काजल लगाने के फायदे

राइटर:- अंकिता मिश्रा

खूबसूरत आंखें 

आंखों की खूबसूरती बढ़ाता है काजल।

बड़ी आंखें 

सही और गहरे तरीके से काजल लगाने से छोटी आंखें भी आकर्षक और बड़ी लगने लगती है। 

आंखों की सफाई 

ऐसा माना जाता है कि काजल आंखों को धूल-मिट्टी से बचाने के साथ-साथ आंखों की गंदगी भी साफ कर सकता है।

सन प्रोटेक्शन 

आंखों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने के लिए भी काजल का उपयोग किया जा सकता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाए 

माना जाता है कि रात को सोने से पहले काजल लगाने से आंखों की रोशनी तेज हो सकती है।

थकान दूर करे 

घंटों लैपटॉप, फोन व टीवी देखने से आंखें थक जाती हैं। ऐसे में काजल लगाने से कुछ राहत मिल सकती है।

फ्रेश लुक 

काजल लगाने से आंखों में ताजगी का एहसास होने के साथ-साथ मेकअप को भी फ्रेश लुक मिल सकता है।

डार्क सर्कल्स छुपाए 

काजल लगाने के बाद उसे थोड़ा स्मोकी लुक दें, इससे मेकअप आकर्षक लगेगा और डार्क सर्कल भी छिप जाएंगे।

जब काजल खरीदें

घर में बने काजल का उपयोग भी कर सकते हैं।

काजल के पैक पर मैन्युफैक्चरिंग और एक्सपायरी डेट जरूर देखें।

कोशिश करें कि ऑर्गेनिक या हर्बल काजल ही खरीदें।

काजल की गुणवत्ता को ध्यान में रखें।

अच्छे और विश्वसनीय ब्रांड का काजल चुनें।

अगली सुबह उस प्लेट पर लगी कालिख को खुरचकर साफ डिब्बे में स्टोर करें।

ध्यान रहे कि दीये की लौ उस प्लेट को टच करे। 

अब इसे रात भर के लिए छोड़ दें। 

दीये के दोनों तरफ एक-एक कप रखकर उस पर प्लेट रख दें। 

मिट्टी के दीये में सरसों का तेल डालकर बाती जलाएं।

घर में काजल बनाएं

तैयार है होममेड काजल। 

उसे स्मूद करने के लिए थोड़ा घी मिला लें। 

काजल फैलने से रोकें

काजल लगाने के बाद पलकों के नीचे कॉम्पैक्ट पाउडर लगाएं।

बाहरी कॉर्नर से अंदर की तरफ लाइन लगाएं।

अगर काजल वॉटर प्रूफ न हो, तो पहले आंखों के नीचे थोड़ा पाउडर लगाएं।

अगर स्मोकी लुक पाना है, तो स्मजिंग करें।

कोशिश करें कि वॉटर प्रूफ काजल का उपयोग करें। 

सावधानियां

काजल लगाने के बाद जलन या खुजली होने पर तुरंत आंखों को धोएं।

आंखों में संक्रमण है, तो काजल न लगाएं।

चलती गाड़ी में काजल न लगाएं।

कॉन्टैक्ट लेंस पहनने पर स्मजप्रूफ काजल लगाएं।

काजल या लाइनर किसी अन्य के साथ शेयर न करें।

इसी तरह के ब्यूटी टिप्स जानने के लिए जुड़े रहें स्टाइलक्रेज के साथ।