7
  18. Anti-inflammatory and anti-apoptotic effects of strawberry and mulberry fruit polysaccharides on lipopolysaccharide-stimulated macrophages through modulating pro-/anti-inflammatory cytokines secretion and Bcl-2/Bak protein ratio
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22721979/
  19. Anti-inflammatory effect of lemon mucilage: in vivo and in vitro studies
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/16435583/
  20. Anti-Inflammatory Milk Matrix (AIMM)
    https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT04216004
  21. Topical vitamin K1 promotes repair of full thickness wound in rat
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4118534/
  22. Vitamin K
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminK-Consumer/
  23. Under eye-bags in healthy subjects: evaluation of the effects of a new escin-based cosmetic cream in an eight-week study
    https://www.researchgate.net/publication/313887499_Under_eye-bags_in_healthy_subjects_evaluation_of_the_effects_of_a_new_escin-based_cosmetic_cream_in_an_eight-week_study
  24. High-Intensity Intermittent Exercise and Fat Loss
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2991639/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख