वजन कम करने के लिए एलोवेरा जूस के फायदे और उपयोग – Aloe Vera Juice For Weight Loss in Hindi

by

एलोवेरा एक खास पौधा है, जिसे स्वास्थ्य के लिए कई तरीकों से इस्तेमाल किया जाता है। माना जाता है कि इसमें कई औषधीय गुण होते हैं, जो कई शारीरिक समस्याओं के साथ-साथ बढ़ते वजन पर सकारात्मक प्रभाव छोड़ सकते हैं। यही वजह है कि वजन कम करने के लिए एलोवेरा जूस का सेवन करने की सलाह दी जाती है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में जानिए वजन कम करने के लिए एलोवेरा जूस के फायदे और इसके उपयोग करने के विभिन्न तरीके। पाठक इस बात का भी ध्यान रखें कि वजन घटाने में एलोवेरा जूस का उपयोग वैकल्पिक रूप से लाभकारी हो सकता है, इसे किसी भी तरीके से वजन कम करने का का इलाज न समझा जाए।

चलिए शुरू करते हैं

चलिए जानते हैं कि वजन घटाने में एलोवेरा जूस किस प्रकार फायदेमंद हो सकता है।

वजन घटाने में एलोवेरा जूस क्यों फायदेमंद है? – Benefits of Aloe Vera Juice for Weight Loss in Hindi

वजन कम करने के लिए एलोवेरा जूस के फायदे को लेकर कई वैज्ञानिक शोध किए गए हैं। उन्ही में से एक वैज्ञानिक शोध एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर भी उपलब्ध है। शोध के अनुसार एलोवेरा जूस में एंटी ओबेसिटी गुण पाए जाते हैं, जो शरीर में वसा (फैट) के जमाव को कम करने के साथ-साथ भोजन की अधिकता की वजह से होने वाले मोटापे (Diet-Induced Obesity) में सुधार और इससे बचाने में कुछ हद तक मदद कर सकते हैं (1)

वहीं, एक दूसरे वैज्ञानिक शोध के अनुसार नियमित रूप से एलोवेरा के जूस का सेवन करने से मेटाबॉलिज्म उत्तेजित होता है, जिससे शरीर तेजी से कैलोरी बर्न करता है और इससे वजन कम करने में मदद मिल सकती है (2)। पाठक इस बात का ध्यान रखें कि वजन घटाने के लिए एवोवेरा जूस के फायदे तब मिल सकते हैं, जब इसका सेवन हाई कैलोरी और हाई फैट युक्त भोजन को दैनिक आहार से हटाकर और नियमित व्यामाम के साथ किया जाए।

आगे जानिए मोटापा कम करने के लिए एलोवेरा जूस का उपयोग किस प्रकार किया जा सकता है।

मोटापा कम करने के लिए एलोवेरा जूस का उपयोग कैसे करें?

वजन कम करने के उपाय के रूप में एलोवेरा जूस का सेवन कई तरीके से किया जा सकता है। नीचे जानिए वजन को नियंत्रित करने के लिए अन्य खाद्य पदार्थों के साथ एलोवेरा जूस का सेवन किस प्रकार किया जा सकता है।

1. एलोवेरा जूस

सामग्री:
  • एक एलोवेरा का पत्ता
  • एक गिलास पानी
जूस बनाने की विधि:
  • सबसे पहले एलोवेरा के पत्ते को अच्छे से धों लें।
  • फिर उसे बीच से काट लें।
  • उसके बाद एलोवेरा के जेल को चम्मच की मदद से निकाल लें। ध्यान रहे इसमें मौजूद पीले रंग के तरल को अलग कर दें।
  • फिर दो से तीन चम्मच एलोवेरा जेल को पानी में डालकर अच्छे से घोल लें।
  • अब एलोवेरा जूस का सेवन किया जा सकता है।

नोट: एलोवेरा के पत्ते में लैटेक्स (पीले रंग का तरल पदार्थ) होता है, जिसे एलोवेरा जेल निकालते समय अलग कर देना चाहिए। यह एक हानिकारक पदार्थ होता है, जो विषाक्ता का कारण बन सकता है (3)।

2. एलोवेरा और नींबू का रस

सामग्री:
  • दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक गिलास पानी
  • एक नींबू
जूस बनाने की विधि:
  • सबसे पहले पानी में एलोवेरा जेल को अच्छी तरह से मिला लें।
  • फिर इसमें ऊपर से नींबू निचोड़े।
  • इसके बाद इसे अच्छी तरह मिक्स करें और इसे पी लें।
  • आप स्वाद के लिए इसमें शहद भी मिला सकते हैं।

3. एलोवेरा और शहद

सामग्री:
  • दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक चम्मच शहद
  • एक कप पानी
जूस बनाने की विधि:
  • सबसे पहले एलोवेरा जेल को पानी में अच्छे से मिक्स कर लें।
  • फिर इसमें ऊपर से शहद डालें।
  • शहद को इसमें अच्छी तरह मिलाएं और पी लें।

4. एलोवेरा स्मूदी

सामग्री:
  • दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक कप नारियल पानी
  • एक चम्मच स्पिरुलिना पाउडर
  • कुछ आइस क्यूब
  • एक छोटा खीरा (छिला और कटा हुआ)
  • आधा नींबू
जूस बनाने की विधि:
  • मिक्सर में एलोवेरा जूस के साथ नारियल पानी, स्पिरुलिना पाउडर, आइस क्यूब्स और खीरा डालकर मिक्स कर लें।
  • फिर मिक्सर को रोककर ऊपर से नींबू निचोड़ दें।
  • इसके बाद सामग्री को अच्छी तरह मिक्स करें ताकि बढ़िया स्मूदी बन जाए।
  • अब इस स्मूदी को एक गिलास में निकालें और मजे से पिएं।

पढ़ते रहें

आगे हम वजन घटाने के लिए एलोवेरा जूस पीने का सही समय बता रहे हैं।

वजन घटाने में एलोवेरा जूस पीने का सही समय – When to Drink Aloe Vera Juice for weight loss in Hindi

वजन घटाने में एलोवेरा जूस का उपयोग कभी भी किया जा सकता है, लेकिन इससे जुड़ा कोई वैज्ञानिक शोध फिलहाल उपलब्ध नहीं है। अधिकतर लोग इसका सेवन सुबह खाली पेट करते हैं। अच्छा होगा इसके सेवन से जुड़ी सही जानकारी आप डॉक्टर से प्राप्त करें।

और जानकारी के लिए करें स्क्रॉल

इस लेख के आगे भाग में हम एलोवेरा जूस के नुकसान के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

एलोवेरा जूस के नुकसान- Side Effects of Aloe Vera Juice In Hindi

कुछ लोगों को एलोवेरा जूस से कुछ नुकसान हो सकते हैं। ऐसे में इसके सेवन से पहले सावधानी बरतने की जरूरत होती है। एलोवेरा जूस के नुकसान निम्नलिखित तरीके से सामने आ सकते हैं (4) :

  • एलोवेरा जूस के सेवन से पेट में ऐंठन, दस्त, पेशाब के रंग में बदलाव, लीवर में सूजन (हेपेटाइटिस) और कब्ज जैसी समस्या उत्पन्न हो सकती है। इसके अलावा, अगर कोई लंबे समय तक एलोवेरा जूस का उपयोग करता है, तो कोलोरेक्टल कैंसर (पेट से जुड़ा कैंसर) होने का खतरा बढ़ सकता है।
  • एलोवेरा का जूस लोगों में एलर्जी का कारण भी बन सकता है। फूड एलर्जी की चपेट में जल्दी आ जाने वाले लोग इसके सेवन से पहले डॉक्टरी सलाह जरूर लें।
  • गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को एलोवेरा जूस का सेवन नहीं करना चाहिए। इसका सेवन गर्भवतियों में गर्भाशय के संकुचन और नवजात में गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल से संबंधित समस्या का कारण बन सकता है।
  • लो ब्लड प्रेशर (निम्न रक्तचाप) वाले व्यक्तियों को इसके सेवन से बचना चाहिए। यह रक्तचाप को कम करने का काम करता है। इसलिए, यह लो ब्लड प्रेशर वालों के लिए समस्या उत्पन्न कर सकता है (5)।

उम्मीद करते हैं कि अब आप अच्छी तरह समझ गए होंगे कि वजन कम करने के लिए एलोवेरा का जूस किस प्रकार लाभदायक हो सकता है। लेख में वजन घटाने के लिए एलोवेरा के जूस का सेवन किस प्रकार किया जा सकता है, यह विस्तारपूर्वक बताया गया है। साथ ही लेख में इससे होने वाले संभावित नुकसानों की भी जानकारी दी गई है। ऐसे में इसके सेवन के दौरान किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव दिखने पर डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या हर दिन एलोवेरा जूस पीना अच्छा है?

जी हां, प्रतिदिन सीमित मात्रा में एलोवेरा जूस का सेवन किया जा सकता है। जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि नियमित रूप से एलोवेरा जूस का सेवन मेटाबॉलिज्म को उत्तेजित कर वजन को नियंत्रित करने में मददगार हो सकता है (2)।

क्या एलोवेरा पेट की चर्बी कम कर सकता है?

जी हां, एलोवेरा जूस का सेवन पेट की चर्बी को कम करने में मददगार साबित हो सकता है (6)।

और पढ़े:

Was this article helpful?
The following two tabs change content below.

Bhupendra Verma

भूपेंद्र वर्मा ने सेंट थॉमस कॉलेज से बीजेएमसी और एमआईटी एडीटी यूनिवर्सिटी से एमजेएमसी किया है। भूपेंद्र को लेखक के तौर पर फ्रीलांसिंग में काम करते 2 साल हो गए हैं। इनकी लिखी हुई कविताएं, गाने और रैप हर किसी को पसंद आते हैं। यह अपने लेखन और रैप करने के अनोखे स्टाइल की वजह से जाने जाते हैं। इन्होंने कुछ डॉक्यूमेंट्री फिल्म की स्टोरी और डायलॉग्स भी लिखे हैं। इन्हें संगीत सुनना, फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

ताज़े आलेख

scorecardresearch