वजन कम करने के लिए पपीते का उपयोग – How to Use Papaya for Weight Loss in Hindi

Written by , (शिक्षा- एमए इन मास कम्युनिकेशन)

आज के समय में हर कोई खुद को स्लिम और फिट रखना चाहता है। वहीं, इसके लिए सही वेट लॉस एक्सरसाइज और डाइट जरूरी है। वेट लॉस डाइट की बात करें, तो इसमें फल अहम भूमिका निभा सकते हैं। इसी क्रम में हम आपको वजन कम करने के लिए पपीता किस प्रकार फायदेमंद हो सकता है, यह बताने जा रहे हैं। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हमारे साथ जानिए वजन कम करने के लिए पपीते के फायदे और इसके उपयोग के तरीके। वहीं, इस लेख में पपीते के नुकसान भी साझा किए गए हैं, ताकि जानकारी के अभाव में आप इसका अधिक सेवन न कर बैठें। तो आइये, विस्तार से जानते हैं कि पपीता वजन घटाने में कैसे काम कर सकता है?

स्क्रॉल करें

आइए, सबसे पहले जानते हैं कि आखिर पपीता वजन कम करने में कैसे सहायता करता है।

वजन घटाने में पपीता क्यों फायदेमंद है? – Papaya for Weight Loss in Hindi

पोषक तत्वों और गुणों से भरपूर पपीता किस तरह वजन को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, इसकी जानकारी नीचे दे रहे हैं। वहीं, पाठक इस बात का भी ध्यान रखें कि पपीता किसी भी तरीके से मोटापे का इलाज नहीं है। इसका सेवन मोटापे से बचने के लिए एक हेल्दी डाइट के रूप में किया जा सकता है। आगे हम पापाया फॉर वेट लॉस के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

1. फाइबर से समृद्ध

वजन कम करने के लिए पपीता इसलिए भी उपयोगी माना जा सकता है, क्योंकि यह फाइबर से समृद्ध होता है (1)। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, फाइबर युक्त आहार बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। दरअसल, फाइबर का सेवन पेट को लंबे समय तक भरा रखने का काम कर सकता है, जिससे अतिरिक्त भोजन पर रोक लग सकती है और फलस्वरूप वजन को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है (2)। यही कारण है कि वजन घटाने के लिए पपीता का उपयोग किया जा सकता है।

2. कम कैलोरी

मोटापे से परेशान लोग पपीते को एक हेल्दी डाइट के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, यह एक लो कैलोरी फल माना जाता है। यही कारण है कि इसे आसानी से वेट लॉस डाइट में शामिल किया जा सकता है। इस बात का जिक्र इससे जुड़े एक वैज्ञानिक शोध में मिलता है। बता दें कि इसकी 100 ग्राम मात्रा में 32 कैलोरी पाई जाती है। वहीं, इसके साथ जरूरी वेट लॉस एक्सरसाइज भी जरूरी है (3)।

3. मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करे

मेटाबॉलिज्म पर सकारात्मक प्रभाव डालकर भी पपीता वजन को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। दरअसल, मेटाबॉलिज्म की सही दर शरीर की उर्जा की खपत को बढ़ाने में मदद करती है, जिससे कैलोरी बर्न होती है और शरीर के वजन को नियंत्रित रखने में मदद मिल सकती है (4)।

वहीं, पपीता मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद कर सकता है। दरअसल, इससे जुड़े एक शोध में पपीते को ‘एक्टिवेटर ऑफ मेटाबॉलिज्म’ कहा गया है, यानी यह मेटाबॉलिज्म को एक्टिवेट करने में मदद कर सकता है (5)। इसलिए, कहा जा सकता है कि मोटापा कम करने के लिए पपीता उपयोगी साबित हो सकता है।

4. डिटॉक्सिफिकेशन के लिए

वजन कम करने के लिए शरीर में डिटॉक्सिफकेशन प्रक्रिया को भी अहम माना जा सकता है, जिसमें पपीता सहयोग कर सकता है। इससे जुड़े एक शोध में जिक्र मिलता है कि पपीता शरीर के लिए एक डिटॉक्सिफायर के रूप में कार्य कर सकता है (5)। वहीं, एक अन्य शोध इस बात को स्पष्ट करता है कि डिटॉक्स डाइट वजन घटाने में मदद कर सकती है (6)। इस आधार पर माना जा सकता है कि वजन घटाने के लिए पपीता सहायक सिद्ध हो सकता है।

5. कब्ज के लिए

पाचन प्रक्रिया को सुचारू रखकर भी पपीता वजन नियंत्रण में मदद कर सकता है। दरअसल, इससे जुड़े एक शोध में जिक्र मिलता है कि कब्ज की समस्या से ग्रसित बच्चों में मोटापा बढ़ने का जोखिम बढ़ सकता है (7)।

वहीं, पपीते में मौजूद पपैन नामक एंजाइम पाचन में मदद कर सकता है, जिससे कब्ज जैसी समस्या से राहत मिल सकती है (3)। एक अन्य शोध में साफ जिक्र मिलता है कि पपीते का सेवन कब्ज की समस्या से निजात दिलाने में मदद कर सकता है (8)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि कब्ज से आराम दिलाकर वजन कम करने में पपीता सहायक हो सकता है।

