नवरात्र व्रत में ये खाने-पीने से करें परहेज

Written by Anuj Joshi

वैसे तो मां जग जननी के भक्त रोज अपनी श्रद्धा के अनुसार माता की पूजा और अर्चना करते हैं, लेकिन नवरात्र का पर्व माता की उपासना करने का अच्छा और उत्तम समय माना जाता है। लोगों का मानना है कि पूर्ण श्रद्धा के साथ नवरात्र के नौ दिन विधिवत पूजा के साथ व्रत का पालन करने वालों पर माता की असीम कृपा बरसती है। यही वजह है कि हिंदू धर्म में इन नौ दिन का विशेष महत्व है।

इस बार यह पावन पर्व 17 अक्टूबर से शुरू हो रहा है, जो 25 अक्टूबर तक चलेगा। ऐसे में आपने भी नवरात्र व्रत की तैयारियां जरूर शुरू कर दी होंगी, लेकिन क्या आप इस व्रत से जुड़ी खान-पान संबंधी सभी बातों को अच्छे से जानते हैं? अगर आपका जवाब न में है, तो इस लेख में जानिए कि नवरात्र में क्या खाएं और क्या नहीं।

नवरात्र व्रत में क्या खाएं? 

navratr mein kya khayein kya na khayein

Shutterstock

धार्मिक दृष्टि से तो व्रत काफी अहम माना जाता है, लेकिन वैज्ञानिक नजरिए से भी इसे सेहत के लिए काफी उपयोगी माना गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक व्रत, वजन कम करने के साथ ही बड़े हुए कोलेस्ट्रोल, ब्लड प्रेशर और बिगड़ी इन्सुलिन की अवस्था को ठीक करने में कारगर माना जाता है (1)। तो आइए अब हम नवरात्र में खाने योग्य चीजों के बारे में थोड़ा अच्छे से समझ लेते हैं। 

  1. सब्जी : नवरात्र व्रत में खीरा, गाजर, शक्करकंद के साथ सब्जी के तौर पर आप आलू व टमाटर का सेवन भी कर सकते हैं।
  1. पूरी : कुट्टू, सिंघाड़ा, राजगिरा और साबूदाने का उपयोग करके इन्हें व्रत की पूरी बनाने में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  1. तेल : वैसे तो नवरात्र के व्रत में तेल का इस्तेमाल न करने की सलाह दी जाती है, लेकिन आप चाहें तो देशी घी या बादाम के तेल का उपयोग करके भोजन तैयार कर सकते हैं। इनकी जगह वनस्पति घी भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  1. मसाले : कोई भी खाना बिना मसाले के बेस्वाद लगता है। ऐसे में व्रत के खाने में स्वाद डालने के लिए मसाले के तौर पर सेंधा नमक, जीरा, काली मिर्च, इलायची, लौंग, दालचीनी, अजवाइन, इमली, जायफल और सूखे अनार के बीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  1. फल : फल ऊर्जा और पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इसलिए, व्रत में यह फल अहम भूमिका निभाते हैं। बाजार में उपलब्ध सभी फलों, जैसे – केला, संतरा, सेब व अनार आदि को उपवास के दौरान खाने के लिए प्रयोग किया जा सकता है।

व्रत में खाई जाने वाली चीजों के बारे में जानने के बाद अब हम कुछ बेस्ट नवरात्र व्रत रेसेपी बता रहे हैं। 

बेस्ट नवरात्र डिश 

navratr mein kya khayein kya na khayein

Shutterstock

नवरात्र व्रत में आप अगर एक जैसे खाने से बोर हो गए हैं और खाने में थोड़ा अलग स्वाद लाना चाहते हैं, तो यह नवरात्र डिश आपके बहुत काम आएंगी, जो कुछ इस प्रकार हैं :

