वजन कम करने के लिए शहद का उपयोग – How to Use Honey for Weight Loss in Hindi

Written by , चीफ एडिटर Anuj Joshi चीफ एडिटर
 • 
 

वजन कम करने के लिए हर कोई सबसे पहले डाइटिंग का सहारा लेता है। ऐसा करना सही भी है, लेकिन इस चक्कर में शरीर को पर्याप्त ऊर्जा न मिल पाने के कारण कमजोरी महसूस हो सकती है। ऐसे में शहद का जरूर करना चाहिए। अगर आप यह सोच रहे हैं कि शहद खाने से वजन कम कैसे होगा और शरीर को एनर्जी कैसे मिलेगी, तो हम बता दें कि ये दोनों काम शहद कर सकता है। अब शहद वजन घटाने में कैसे मदद करता है, यह जानने के लिए आपको स्टाइलक्रेज का यह लेख अंत तक पढ़ना होगा। इस लेख में हम वजन घटाने के लिए शहद के सेवन करने के तरीके बताएंगे।

नीचे विस्तार से पढ़ें

चलिए, सबसे पहले जानते हैं कि वजन घटाने में शहद क्यों फायदेमंद है।

वजन घटाने में शहद क्यों फायदेमंद है? – Honey for Weight Loss in Hindi

शहद के फायदे शरीर पर कई तरह से हो सकते हैं। फिलहाल, हम वजन घटाने के लिए शहद के फायदे किस तरह से हो सकते हैं। इस बारे में नीचे वैज्ञानिक शोध के आधार पर विस्तार से बता रहे हैं :

1. कैलोरी को करता है कम

एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक वैज्ञानिक शोध की माने, तो शरीर को पर्याप्त ऊर्जा देने के लिए शहद का सेवन किया जाता है। साथ ही इसे खाने से शरीर में कैलोरी तेजी से बर्न होती है। इससे शरीर में फैट बनने का जोखिम कम हो जाता है (1)। इस लिहाज से कहा जा सकता है कि अगर कोई वजन घटाना चाहता है, तो रोज एक गिलास गर्म पानी में शहद मिलाकर पीना चाहिए। इसके परिणाम कुछ ही दिनाें में नजर आने लगते हैं।

2. एनर्जी बूस्ट करने के लिए

शहद बेहतर कैलोरी प्रदान कर सकता है। साथ ही यह शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने और बनाए रखने में भी मदद कर सकता है। इससे शारीरिक कमजोरी भी महसूस नहीं होती है। इसके लिए शहद में मौजूद फ्रुक्टोज (शुगर) मददगार हो सकते हैं (2)। इसलिए, कहा जा सकता है कि शहद के फायदे शरीर में ऊर्जा बनाए रखकर वजन को बढ़ने से रोकने में मदद कर सकते हैं।

3. पाचन में सुधार

शहद के सेवन से पाचन तंत्र में भी सुधार हो सकता है, जिससे वजन को कम करने में मदद मिल सकती है। इस संबंध में पब्लिश एक मेडिकल रिसर्च में दिया हुआ है कि शहद आंत में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ाने का काम कर सकता है, जो पाचन में सुधार करने का काम कर सकता है। इससे खाद्य पदार्थ को जल्दी पचाया जा सकता है, जो वजन को कम करने के लिए जरूरी होता है (3)

4. शरीर से विषाक्त पदार्थ को बाहर करने के लिए

शरीर में मौजूद विषैले तत्व को बाहर करने से वजन को कम करने में सहायता मिल सकती है। इस संबंध में प्रकाशित एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, शहद में पी-कौमारिक एसिड पाया जाता है, जो शरीर के डिटॉक्सीफिकेशन प्रक्रिया को रेगुलेट करने का काम कर सकता है। इससे विषैले पदार्थ को शरीर से बाहर निकालने में आसानी हो सकती है। यह जानकारी एनसीबीआई की वेबसाइट पर भी मौजूद है (4)

5. वजन बढ़ने की गति पर नियंत्रण

एनसीबीआई की वेबसाइट पर पब्लिश एक वैज्ञानिक अध्ययन में दिया हुआ है कि शहद वजन के बढ़ने की गति को धीमा कर सकता है। इससे मोटापे जैसी अवस्था से बचा जा सकता है। इसके अलावा, शहद में एंटी ओबेसिटी प्रभाव भी पाया जाता है, जो मोटापे को बढ़ाने से रोक सकता है (1)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि शहद के फायदे में मोटापे से बचना भी शामिल है।

6. पोषक तत्व के लाभ

शहद में पाए जाने वाले कई पोषक तत्व वजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसमें आर्गेनिक एसिड, मिनरल्स , ट्रांस एलिमेंट, विटामिन्स, एंजाइम प्रोटीन, फेनोलिक एसिड और एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम पाए जाते हैं। ये पोषक तत्व वजन को बढ़ने से रोक सकते हैं (5)। इससे वजन में कमी आ सकती है। ये सभी पोषक तत्व किस तरह से काम करते हैं, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

स्क्रॉल कर पढ़ें

लेख के अगले भाग में आप जानेंगे कि मोटापा कम करने के लिए शहद का उपयोग कैसे किया जा सकता है।

मोटापा कम करने के लिए शहद का उपयोग कैसे करें

वजन कम करने के लिए शहद को कई तरह से उपयोग किया जा सकता है। इससे शहद के स्वाद में परिवर्तन के साथ ही बेहतर तरीके से वजन को घटाया जा सकता है। ऐसे ही कुछ तरीकों के बारे में यहां बताया गया है।

1. वजन घटाने के लिए शहद और नींबू

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • एक गिलास पानी

उपयोग की विधि :

  • सबसे पहले पानी को हल्का गर्म कर लें।
  • अब इसमें शहद और नींबू के रस को अच्छी तरह मिला लें।
  • मिक्स होने के बाद इसका सेवन करें।
  • इसे हल्का गुनगुना होने पर ही पिएं।
  • इस मिश्रण को सुबह व्यायाम के बाद पीना बेहतर होगा।

2. वजन घटाने के लिए शहद और दूध

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • एक गिलास दूध

उपयोग की विधि :

  • सबसे पहले दूध को उबाल लें।
  • फिर इसे हल्का गुनगुना होने दें।
  • इसके बाद इसमें शहद डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • यह अब तैयार हो गया है, इसका सेवन कर सकते हैं।
  • अगर चाहे तो इसमें स्वाद के लिए दूध को उबालते समय इलायची भी डाल सकते हैं।

3. शहद और गर्म पानी

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • एक गिलास पानी

उपयोग की विधि :

  • सबसे पहले पानी को हल्का गर्म करें।
  • फिर इसमें शहद डालकर अच्छी तरह मिलाएं और इस पानी को पी जाएं।
  • इसे सुबह उठने के बाद खाली पेट पीना अच्छा हो सकता है।

4. शहद और ग्रीन टी

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • एक ग्रीन टी बैग
  • एक कप पानी

उपयोग की विधि :

  • सबसे पहले पानी को गर्म कर लें।
  • फिर इसे कप में निकाल कर टी बैग को एक से दो मिनट के लिए डुबोएं।
  • चाय के हल्का गुनगुना होने पर इसमें शहद मिलाएं और इसका सेवन कर लें।
  • इसे प्रतिदिन सुबह और शाम को चाय की जगह भी ले सकते हैं।

5. वजन घटाने के लिए शहद और दालचीनी

सामग्री :

  • एक चम्मच शहद
  • आधा चम्मच दालचीनी पाउडर
  • एक कप पानी

उपयोग की विधि :

  • इसे तैयार करने के लिए सबसे पहले पानी को गर्म कर लें।
  • फिर इसमें दालचीनी पाउडर डालें और कुछ देर उबला लें।
  • अब इस पानी को छानकर एक कप में निकाल लें।
  • इसके बाद इसमें शहद मिलाएं और गर्मा-गर्म पिएं।

नीचे है जरूरी जानकारी

अब यह जान लेते हैं कि वजन कम करने के लिए कितना शहद लेना सही रहता है।

वजन कम करने के लिए शहद की प्रतिदिन की खुराक कितनी होनी चाहिए?

वजन को कम करने के लिए एक युवा व्यक्ति प्रतिदिन 70-95 ग्राम तक शहद का सेवन कर सकता है (2)। इस मात्रा में व्यक्ति की उम्र और उसकी शारीरिक स्थिति के अनुसार बदलाव हो सकता है। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक व्यक्ति के लिए शहद की अलग मात्रा निर्धारित की जा सकती है। इसके लिए आहार विशेषज्ञ से सलाह लेना बेहतर होगा।

आइए, शहद से जुड़ी कुछ और बातें भी जान लेते हैं।

ध्यान देने वाली बातें

भले ही शहद काफी फायदेमंद होता है, लेकिन जिस चीज के इतने लाभ हों, उसके कुछ न कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। इसलिए, शहद का सेवन करने से पहले कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी होता है, जो इस प्रकार हैं :

  • अगर कोई डायबिटीज का मरीज है, तो वह शहद का अधिक मात्रा में सेवन करने से बचे। दरअसल, इसमें फ्रुक्टोज की मात्रा पाई जाती है, जो ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ा सकता है (6)
  • कुछ लोगों के लिए शहद पेट दर्द का कारण बन सकता है। इसमें फ्रुक्टोज पाया जाता है, जो आंत के पोषक तत्व को अवशोषित करने की क्षमता में रुकावट पैदा कर सकता है (7)। इससे पेट में दर्द उत्पन्न हो सकता है।
  • शहद के सेवन से कुछ लोगों को एनाफिलेक्सिस (Anaphylaxis) की समस्या हो सकती है, जो एक तरह का एलर्जिक रिएक्शन होता है। यहां हम स्पष्ट कर दें कि शहद के सेवन से इस तरह की एलर्जी बहुत ही कम पाई गई है (8)

वजन घटाने के लिए शहद का उपयोग करना वाकई मददगार साबित हो सकता है। इसे वजन कम करने का सबसे आसान तरीका माना जा सकता है, लेकिन इसके सेवन के साथ ही अपनी दिनचर्या में सुधार भी करना होगा। शहद तभी ज्यादा असरदार होगा, जब इसके सेवन के साथ ही व्यायाम भी किया जाए। इसके अलावा, संतुलित डायट लेना भी जरूरी है। हम उम्मीद करते हैं कि हमारे इस लेख में बताई गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

लेख के अंतिम भाग में हम वजन कम करने के लिए शहद के संबंध में कुछ पाठकों के सवाल लेकर आए हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या शहद वजन बढ़ा सकता है?

जी नहीं, शहद का सेवन वजन को बढ़ाने का काम नहीं कर सकता है (9)। हां, कम वजन वाले व्यक्ति के वजन में सुधार करने का काम जरूर कर सकता है। फिलहाल, इस संबंध में अभी वैज्ञानिक शोध की आवश्यकता है।

वजन घटाने के लिए किस प्रकार का शहद सबसे अच्छा है?

वजन कम करने के लिए प्राकृतिक यानी कच्चा शहद का उपयोग सबसे अच्छा साबित हो सकता है।

शहद से कितना वजन कम कर सकते हैं?

यह शहद के सेवन की मात्रा, व्यक्ति की शारीरिक क्षमता और प्रतिदिन किए जाने व्यायाम पर निर्भर करता है।

क्या कच्चा शहद गाढ़ा (फैटनिंग) होता है?

जी हां, कच्चा शहद गाढ़ा होता है।

एक दिन में कितना कच्चा शहद खाना चाहिए?

शोध के अनुसार, एक युवा व्यक्ति प्रतिदिन करीब 70-95 ग्राम कच्चा शहद का सेवन कर सकता है (2)। फिर भी बेहतर यही होगा कि इस संबंध में एक आहार विशेषज्ञ की राय जरूर ली जाए।

क्या मैं वजन घटाने के लिए चीनी के जगह पर शहद ले सकता हूं?

जी हां, वजन घटाने के लिए चीनी की जगह पर शहद का उपयोग ज्यादा बेहतर होगा।

References

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Four-Week Consumption of Malaysian Honey Reduces Excess Weight Gain and Improves Obesity-Related Parameters in High Fat Diet Induced Obese Rats
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5299215/
  2. Nutraceutical values of natural honey and its contribution to human health and wealth
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3583289/
  3. Effect of dietary honey on intestinal microflora and toxicity of mycotoxins in mice
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC1431562/#__sec29title
  4. Honey constituents up-regulate detoxification and immunity genes in the western honey bee Apis mellifera
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23630255/
  5. A Review on the Protective Effects of Honey against Metabolic Syndrome
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6115915/
  6. Does Natural Honey-Containing Fructose have Benefits to Diabetic Patients
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4976705/
  7. Honey may have a laxative effect on normal subjects because of incomplete fructose absorption
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/7491882/
  8. Anaphylaxis caused by honey: a case report
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5287071/
  9. Four-Week Consumption of Malaysian Honey Reduces Excess Weight Gain and Improves Obesity-Related Parameters in High Fat Diet Induced Obese Rats
    https://downloads.hindawi.com/journals/ecam/2017/1342150.pdf

और पढ़े:

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.

ताज़े आलेख