6. प्रोटीन के अवशोषण में सहायक

वजन कम करने में पपीता इसलिए भी सहायक माना जा सकता है, क्योंकि यह प्रोटीन के अवशोषण में सहायक हो सकता है। दरअसल, इससे जुड़े एक शोध में जिक्र मिलता है कि पपीते में मौजूद पपैन नामक एंजाइम शरीर को आवश्यक अमिनो एसिड देने के लिए प्रोटीन को तोड़ने में मदद कर सकता है, जो प्रोटीन अवशोषण की एक प्रक्रिया है (9)। वहीं, प्रोटीन का सही अवशोषण वजन को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है (10)। फिलहाल, प्रोटीन अवशोषण और वजन नियंत्रण की कार्यप्रणाली को बेहतर तरीके से समझने के लिए और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

7. एंटी-ओबेसिटी प्रभाव

वजन कम करने के लिए पपीते का सेवन फायदेमंद माने जाने के पीछे का एक कारण इसमें मौजूद एंटी-ओबेसिटी प्रभाव भी हो सकता है। इस विषय पर एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध बात की पुष्टि करता है। शोध के अनुसार पपीता में एंटीऑबेसिटी प्रभाव पाया जाता है। यह प्रभाव वजन और मोटापे को कम करने में सहायक हो सकता है (11)।

अंत तक पढ़ें

पापाया फॉर वेट लॉस के बाद जानते हैं कि इसे डाइट में किस प्रकार शामिल कर सकते हैं।

मोटापा कम करने के लिए पपीते को अपने आहार में कैसे शामिल करें?

वजन कम करने के लिए पपीता के फायदे अब आप जान गए हैं, लेकिन इसके लिए पपीते का सही प्रकार से सेवन करना भी जरूरी है। आइये, नीचे जान लेते हैं कि मोटापा कम करने के लिए पपीते को किस प्रकार आहार में शामिल करें –

  • पके पपीते को छिलकर और उसके बीज निकालकर सीधे सेवन किया जा सकता है।
  • चाहें, तो कच्चे पपीते को जूस या सैलेड के रूप में आहार का हिस्सा बना सकते हैं।
  • बिना चीनी के पपीते की स्मूदी बनाकर सेवन कर सकते हैं।
  • फ्रूट सलाद के रूप में पपीते का अन्य फलों के साथ सेवन कर सकते हैं।

पढ़ते रहें

लेख में आगे जानते हैं कि वजन कम करने के लिए पपीते का उपयोग करते समय किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए।

क्या पपीते के कोई दुष्प्रभाव हैं? – Are there any Side Effects of Papaya?

वजन कम करने के लिए पपीता कितना लाभकारी हो सकता है, यह अब आप जान गए हैं। वहीं, लाभकारी समझ कर इसका सेवन अधिक मात्रा में न कर डालें, क्योंकि ऐसा करने से पपीते के नुकसान सामने आ सकते हैं। इस बारे में हम नीचे विस्तार से बता रहे हैं।

  • इसका अधिक मात्रा में किया गया सेवन कैरोटिनीमिया (त्वचा का पीला होना) का खतरा बढ़ा सकता है (12)।
  • अगर किसी को पपीते से एलर्जी की शिकायत है, तो उसे पपीते का सेवन करने से बचना चाहिए (13)।
  • गर्भवती महिलाएं हल्का पक्का पपीता या फिर कच्चे पपीते का सेवन करने से बचें। दरअसल, इसमें अधिक मात्रा में मौजूद लैटेक्स गर्भाशय के संकुचन का कारण बन सकता है (14)।
  • पपीता का अधिक सेवन खून को पतला कर सकता है। दरअसल, एक शोध में इसकी पुष्टि हुई है कि पपीता में मौजूद लैटेक्स में खून को पतला करने के गुण होते हैं (15)। ऐसे में अगर कोई खून को पतला करने की दवाई ले रहा है, तो उसे पपीते के सेवन से बचना चाहिए।
  • फाइबर से भरपूर होने की वजह से पपीते का अधिक मात्रा में सेवन पेट में दर्द, गैस की समस्या व पेट फूलने की परेशानी का कारण बन सकता है (16)।

मोटापा कम करने के लिए पपीता किस प्रकार फायदेमंद हो सकता है, यह अब आप अच्छी तरह समझ गए होंगे। अब आप बिना देरी किए इसे वेट लॉस डाइट में शामिल करें और इसके लाभ उठाएं। वहीं, इसके सेवन की मात्रा का ध्यान भी जरूर रखें, क्योंकि अधिक मात्रा में किया गया इसका सेवन बताए गए पपीते के नुकसान का कारण बन सकता है। वहीं, वजन घटाने के लिए पपीता का सेवन करने के साथ-साथ वेट लॉस एक्सरसाइज भी जरूर करें, ताकि वजन नियंत्रण की प्रक्रिया को गति मिल सके। हम उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित रहा होगा। आगे हम पाठकों द्वारा अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवालों के जवाब दे रहे हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या पपीते के बीज का सेवन करने से वजन कम होता है?