  1. साबूदाना खिचड़ी : मूंगफली के दानों के साथ हल्के मसाले में बनाई गई साबूदाना खिचड़ी ऊर्जा से भरपूर होती है और लंबे समय तक भूख का एहसास नहीं होने देती। इसलिए, इसे नवरात्र के व्रत में काफी पसंद किया जाता है।
  1. साबूदाना खीर : अगर व्रत के दौरान आप कुछ मीठा खाना चाहते हैं, तो ऐसे में सूखे मेवे और दूध के साथ तैयार साबूदाने की खीर बेहतर विकल्प बन सकती है। 
  1. व्रत वाले चावल का ढोकला : समा के चावल भी व्रत में उपयोग किए जाते हैं। इन चावलों में खमीर उठाकर साबुत लाल मिर्च, घी व करी पत्ता से तड़का लगाकर व्रत के लिए ढोकला तैयार किया जा सकता है। यह डिश खाने में स्वादिष्ट लगती है।
  1. आलू टमाटर की सब्जी – कुकर में जीरा और सेंधा नमक डालकर आलू-टमाटर की स्वादिष्ट सब्जी बनाई जा सकती है। इसका सेवन कुट्टू के आटे की पूरी के साथ किया जा सकता है।
  1. कुट्टू का दोसा : अगर आप दोसा खाने के शौकीन हैं और नवरात्र के व्रत में इसे मिस कर रहे हैं, तो आप कुट्टू के आटे का दोसा बना सकते हैं। अरबी और कुट्टू के आटे का पेस्ट बनाकर इस दोसे को आलू की फिलिंग के साथ तैयार किया जाता है। यह खाने में लजीज भी लगते हैं और व्रत में खाने योग्य भी होते हैं।
  1. खीरे के पौकोड़े : व्रत में खाने के लिए विकल्प काफी कम होते हैं, ऐसे में स्नैक्स के तौर पर आप स्वाद में बदलाव के लिए खीरे के पकौड़ों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। सिंघाड़े के आटे में खीरे को मिक्स करके यह पौकोड़े आसानी से तैयार किए जा सकते हैं।
  1. सिंघाड़े के आटे का समोसा : सिंघाड़े के आटे में चिरौंजी और आलू की फिलिंग के साथ इन समोसों को बनाकर आप इस नवरात्र इन्हें खाने के लिए उपयोग में ला सकते हैं। 

नवरात्र व्रत में क्या न खाएं?

नवरात्र के उपवास के दौरान नॉनवेज के साथ ही प्याज और लहसुन का भी परहेज किया जाना चाहिए।

  • मसालें में उपयोग किए जाने वाली हींग, मेथी दाना, गरम मसाला और सरसों के तेल का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए।
  • साधारण नमक का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।
  • रिफायंड या सोयाबीन ऑयल का इस्तेमाल नवरात्र उपवास में नहीं करना चाहिए।

नवरात्र व्रत से जुड़े अन्य सुझाव

  • व्रत के दौरान अधिक से अधिक तरल पदार्थ लेने की सलाह दी जाती है, ताकि शरीर में ताजगी बनी रहे। इसके लिए पानी पीने के साथ ही दूध, ताजे फलों का रस और नारियल पानी का उपयोग भी किया जा सकता है।
  • व्रत के दौरान खाई जाने वाली चीजें अक्सर स्वादिष्ट लगती हैं। ऐसे में इन्हें अधिक मात्रा में नहीं लेना चाहिए, क्योंकि इसका पाचन पर बुरा असर पड़ सकता है।
  • बाजार से लाई गई मिठाई की जगह घर की बनी मिठाई को इस्तेमाल करना सेहत और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है।
  • नवरात्र के व्रत में खाने योग्य चिप्स और नमकीन आसानी से मिल जाती है, लेकिन ऐसी सामग्रियों के उपयोग से बचना चाहिए। इन सामग्रियों का उपयोग व्रत के उद्देश्य को समाप्त कर सकता है।
  • इसके साथ ही व्रत में पर्याप्त नींद भी जरूरी है, ताकि शरीर में ऊर्जा बनी रहे और आप माता रानी के नौ दिन के व्रत को ऊर्जा और श्रद्धा के साथ पूरा करने में सफल हो सकें।

नवरात्र एक पावन पर्व है और इस दौरान व्रत रखने से शरीर के साथ-साथ मन भी स्वस्थ होता है। जरूरत है तो बस व्रत के दौरान खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों पर थोड़ा ध्यान देने की। उम्मीद है कि हमारे इस आर्टिकल से आपको नवरात्र व्रत के आहार से जुड़े विकल्प मिल गए होंगे। यहां दिए गए आहार विकल्प न सिर्फ स्वादिष्ट हैं, बल्कि पौष्टिक भी हैं। फिर देर किस बात की व्रत की तैयारियां शुरू कर दें और नौ दिन माता की प्रार्थना में डूब जाएं। साथ ही वर्तमान स्थिति को देखते हुए बाजार जाते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और खुद को सुरक्षित रखें।

The following two tabs change content below.

LATEST ARTICLES