अंडर आर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के 15 घरेलू उपाय – Home Remedies for Dark Underarms in Hindi

Medically reviewed by Dr. Suvina Attavar, MBBS, DVD Dr. Suvina Attavar Dr. Suvina AttavarMBBS, DVD linkedin_icon
Written by , हेल्थ एंड वेलनेस राइटर Saral Jain हेल्थ एंड वेलनेस राइटर
 • 
 

हर कोई आकर्षक दिखना चाहता है और इसमें कपड़े अहम भूमिका निभाते हैं। फैशन के इस दौर में महिलाएं किसी भी तरह के कपड़े पहनने से नहीं हिचकिचाती हैं। अब तो स्लीवलेस पहनना आम हो गया है। कई बार तो पार्टी में जाते वक्त महिलाएं बैंडो ड्रेस भी पहनना पसंद करती हैं। वहीं, कुछ महिलाएं डार्क अंडरआर्म्स के कारण चाहकर भी स्लीवलेस ड्रेस नहीं पहन पाती हैं। खासकर गर्मियों के मौसम में उन्हें इसके कारण शर्मिंदगी महसूस होती है, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, क्योंकि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम कुछ शानदार घरेलू टिप्स लेकर आए हैं। ये घरेलू उपचार डार्क अंडरआर्म्स की समस्या से निजात दिलाने में मदद कर सकेंगे।

शुरू करते हैं लेख

सबसे पहले हम डार्क अंडरआर्म्स के कारणों को समझ लेते हैं।

डार्क अंडरआर्म्स होने के कारण – Causes of Dark Underarms in Hindi

त्वचा के अन्य हिस्सों के मुकाबले अंडरआर्म्स का रंग थोड़ा डार्क होता है। हालांकि, ये किसी गंभीर समस्या का संकेत नहीं होते, लेकिन कभी-कभी शर्मिंदगी का कारण बन जाते हैं। खासकर तब जब कोई लड़की स्लीवलेस कपड़े पहनने के बारे में सोचती है। इसलिए, इसे ठीक करना जरूरी हो जाता है। इन्हें ठीक करने से पहले हम यह जान लेते हैं कि अंडरआर्म्स डार्क क्यों होते हैं। इसके पीछे मुख्य कारण इस प्रकार हैं:

  • अधिक केमिकल का इस्तेमाल करना, जैसे- ब्लीच, हेयर रिमूविंग क्रीम, डियोड्रेंट।
  • बार-बार शेविंग करने से भी अंडरआर्म्स काले हो जाते हैं।
  • मेलेनिन के अधिक उत्पादन से भी डार्क अंडरआर्म्स की समस्या हो सकती है (1)
  • ज्यादा टाइट कपड़े भी डार्क अंडरआर्म्स के कारण बन सकते हैं
  • प्रेगनेंसी में भी स्किन का कलर डार्क हो सकता है (2)
  • डायबिटीज या उच्च इंसुलिन स्तर भी त्वचा के कालेपन की वजह होती है (3)
  • बैक्टीरियल इंफेक्शन खासकर एरिथ्रस्मा (Erythrasma) भी अंडरआर्म्स के कालेपन का कारण माना जा सकता है (4)
  • डेड स्किन के कारण भी अंडरआर्म्स में कालापन आ सकता है।
  • वहीं डॉक्टरों की मानें तो एकान्थोसिस निग्रिकांस (acanthosis nigricans) के कारण भी हो सकता है। यह त्वचा संबंधित स्थिति होती है, जिसमें त्वचा का मलिनकिरण होने लगता है।

नीचे स्क्रॉल करें

चलिए, अब हम अंडरआर्म्स के कालेपन को कैसे हटाएं, इस बारे में बताते हैं।

अंडरआर्म्स की कालेपन हटाने के लिए घरेलू उपाय – 15 Effective Home Remedies for Dark Underarms in Hindi

यहां हम अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के कुछ असरदार घरेलू उपाय बता रहे हैं। बस इन घरेलू नुस्खों को इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट करें, ताकि पता चल सके कि किसी सामग्री से एलर्जी तो नहीं होती है। चलिए, जानते हैं कि बगल का कालापन कैसे दूर करें-

1. सेब का सिरका

सामग्री:

  • सेब का सिरका – दो चम्मच
  • बेकिंग सोडा – दो चम्मच

उपयोग करने का तरीका:

  • बेकिंग सोडा में सिरका मिलाएं और इसे अच्छे से घोल लें।
  • एक बार जब यह अच्छे से घुल जाए, तो इसे अपने अंडरआर्म्स पर लगाकर थोड़ी देर सूखने दें।
  • फिर थोड़ी देर के बाद उसे धो दें।
  • इसे हफ्ते में तीन बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है :

जैसा कि हमने लेख में बताया कि मृत कोशिकाएं भी ब्लैक अंडरआर्म्स का एक कारण हो सकती हैं। ऐसे में सेब के सिरके में मौजूद अल्फा हाइड्रोक्साइल एसिड त्वचा में जमे हुए मृत कोशिकाओं को हटाकर नई और स्वस्थ स्किन को जन्म दे सकता है (5)। इसके अलावा, सेब के सिरके में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जो सूक्ष्म बैक्टीरिया  (जिसकी वजह से कालापन हो सकता) को नष्ट करने में मदद कर सकते हैं (6)

सावधानी : अगर किसी की त्वचा संवेदनशील है, तो एक चम्मच सेब के सिरके में एक चम्मच पानी और बेकिंग सोडा जरूर मिलाए।

2. एलोवेरा

सामग्री:

  • एलोवेरा का पत्ता

उपयोग करने का तरीका:

  • एलोवेरा के पत्ते को काटकर उसका जेल निकालें।
  • अब इस जेल को अंडर आर्म्स पर लगाकर 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर थोड़ी देर बाद पानी से धो लें।
  • अगर किसी के पास एलोवेरा का पौधा नहीं है, तो बाजार में मिलने वाले ऑर्गेनिक एलोवेरा जेल का भी उपयोग कर सकते हैं।
  • इस नुस्खे का इस्तेमाल हर दूसरे दिन किया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है :

एलोवेरा में एलोसिन (Aloesin) होता है। यह टायरोसिन अवरोधक (tyrosinase inhibitor) है। टायरोसिन एक तरह का एंजाइम है, जो त्वचा पर पिगमेंटेशन के लिए जिम्मेदार है। एलोवेरा इस एंजाइम की गतिविधि में बाधा डालकर अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर रखने में मदद कर सकता है (7)

3. जैतून का तेल

सामग्री:

  • जैतून का तेल – दो चम्मच
  • भूरी चीनी – दो से तीन चम्मच

उपयोग करने का तरीका:

  • तेल में भूरी चीनी को अच्छी तरह मिलाएं।
  • अब अंडरआर्म्स को हल्का भिगोकर उस पर यह मिश्रण लगाएं।
  • फिर इसे एक से दो मिनट के लिए स्क्रब करें और फिर पांच मिनट के लिए छोड़ दें।
  • बाद में गुनगुने पानी से धो दें।
  • जब तक इसका पूरा परिणाम न मिले, तब तक इसे हफ्ते में दो बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है :

जैतून में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी माइक्रोबियल गुण प्रचुर मात्रा में होते हैं, जो फ्री रेडिकल्स और बैक्टीरिया से त्वचा की रक्षा करने में मदद कर सकते हैं (8)। इसके अलावा, जैतून का तेल मेलेनिन के उत्पादन को कम कर सकता है, जिससे त्वचा का रंग डार्क होने से बचाया जा सकता है (9)। वहीं, ब्राउन शुगर का इस्तेमाल पारंपरिक रूप से साबुन या लोशन में एक कंपाउंड के तौर पर त्वचा की समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता रहा है। यह यूवीबी किरणों के कारण समय से पहले त्वचा की उम्र बढ़ने और झुर्रियों को रोकने में मदद कर सकता है (10)

4. हल्दी

सामग्री:

  • हल्दी पाउडर- एक चम्मच
  • दूध पाउडर – एक चम्मच
  • शहद – एक चम्मच

उपयोग करने का तरीका:

  •   सारी सामग्रियों को मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  •   फिर उस पेस्ट को अपने अंडर आर्म्स पर लगाएं।
  •   अब इसे 10-12 मिनट के लिए सूखने दें।
  •   उसके बाद पानी से धो लें।
  •   इसे हफ्ते में दो बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है : 

आमतौर पर हल्दी को फेस पैक की तरह लगाया जाता है। इसमें करक्यूमिन नामक तत्व पाया जाता है, जो त्वचा के दाग-धब्बों को हल्का कर रंगत को निखार सकता है। अगर डार्क अंडरआर्म्स पर इसका उपयोग लगातार किया जाए, तो कालापन दूर हो सकता (11) (12)। वहीं, दूध त्वचा से पिगमेंटेशन और डार्क स्पॉट को कम कर निखार लाने में मदद कर सकता है (13)

सावधानी : अगर किसी को दूध या दूध के उत्पादों से एलर्जी है, तो इस नुस्खे को न अपनाएं।

5. अरंडी का तेल

सामग्री:

  • अरंडी का तेल – एक से दो चम्मच

उपयोग करने का तरीका:

  • नहाने से पहले अंडरआर्म्स में अरंडी का तेल लगाकर पांच मिनट तक मालिश करें।
  • फिर नहा लें।
  • रोजाना इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है:

अरंडी का तेल भी अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकता है।
एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के मुताबिक, अरंडी का तेल त्वचा के कालेपन की वजह बनने वाले अशुद्धियों को निकालकर उसे साफ करने में मदद कर सकता है (14)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि अरंडी का तेल अंडरआर्म्स के कालेपन को कम कर सकता है।

6. टी ट्री ऑयल

सामग्री :

  • टी ट्री ऑयल – चार-पांच बूंद
  • पानी – एक कप
  • एक छोटी स्प्रे बोतल

उपयोग करने का तरीका:

  • स्प्रे बोतल में पानी भरकर इसमें टी ट्री ऑयल डालकर अच्छी तरह से मिक्स करें।
  • अब इस मिश्रण को अंडर आर्म्स पर स्प्रे करें और उसे प्राकृतिक तरीके से सूखने दें।
  •   इसका रोज इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है : 

अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए टी ट्री ऑयल अच्छा विकल्प है। जैसा कि हमने लेख में बताया कि अंडरआर्म्स के काले होना का कारण कभी-कभी बैक्टीरिया भी हो सकते हैं। ऐसे में टी ट्री ऑयल के फायदे देखे जा सकते हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक रिसर्च से पता चलता है कि टी ट्री ऑयल में एंटीमाइक्रोबियल गुण  मौजूद होते हैं, जो कीटाणुओं से लड़ने में मदद कर सकते हैं (15)

सावधानी : टी ट्री ऑयल एसेंशियल ऑयल है और काफी गाढ़ा होता है। संभव है कि कुछ लोगों की त्वचा पर यह सूट न करे, इसलिए इसका पैच टेस्ट जरूर कर लें। 

7. बादाम तेल

सामग्री:

  • बादाम तेल की 3 से 4 बूंदें

उपयोग करने का तरीका :

  • पांच से दस मिनट के लिए बादाम तेल से अपने अंडर आर्म्स की मालिश करें।
  • हर दिन इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है:

डार्क अंडरआर्म्स में बादाम के तेल के फायदे भी देखे जा सकते हैं। एनसीबाआई की साइट पर उपलब्ध शोध में भी इस बात का जिक्र मिलता है कि बादाम के तेल में एमोलिएंट (emollient) गुण होता है, जो स्किन टोन को सुधारने में मदद कर सकते है। यही नहीं, बादाम का तेल त्वचा को स्मूद (चिकना) और जवां बनाए रखने में भी सहायक हो सकता है (16)

8. नींबू रस

सामग्री :

  • एक नींबू

उपयोग करने का तरीका:

  • सबसे पहले नींबू को काट लें और उसे अपने अंडरआर्म्स पर दो-तीन मिनट तक रगड़ें।
  • फिर 10 मिनट तक नींबू के रस को वहां लगा रहने दें और फिर धो लें।
  • हफ्ते में तीन से चार बार इसका उपयोग कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है : 

त्वचा के लिए नींबू के फायदे कई सारे हैं। इसमें विटामिन-सी होता है, जो कई मायने में त्वचा की रक्षा कर सकता है। इसके अलावा, नींबू में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो मृत कोशिकाओं (ब्लैक अंडरआर्म्स के कारणों में से एक) को बाहर निकालने में मदद कर सकते हैं। साथ ही नींबू में मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण बैक्टीरिया से लड़कर त्वचा को सुरक्षित रख सकता है (5)