हां, पपीते के बीज के सेवन से वजन कम हो सकता है (17)।

पपीते के सेवन से वजन कम करने में कितना समय लगता है?

हम पहले ही बता चुके हैं कि पपीता मोटापे का इलाज नहीं है, यह केवल वजन को नियंत्रित करने में सहायक हो सकता है। ऐसे में यह कहना मुश्किल है कि इसका सेवन कितने दिनों में वजन को कम कर सकता है।

वजन कम करने के लिए पपीता खाने का सबसे अच्छा समय कौन-सा है?

फिलहाल, इससे जुड़ा कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है। इससे जुड़ी सही जानकारी आप डॉक्टर से ले सकते हैं।

अगर मैं रोजाना पपीते का सेवन करूं, तो क्या होगा?

पपीते का सही मात्रा में रोजाना सेवन करने से मोटापे को नियंत्रित करने किया जा सकता है। इसके अलावा यह हृदय व फेफड़ों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के साथ अन्य कई स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों से बचाव कर सकता है (8)।

क्या पपीता मोटापा बढ़ाता है?

नहीं, पपीते में एंटीओबेसिटी प्रभाव होता है, जो मोटापे को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है (11)।

क्या मैं वजन घटाने के लिए रात में पपीता का सेवन कर सकता हूं?

हां, वजन कम करने के लिए पपीते का रात में सेवन करना बेहतर माना जाता है। हालांकि, इसे लेकर कोई शोध उपलब्ध नहीं है। इससे जुड़ी जानकारी हासिल करने के लिए डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से परामर्श ले सकते हैं।

नियमित रूप से पपीता डाइट (Papaya Diet) करने से आप कैसा महसूस करेंगे?

नियमित रूप से पपीता डाइट के साथ व्यायाम को अपनी जीवन शैली का हिस्सा बनाने से न सिर्फ आपका वजन नियंत्रित रहेगा, बल्कि आप एक्टिव और कांफिडेंट भी महसूस कर सकते हैं।

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Nutraceutical Potential of Carica papaya in Metabolic Syndrome
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6682863/
  2. Fiber Intake Predicts Weight Loss and Dietary Adherence in Adults Consuming Calorie-Restricted Diets: The POUNDS Lost (Preventing Overweight Using Novel Dietary Strategies) Study
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/31174214/
  3. NUTRITIONAL AND MEDICINAL VALUE OF PAPAYA (CARICA PAPAYA LINN.)
    https://www.researchgate.net/publication/319048781_NUTRITIONAL_AND_MEDICINAL_VALUE_OF_PAPAYA_CARICA_PAPAYA_LINN
  4. Energy metabolism fuel selection and body weight regulation
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2897177/
  5. Nutritional and Medicinal Values of Papaya (Carica Papaya L.)
    https://www.researchgate.net/publication/324418355_Nutritional_and_Medicinal_Values_of_Papaya_Carica_Papaya_L
  6. Are detox diets an effective strategy for obesity and oxidation management in the short term?
    https://www.researchgate.net/publication/318725659_Are_detox_diets_an_effective_strategy_for_obesity_and_oxidation_management_in_the_short_term
  7. Increased Prevalence of Obesity in Children With Functional Constipation Evaluated in an Academic Medical Center
    https://pediatrics.aappublications.org/content/pediatrics/116/3/e377.full.pdf
  8. Traditional and Medicinal Uses of Carica papaya
    https://www.plantsjournal.com/vol1Issue1/Issue_jan_2013/2.pdf
  9. Comparative Analysis of Papain from Different varieties of Papaya Plant Latex.
    https://www.researchgate.net/publication/279277641_Comparative_Analysis_of_Papain_from_Different_varieties_of_Papaya_Plant_Latex
  10. The role of protein in weight loss and maintenance
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25926512/
  11. Anti-obesity effect of Carica papaya in high-fat diet fed rats
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7412661/
  12. Carotenemia Associated With Papaya Ingestion
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC1503272/pdf/califmed00028-0048.pdf
  13. Papaya
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/30000941/
  14. Properties of papaya (Carica Papaya Linn.)
    http://nopr.niscair.res.in/bitstream/123456789/5695/1/NPR%207%284%29%20364-373.pdf
  15. Anticoagulant and antiplatelet properties of the latex of unripe fruits of Carica papaya L. (Caricaceae)
    https://www.researchgate.net/publication/285903789_Anticoagulant_and_antiplatelet_properties_of_the_latex_of_unripe_fruits_of_Carica_papaya_L_Caricaceae
  16. Fiber
    https://medlineplus.gov/ency/article/002470.htm
  17. The Potency of Carica papaya L. Seeds Powder as Anti- Obesity ‘Coffee’ Drinks
    https://iopscience.iop.org/article/10.1088/1757-899X/515/1/012098/pdf
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख