ऑयल पुलिंग ब्यूटी बेनिफिट्स

राइटर: अंकिता मिश्रा

क्या है ऑयल पुलिंग

ऑयल पुलिंग एक प्राचीन आयुर्वेदिक ब्यूटी व हेल्थ उपचार है। इसमें विभिन्न तेलों से गरारे व कुल्ला किया जाता है।

मुंहासों से बचाए

हफ्ते में 2 बार विटामिन-ई से भरपूर तिल के तेल से ऑयल पुलिंग करें। मुंहासों से निजात मिलेगी। 

साफ और चमकदार त्वचा

ऑयल पुलिंग मुंहासे और दाग-धब्बों को कम करके त्वचा को साफ और चमकदार बना सकता है।

नमी लॉक करे

ड्राई स्किन से परेशान हैं, तो नियमित रूप से ऑयल पुलिंग करें। स्किन मॉइस्चराइज होगी और नमी भी लॉक रहेगी। 

बेस्ट माउथवॉश

दांतों की चमक बनाए रखने और कैविटी व मुंह की दुर्गंध दूर करने के लिए तिल या सूरजमुखी के तेल से ऑयल पुलिंग करें।

ये समस्याएं होंगी दूर

ऑयल पुलिंग से ड्राई माउथ, खुरदरी जीभ, मुंह के छाले और फटे होठों की समस्या भी दूर हो सकती है।

बॉडी डिटॉक्स करे

ऑयल पुलिंग से बॉडी डिटॉक्स भी होती है। इससे शरीर के हानिकारक बैक्‍टीरिया व टॉक्सिन बाहर निकलेंगे और  चेहरा ग्लो करेगा।

सही समय

ऑयल पुलिंग रात में सोने से पहले भी कर सकते हैं।

सुबह उठने के बाद ऑयल पुलिंग कर सकते हैं।

कैसे करें 

आप ब्रश करके भी कुल्ला कर सकते हैं।

इसके बाद थूक कर कुल्ला करें।

कम मात्रा में मुंह में तेल रखकर गरारे भी कर सकते हैं।

10-15 मिनट तक इसे मुंह में ही रखें।

खाद्य तेल को मुंह में भरें।

ध्यान रखें

एक महीने बाद तेल बदल सकते हैं।

एक बार में एक ही तेल इस्तेमाल करें।

निगलने से मुंह के टॉक्सिन शरीर में चले जाएंगे।

तेल को निगलना नहीं है।

कब दिखेगा असर

ऑयल पुलिंग शुरू करने के लगभग 1-2 हफ्ते बाद फर्क नजर आ सकता है।

इन तेलों का करें इस्तेमाल

सूरजमुखी तेल

तिल का तेल

जैतून तेल

नारियल तेल

ऐसे ही और ब्यूटी टिप्स के लिए जुड़े रहें स्टाइलक्रेज के साथ।