9. खीरा

सामग्री:

  • खीरे के दो टुकड़े

उपयोग करने का तरीका:

  • खीरे के टुकड़ों को लें और अंडरआर्म्स पर एक से दो मिनट के लिए रगड़ें।
  • फिर खीरे से निकले रस को अंडरआर्म्स पर करीब 10 मिनट तक लगा रहने दें।
  • इसके बाद पानी से धो लें।
  • जल्द और अच्छे परिणाम के लिए हर दिन इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है : 

बगल के कालेपन को दूर करने में खीरा भी लाभकारी सिद्ध हो सकता है। इससे जुड़े एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि खीरे का इस्तेमाल स्क्रब के रूप में किया जा सकता है। यह त्वचा की अशुद्धियों, मृत कोशिकाओं और गंदगी को हटाने में मदद कर सकता है (17)। ये सभी गुण ब्लैक अंडरआर्म्स को दूर करने में सहायक हो सकते हैं।

10. प्यूमिक स्टोन

सामग्री:

  • एक प्यूमिक स्टोन

उपयोग करने का तरीका:

  • नहाने से पहले प्यूमिक स्टोन को भिगोकर कुछ मिनट तक अपने अंडरआर्म्स पर हल्के-हल्के हाथों से   रगड़ें।
  • हफ्ते में दो-तीन बार इस विधि को अपना सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है :

अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए प्यूमिक स्टोन का भी उपयोग किया जा सकता है। दरअसल, इसका इस्तेमाल कई सालों से एक्सफॉलिएट के तौर पर किया जाता आ रहा है। यह स्क्रब की तरह काम कर सकता है, जिसकी मदद से मृत कोशिकाओं (कालेपन का कारण) को हटाने में काफी आसानी हो सकती है (17)। इससे जुड़े एक शोध में बताया गया है कि प्यूमिक स्टोन के जरिए त्वचा की मोटी परत को निकालने में मदद मिल सकती है (18)

सावधानी : इसे ज्यादा जोर से नहीं, बल्कि हल्के-हल्के हाथों से रगड़ें। अंडरआर्म्स की त्वचा बहुत संवेनदशील होती है, इसे जोर से रगड़ने से त्वचा छिल सकती है। 

11. सूरजमुखी का तेल

सामग्री :

  • सूरजमुखी तेल की कुछ बूंदें

उपयोग करने का तरीका:

  • अपने अंडरआर्म्स पर सूरजमुखी के तेल से एक-दो मिनट तक मालिश करें।
  • तेल को 15-20 मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।
  • अच्छे परिणाम के लिए इसे दिनभर में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है :

डार्क अंडरआर्म्स पर सूरजमुखी के तेल के फायदे देखे जा सकते हैं। एक शोध में यह बताया गया है कि इसमें एंटी माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं (19)। यह अंडरआर्म्स के कालेपन की वजह बनने वाले बैक्टीरियाओं से लड़ने में त्वचा की मदद कर सकते हैं। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि सूरजमुखी का तेल बैक्टीरिया के कारण होने वाले बगल के कालेपन को दूर करने में मदद कर सकता है

12. मुल्तानी मिट्टी

सामग्री :

  • मुल्तानी मिट्टी- दो चम्मच
  • नींबू का रस – एक चम्मच

उपयोग करने का तरीका :

  • मुल्तानी मिट्टी में नींबू का रस और आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इसे पेस्ट को अंडरआर्म्स पर 10 मिनट तक लगाकर रखें और फिर धो लें।
  • मुल्तानी मिट्टी के इस पैक को हफ्ते में दो बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है :

त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे कई सारे हैं। त्वचा को चमकदार बनाने के लिए इसका उपयोग वर्षों से किया जा रहा है। इसलिए, बगल के कालेपन को हटाने में इसके फायदे देखे जा सकते हैं। दरअसल, यह त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाकर अशुद्धियों को साफ करने में मदद कर सकता है (13)। इससे अंडरआर्म्स के डार्कनेस को हटाने में मदद मिल सकती है।

