जानिए क्यों जरूरी है सनस्क्रीन

राइटर: मोना नारंग

टैन से बचाए

सनस्क्रीन सूरज की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से सुरक्षा देकर टैन से बचा सकता है।

एजिंग करे दूर

उम्र से पहले एजिंग के लक्षणों को मात देने के लिए हर रोज सनस्क्रीन लगाएं।

स्किन कैंसर से बचाव

टैनिंग के साथ ही मेलेनोमा कैंसर (स्किन कैंसर) के लिए भी सनस्क्रीन कवच का काम कर सकता है।

त्वचा को हेल्दी बनाए

सनस्क्रीन त्वचा को जरूरी पोषण दे सकता है।

सनबर्न को दे मात

सनबर्न त्वचा को संवेदनशील बनाकर बेजान कर सकता है। इसे मात देने के लिए सनस्क्रीन जरूरी है। 

हेल्दी काॅस्मेटिक

सनस्क्रीन दे सकता है मिनिमल मेकअप लुक।

रंगत निखारे 

चेहरे की रंगत निखारने के लिए टिंटेड सनस्क्रीन का चुनाव करें।

दे मैट फिनिश लुक

चिपचिपी त्वचा से बचे रहने और मैट लुक पाने के लिए भी टिंटेड सनस्क्रीन लगा सकती हैं। 

हर मौसम के लिए परफेक्ट

सिर्फ गर्मियों में ही नहीं, बल्कि, मानसून और सर्दियों में भी जरूर लगाएं सनस्क्रीन।

ऐसे चुनें सनस्क्रीन

तेज धूप के लिए एसपीएफ 30 या उससे ज्यादा की सनस्क्रीन लगाएं।

हल्की धूप के लिए एसपीएफ 15 सनस्क्रीन खरीदें।

हर मौसम के लिए अलग-अलग प्रकार की सनस्क्रीन खरीदें।

हमेशा अपनी स्किन टाइप के अनुसार सनस्क्रीन चुनें।

कब और कितना लगाएं

उतनी ही मात्रा में लगाएं, जितना स्किन सोख सके।

सनबाथ लेने से पहले और बाद में भी सनस्क्रीन लगाएं।

घर से बाहर हैं, तो हर कुछ घंटे में सनस्क्रीन लगाएं।

धूप में जाने से आधा घंटा पहले सनस्क्रीन लगाएं।

इसी तरह के और ब्यूटी टिप्स जानने के लिए जुड़े रहें स्टाइलक्रेज के साथ।