सावधानी : कुछ लोगों की त्वचा संवेदनशील होती है। संभव है कि मुल्तानी मिट्टी का पैक उन्हें सूट न करे। इसलिए, यह घरेलू नुस्खा इस्तेमाल करने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।

13. गुलाब जल

सामग्री:

  • गुलाब जल
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा

उपयोग करने का तरीका:

  • बेकिंग सोडा और गुलाब जल को मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अंडरआर्म्स पर लगाकर आठ-दस मिनट के लिए रखें, ताकि यह सूख जाए।
  • फिर इसे ठंडे पानी से धो लें।
  • इस पैक को हफ्ते में दो बार लगाया जा सकता है।

कैसे फायदेमंद है :

गुलाब जल त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। इसकी मदद से त्वचा में निखार आ सकता है। एक शोध में बताया गया है कि गुलाब की पंखुड़ियों के अर्क में स्किन व्हाइटनिंग गुण यानी त्वचा में निखार लाने के गुण मौजूद होते हैं (20)। वहीं, बेकिंग सोडा में भी एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो सूक्ष्म जीवाणु से लड़ने में त्वचा की मदद कर सकते हैं (21)। फिलहाल, इस संबंध में और रिसर्च किया जा रहा है।

14. आलू

सामग्री:

  • एक छोटा आलू

उपयोग करने का तरीका:

  • आलू को छीलकर उसे कद्दूकस कर लें।
  • अब इस कद्दूकस किए आलू को निचोड़कर रस निकाल लें और उसे अपने अंडरआर्म्स पर लगा लें।
  • फिर 10-15 मिनट बाद उसे पानी से धो लें।
  • जब तक प्रभाव नजर न आए, इसे दिनभर में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है :

त्वचा के लिए आलू के फायदे अनेक हैं। दरअसल, आलू में विटामिन-सी पाया जाता है (22)। बता दें कि विटामिन-सी मेलानोजेनेसिस (मेलेनिन के उत्पादन की प्रक्रिया) को कम कर सकता है, जिससे त्वचा की रंगत में सुधार हो सकता है (23)। एक अन्य शोध की मानें, तो विटामिन-सी एंटी पिगमेंटिंग कंपाउंड के रूप में भी कार्य कर सकता है, जो हाइपर पिगमेंटेड स्पॉट (काले धब्बे) को कम कर सकता है (24)

15. फिटकिरी

सामग्री:

  • एक या दो चम्मच फिटकरी का पाउडर

उपयोग करने का तरीका:

  • फिटकरी में थोड़ा-सा पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • फिर नहाने से पहले इस पेस्ट को लगाकर 10 से 15 मिनट तक रहने दें।
  • उसके बाद नहा लें।
  • हफ्ते में एक या दो बार इस पेस्ट को लगाएं।

कैसे फायदेमंद है :

फिटकरी के फायदे त्वचा के लिए कई प्रकार के हैं। दरअसल, फिटकरी में एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं (25)। यह उन बैक्टीरिया से त्वचा की रक्षा कर सकते हैं, जो ब्लैक अंडरआर्म्स का कारण बनते हैं। इसके अलावा, एक रिसर्च में इस बात की भी जानकारी मिलती है कि, फिटकरी का इस्तेमाल अंडरआर्म्स में आने वाले पसीने को कम करने के लिए किया जा सकता है (26)।  इस आधार पर माना जा सकता है कि अंडर आर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने में फिटकरी का उपयोग प्रभावी हो सकता है। अभी इस संबंध में और शोध किया जा रहा है।

बने रहें हमारे साथ

आइए, अब जानते हैं कि अंडर आर्म्स ब्लैक रिमूवल के लिए डॉक्टर से कब संपर्क करना चाहिए।

अंडरआर्म्स के कालेपन के लिए डॉक्टर की सलाह कब लेनी चाहिए?

यहां हम बता रहे हैं कि अंडरआर्म्स के कालेपन के लिए डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए-

  • अगर ऊपर बताए गए डार्क अंडरआर्म्स होम रेमेडी के बाद भी बगल का कालापन नहीं जाता है, तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
  • कभी-कभी कालापन बैक्टीरिया के अलावा किसी अन्य कारणों से भी हो सकता है। इसलिए, ऐसे मामले में डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। डॉक्टर समस्या की पहचान कर सही सुझाव या ट्रीटमेंट दे सकते हैं।
  • इसके अलावा, अगर कोई मधुमेह की समस्या या फिर थायराइड की समस्या से ग्रसित है और उनके बगल के काले दाग कई उपायों के बाद भी नहीं ठीक हो रहे हैं, तो उन्हें भी तुरंत डॉक्टरी परामर्श लेना चाहिए।

अंत तक पढ़ें लेख

लेख के इस भाग में हम बगल के काले दाग से छुटकारा पाने के इलाज बता रहे हैं।

अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा का इलाज

अंडरआर्म्स का काला होना कोई गंभीर समस्या नहीं है। घर बैठे ही इससे आसानी से निजात पाया जा सकता है। फिर भी कुछ मामलों में अगर बताए गए घरेलू उपायों से यह ठीक नहीं होता है, तो डॉक्टरी सलाह पर इसका इलाज कराया जा सकता है। चलिए, जान लेते हैं कि बगल के काले दाग से छुटकारा पाने के इलाज क्या हैं।

  • केमिकल पील्स: इसका इस्तेमाल त्वचा के पिगमेंटेशन को सुधारने के लिए किया जा सकता है। यह त्वचा से अधिक मेलेनिन के उत्पादन को कम करने में सहायता कर सकता है, जिससे पिगमेंटेशन को कम करने में सहायता मिल सकती है (27)
  • क्रीम और एंटीबायोटिक्स: कई डॉक्टर अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करने के लिए एंटी बैक्टीरियल क्रीम या एंटीबायोटिक की सलाह दे सकते हैं। ये सभी कांख के कालेपन को दूर करने में सहायक साबित हो सकते हैं।
  • लेजरअंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करने और बालों को कम करने के लिए लेजर ट्रीटमेंट भी उपयोगी हो सकता है

अभी बाकी है जानकारी

चलिए, अब हम कांख का कालापन दूर करने के लिए कुछ और टिप्स बताते हैं।

अंडरआर्म्स के कालेपन के लिए कुछ और टिप्स – Other Tips for Dark Underarms in Hindi

लेख में बताए गए घरेलू उपायों के अलावा हम कुछ अन्य टिप्स भी बता रहे हैं, जिससे कांख का कालापन दूर किया जा सकता है। ये टिप्स कुछ इस प्रकार हैं:

  •     रोजाना स्नान करें।
  •     नहाने के लिए एंटीबैक्टीरियल साबुन का प्रयोग कर सकते हैं।
  •     साफ तौलिए से ही शरीर पोछें।
  •     सिंथेटिक या फिर पसीना पैदा करने वाले कपड़े पहनने से बचें।
  •     अंडरआर्म्स के लिए केमिकल फ्री हेयर रिमूवल क्रीम का प्रयोग करें
  •     कांख में पसीना न जमने दें।

हमें उम्मीद है कि इस लेख को पढ़ने के बाद अब किसी को अंडरआर्म्स के कालेपन की वजह से शर्मिंदा नहीं होना पड़ेगा। इस लेख में बताए गए सभी उपाय कारगर हैं। इन उपायों को अपनाकर बगल के काले दाग से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है। साथ ही हमने ब्लैक अंडरआर्मस रिमूव करने के लिए कुछ टिप्स भी बताए हैं, जिनकी मदद से इस समस्या से बचा जा सकता है। ऐसे ही अन्य विषयों के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए पढ़ते रहें स्टाइलक्रेज।

आइए, अब हम पाठकों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब जान लेते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या डियोड्रेंट डार्क अंडरआर्म्स का कारण बन सकता है?

हां, डियोड्रेंट भी डार्क अंडरआर्म्स का कारण बन सकता है।

क्या टूथपेस्ट डार्क अंडरआर्म्स से छुटकारा दिलाता है?

नहीं, टूथपेस्ट डार्क अंडरआर्म्स से छुटकारा नहीं दिलाता है।

मैं रात भर में अपनी कांख को कैसे निखार सकता हूं?

रात भर में कांख के कालेपन को दूर नहीं किया जा सकता। इसके लिए नियमित रूप से घरेलू उपचार करने की जरूरत है। कुछ समय बाद परिणाम खुद नजर आएंगे।

नींबू के साथ अंडरआर्म्स को निखारने में कितना समय लगता है?

नींबू के साथ अंडरआर्म्स को निखारने में हफ्ते या महीने लग सकते हैं।

नारियल तेल से कांख को निखारने में कितना समय लगता है?

नारियल तेल से कांख को निखारने में भी हफ्ते या महीने लग सकते हैं।

References

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Histological evaluation of hyperpigmentation on female Filipino axillary skin
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/18489264/
  2. Extensive hyperpigmentation during pregnancy: a case report
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3183040/
  3. Diabetes mellitus and the skin*
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5312172/
  4. Erythrasma
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK513352/
  5. Formulation and evaluation of herbal face mist
    http://www.jipbs.com/VolumeArticles/FullTextPDF/471_JIPBSV7I102.pdf
  6. Antimicrobial activity of apple cider vinegar against Escherichia coli, Staphylococcus aureus and Candida albicans; downregulating cytokine and microbial protein expression
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5788933/
  7. Mechanisms Regulating Skin Pigmentation: The Rise and Fall of Complexion Coloration
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2769151/
  8. Oleuropein in Olive and its Pharmacological Effects
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3002804/
  9. Oil type and cross‐linking influence growth of Aureobasidium melanogenum on vegetable oils as a single carbon source
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6291786/
  10. Effects of the nonsugar fraction of brown sugar on chronic ultraviolet B irradiation-induced photoaging in melanin-possessing hairless mice
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19050991/
  11. Turmeric, the Golden Spice
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK92752/
  12. Beneficial role of curcumin in skin diseases
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/17569219/
  13. In-House Preparation and Standardization of Herbal Face Pack
    https://pdfs.semanticscholar.org/1ca2/5c17343fd28d0dfa868e2abd0919f8e986dd.pdf
  14. Dirt-binding particles consisting of hydrogenated castor oil beads constitute a nonirritating alternative for abrasive cleaning of recalcitrant oily skin contamination in a three-step programme of occupational skin protection
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19995365/
  15. A review of applications of tea tree oil in dermatology
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22998411/
  16. The uses and properties of almond oil
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/20129403/
  17. Skin Care with Herbal Exfoliants
    https://www.researchgate.net/publication/224892687_Skin_Care_with_Herbal_Exfoliants
  18. The pumice stone in dermatologic therapy
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/7354146/
  19. Physicochemical and anti-microbial properties of sunflower (HELIANTHUS ANNUUS L.) seed oil
    https://www.researchgate.net/publication/311081213_Physicochemical_and_anti-microbial_properties_of_sunflower_HELIANTHUS_ANNUUS_L_seed_oil
  20. Antityrosinase Activity And Antioxidant Activity Of Santalum Album & Rosa Bracteatae Plant Extracts For Skin Whitening Assay
    https://storage.googleapis.com/journal-uploads/ejbps/article_issue/volume_5_august_issue_8/1533021626.pdf
  21. Antibacterial activity of baking soda
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12017929/
  22. Potatoes and human health
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19960391/#:~:text=Potato%20protein%20content%20is%20fairly,skins%20provide%20substantial%20dietary%20fiber.
  23. The Roles of Vitamin C in Skin Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5579659/
  24. Vitamin C Prevents Ultraviolet-induced Pigmentation in Healthy Volunteers: Bayesian Meta-analysis Results from 31 Randomized Controlled versus Vehicle Clinical Studies
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6415704/
  25. In Vitro Study Of Concentration-Effect And Time-Course Pattern Of White Alum On Escherichia Coli O157:H7 Growth
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5446456/#:~:text=In%20conclusion%2C%20white%20alum%20has,coli%20O157%3AH7%2C%20significantly.
  26. An Appraisal of Medicinal Properties of Shab-e-Yamani (Alum): A Review
    https://www.researchgate.net/publication/330557019_An_Appraisal_of_Medicinal_Properties_of_Shibb-e-Yamani_Alum_A_Review
  27. Chemical Peels for Melasma in Dark-Skinned Patients
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3560164/#:~:text=%5B17%5D%20Chemical%20peels%20are%20a,chemical%20burn%20to%20the%20skin.

और पढ़े:

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख