भिदुरकाष्ठ फल के फायदे और नुकसान – Pecan Nuts Benefits and Side Effects in Hindi

Medically Reviewed By Neha Srivastava (Nutritionist), Nutritionist
Written by

भिदुरकाष्ठ फल, सुनने में यह नाम आपको कुछ अजीब और नया लग सकता है, लेकिन आपने कभी न कभी इसे खाया जरूर होगा। भिदुरकाष्ठ ऐसा ड्राई फ्रूट है, जिसका सेवन करने से आप कई शारीरिक समस्याओं से बचे रह सकते हैं। अगर आप इस फल से होने वाले फायदों के बारे में नहीं जानते, तो इस आर्टिकल को एक बार जरूर पढ़ें। इस लेख में हम भिदुरकाष्ठ फल के फायदे और भिदुरकाष्ठ फल के नुकसान के बारे में विस्तार से बताएंगे। इस लेख में हम कुछ ऐसी समस्याओं के बारे में बता रहे हैं, जिनके लक्षणों को कम करने में भिदुरकाष्ठ काफी हद तक मदद कर सकता है।

शुरू करते हैं लेख

आइए, सबसे पहले हम कुछ भिदुरकाष्ठ के बारे में जान लेते हैं।

भिदुरकाष्ठ फल क्‍या है? – What are Pecan Nuts in Hindi

भिदुरकाष्ठ फल को अंग्रेजी में पेकान नट्स (Pecan Nuts) के नाम से जाना जाता है। यह ऐसे पेड़ पर होता है, जो जंगल में एक पिरामिड के आकार की तरह होता है। यह सितंबर और अक्टूबर के बीच सबसे ज्यादा फलता है (1)। इसका वैज्ञानिक नाम कैरया इल्लिनोइनेंसिस (Carya illinoinensis) है। यह दिखने में तो अखरोट जैसा होता है, लेकिन अखरोट से बिल्कुल अलग होता है। यह ऐसी प्रजाति का ड्राई फ्रूट है, जिसका बाहरी आवरण बेहद कठोर होता है। भिदुरकाष्ठ नट्स बाजार में आसानी से उपलब्ध हैं।

पढ़ना जारी रखें

लेख में आगे भिदुरकाष्ठ के लाभ के बारे में जानते हैं।

भिदुरकाष्ठ फल के फायदे – Benefits of Pecan Nuts in Hindi

भिदुरकाष्ठ फल के सेवन से निम्नलिखित फायदे हो सकते हैं। वहीं, इस बात का ध्यान रखें कि यह किसी भी बीमारी का इलाज नहीं हैं, इसका सेवन कुछ हद तक शारीरिक समस्या के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकता है। अब पढ़ें आगे :

1. हृदय स्वास्थ्य के लिए

हृदय को स्वस्थ बनाए रखने के लिए पेकान नट्स का सेवन फायदेमंद हो सकता है। विषय से जुड़े एक शोध में साफ तौर से जिक्र मिलता है कि पेकान नट्स का सेवन हृदय संबंधित रोगों से बचाव में मदद कर सकता है। दरअसल, इसका सेवन मोटापे को नियंत्रित और रक्त में वसा से स्तर में सुधार का काम कर सकता है, जिससे हृदय को स्वस्थ रखने में मदद मिल सकती है। इस आधार पर पेकान नट्स को हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जा सकता है (2)।

2. पाचन के लिए

पाचन प्रक्रिया को ठीक रखकर स्वस्थ बने रहने में मदद मिल सकती है और ऐसा पेकान नट्स के सेवन से भी हो सकता है। दरअसल, पेकान नट्स में फाइबर की मात्रा पाई जाती है। फाइबर का सेवन पेट के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हो सकता है, जिससे पाचन की क्रिया को भी मदद मिल सकती है (3)। इसके अतिरिक्त पेकान नट्स में मौजूद फाइबर का सेवन कब्ज की समस्या को भी खत्म करने में मदद कर सकता है (4)।

3. वजन नियंत्रित करने के लिए

बढ़े हुए वजन को कम करने के लिए भी पेकान नट्स के फायदे देखे जा सकते हैं। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की ओर से प्रकाशिक एक रिपोर्ट के अनुसार, वजन घटाने के लिए आमतौर पर कम वसा वाले आहारों के साथ-साथ नट्स और लो फैट डाइट का सेवन करने से लाभ मिल सकता है (5)। ध्यान रहे कि वजन कम करने के लिए पेकान नट्स के साथ-साथ नियमित रूप से व्यायाम और संतुलित भोजन का सेवन करना भी जरूरी है।

4. एंटी-इन्फ्लेमेटरी के रूप में

सूजन संबंधी समस्याओं से बचे रहने के लिए पेकान नट्स का सेवन किया जा सकता है। पेकान नट्स में एंटी-इन्फ्लेमेटरी व एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं। एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के कारण आहार में अन्य नट्स के साथ पेकान नट्स को भी शामिल कर सकते हैं। यह शरीर की सूजन को कम करने में मदद कर सकता है (6)।

5. कैंसर के खतरे से बचाए

कैंसर से बचने के लिए भिदुरकाष्ठ का सेवन किया जा सकता है। पेकान नट्स में गामा टोकोफेरॉल (gamma-tocopherol – विटामिन-ई का एक रूप) पाया जाता है। यह कोलन कैंसर यानी पेट का कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर से सुरक्षित रखने में मदद कर सकता है (7)। इसके अलावा, पेकान नट्स में एंटी-ट्यूमर गुण पाया जाता है (8)। यह गुण कैंसर के जोखिम को कम करने और कैंसर सेल्स को पनपने से रोकने में मदद कर सकता है (9)। वहीं, अगर किसी को कैंसर है, तो उसे तुरंत अपना मेडिकल ट्रीटमेंट करना चाहिए। इस अवस्था में इलाज से बेहतर और कोई विकल्प नहीं है।

नोट : कैंसर का इलाज केवल मेडिकल ट्रीटमेंट के जरिए ही संभव है, घरेलू उपचार इसके इलाज में और इसके जोखिम को कम करने में कुछ हद तक मदद कर सकते हैं।

6. ब्लड प्रेशर को कम करने में

बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर हृदय के लिए हानिकारक हो सकता है। इस स्थिति से बचने के लिए भिदुरकाष्ठ फल का सेवन फायदेमंद हो सकता है। ऐसा इसलिए मुमकिन हो सकता है, क्योंकि भिदुरकाष्ठ फल में मैग्नीशियम की मात्रा पाई जाती है (10)। वहीं, एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार मैग्नीशियम का सेवन बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद कर सकता है। ब्लड प्रेशर की स्थिति जब ज्यादा गंभीर हो जाए, तो डॉक्टर से अवश्य सलाह लें (12)।

नोट – आपको हम एक बार फिर से अवगत कराना चाहेंगे कि कैंसर का इलाज केवल मेडिकल ट्रीटमेंट के जरिए ही संभव है, घरेलू उपचार इसके इलाज में और इसके जोखिम को कम करने में केवल आपकी केवल मदद कर सकते हैं।

7. इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए

मजबूत रोग-प्रतिरोधक क्षमता कई बीमारियों से बचाए रखने में मदद कर सकती है। इसके लिए भिदुरकाष्ठ फल के फायदे का इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, भिदुरकाष्ठ फल में प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है, जिसका सेवन एक मजबूत इम्यून सिस्टम प्रदान कर सकता है (10) (12)। इसके लिए भिदुरकाष्ठ फल का सेवन दूध के साथ कर सकते हैं।

8. आंखों के स्वास्थ्य के लिए

आंखों के स्वास्थ्य के लिए भी पेकान नट्स के फायदे देखे जा सकते हैं। ऐसा इसलिए कहा जा सकता है, क्योंकि पेकान नट्स में विटामिन-ए की प्रचुर मात्रा पाई जाती है (10)। एक डॉक्टरी अध्ययन के अनुसार विटामिन-ए का सेवन देखने की क्षमता में लाभदायक सुधार कर सकता है (14)। आंखों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए रोज सुबह पेकान को नाश्ते के साथ खाया जा सकता है।

9. बालों के लिए

बालों के उत्तम विकास और अच्छी देखभाल के लिए भी पेकान नट्स का सेवन फायदेमंद हो सकता है। अक्सर कई लोगों को बालों के झड़ने की समस्या होती है। यह आयरन की कमी के कारण होता है। आयरन की कमी बाल झड़ने के साथ-साथ अन्य स्वास्थ्य समस्याओं का कारण भी बन जाती है (14)। वहीं, पेकान नट्स को आयरन का अच्छा स्रोत माना गया है, जो बालों को झड़ने से रोकने में मदद कर सकता है (10)।

अभी बाकी है जानकारी

आइए, अब लेख के अगले भाग में भिदुरकाष्ठ फल के पौष्टिक तत्वों के बारे में जानते हैं।

भिदुरकाष्ठ फल के पौष्टिक तत्व – Tiger Nut Nutritional Value in Hindi

भिदुरकाष्ठ फल में मौजूद पौष्टिक तत्वों को नीचे तालिका के माध्यम से दर्शाया जा रहा है (10)

पौष्टिक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
जल3.52g
ऊर्जा691kcal
प्रोटीन9.17g
टोटल लिपिड71.97g
ऐश (Ash)1.49g
कार्बोहाइड्रेट13.86g
फाइबर, कुल डाइटरी9.6g
शुगर टोटल3.97g
मिनरल्स
कैल्शियम70mg
आयरन2.53mg
मैग्नीशियम121mg
फास्फोरस277mg
पोटैशियम410mg
 जिंक4.53mg
कॉपर1.2mg
मैग्नीशियम4.5mg
सेलेनियम3.8μg
फ्लोराइड10μg
विटामिन्स
 विटामिन सी, कुल एस्कॉर्बिक एसिड1.1mg
थायमिन0.66mg
राइबोफ्लेविन0.13mg
नियासिन1.167mg
पैंटोथेनिक एसिड0.863mg
विटामिन बी-60.21mg
फोलेट (कुल,डीएफई,फूड,)22μg
विटामिन ए, आईयू56IU
लिपिड
फैटी एसिड टोटल, सैचुरेटेड6.18g
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड40.801g
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड21.614g

आगे पढ़ें

 आइए, अब लेख के अगले भाग में जानते हैं कि भिदुरकाष्ठ का उपयोग कैसे किया जा सकता है।

भिदुरकाष्ठ फल का उपयोग – How to Use Pecan Nuts in Hindi

भिदुरकाष्ठ का इस्तेमाल कई तरीके से किया से किया जा सकता है। नीचे हम आपको कुछ खास तरीकों के बारे में बता रहे हैं, जो इस प्रकार हैं।

  • अन्य ड्राई फ्रूट्स की तरह इसका ऐसे ही सेवन कर सकते हैं।
  • स्नैक्स के रूप में भी इसका सेवन किया जा सकता है।
  • ओटमील के साथ भी इसको खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसे बनाना शेक या फिर किसी अन्य शेक में पीसकर सेवन कर सकते हैं।
  • दूध के साथ पेकान नट्स को उबालकर सेवन किया जा सकता है।

कब खाएं : पेकान नट्स को आप दिनभर में किसी भी समय खा सकते हैं।

कितना खाएं : करीब 15 पेकान नट्स को एक दिन में खाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है (15)। फिर भी आप इसे खाने से पहले आहार विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। इसके साथ ही, पेकान नट्स उच्च कैलोरी नट्स है इसलिए इसके सेवन के साथ-साथ शारीरिक गतिविधि पर भी ध्यान देना आवश्यक है।

पढ़ते रहें

नुकसान भी जानें

पेकान नट्स के फायदे और उपयोग जानने के बाद लेख के अगले भाग में जानते हैं कि इसके सेवन से क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

भिदुरकाष्ठ फल के नुकसान – Side Effects of Pecan Nuts in Hindi

पेकान नट्स आपके लिए इस प्रकार नुकसानदायक हो सकते हैं।

  • इसमें विटामिन-ए की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। अगर गर्भवती महिला इसका अधिक सेवन करे, तो होने वाले शिशु में जन्म दोष का खतरा बढ़ सकता है (10), (14)।
  • भिदुरकाष्ठ फल में फास्फोरस की अधिक मात्रा पाई जाती है, जिसका अधिक मात्रा में ( एक दिन में 1000 mg से ज्यादा) किया गया सेवन हृदय रोग, किडनी, और हड्डियों पर प्रतिकूल प्रभाव डालने के साथ-साथ मृत्यु का खतरा भी बढ़ा सकता है (10), (16) ।
  • भिदुरकाष्ठ फल में पोटैशियम की अधिक मात्रा पाई जाती है, जिसका अधिक सेवन आपकी हृदय की कार्यप्रणाली को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है (10), (17)
  • अन्य ड्राई फ्रूट्स की तरह भिदुरकाष्ठ फल की तासीर भी गर्म होती है। इसलिए, अगर इसका सेवन अधिक मात्रा में किया जाए, तो पेट व सीने में जलन जैसी समस्या हो सकती है।

इस लेख में आपने भिदुरकाष्ठ के सेवन से होने वाले फायदों और नुकसान के बारे में पढ़ा। इसके अलावा, लेख में यह भी बताया गया कि यह किस प्रकार कई स्वास्थ्य समस्याओं के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। इसलिए, डॉक्टर की सलाह पर एक बार भिदुरकाष्ठ ड्राई फ्रूट का सेवन जरूर करें। साथ ही सेवन से पहले ध्यान रखें कि इसे अधिक मात्रा में खाने से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। वहीं, इसके सेवन के बाद अगर कुछ दुष्प्रभाव नजर आते हैं, तो चिकित्सक से संपर्क जरूर करें। उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगा। 

Sources

Articles on StyleCraze are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Pecan
    https://nature.mdc.mo.gov/discover-nature/field-guide/pecan
  2. Pecan nuts: A review of reported bioactivities and health effects
    https://www.researchgate.net/publication/320897059_Pecan_nuts_A_review_of_reported_bioactivities_and_health_effects
  3. Dietary Fiber
    https://medlineplus.gov/dietaryfiber.html
  4. Eating, Diet, & Nutrition for Constipation
    https://www.niddk.nih.gov/health-information/digestive-diseases/constipation/eating-diet-nutrition
  5. Health Benefits of Nut Consumption
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3257681/#B140-nutrients-02-00652
  6. A Pecan-Rich Diet Improves Cardiometabolic Risk Factors in Overweight and Obese Adults: A Randomized Controlled Trial
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5872757/
  7. NUTS AND SEEDS AS SOURCES OF ALPHA AND GAMMA TOCOPHEROLS
    https://www.ars.usda.gov/ARSUserFiles/80400525/Articles/AICR06_NutSeed.pdf
  8. Aqueous extract from Pecan nut [ Carya illinoinensis (Wangenh) C. Koch] shell show activity against breast cancer cell line MCF-7 and Ehrlich ascites tumor in Balb-C mice
    https://www.researchgate.net/publication/319089188_Aqueous_extract_from_Pecan_nut_Carya_illinoinensis_Wangenh_C_Koch_shell_show_activity_against_breast_cancer_cell_line_MCF-7_and_Ehrlich_ascites_tumor_in_Balb-C_mice
  9. Anticancer Activity of Natural Compounds from Plant and Marine Environment
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6275022/
  10. Nuts, pecans
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/170182/nutrients
  11. Magnesium
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/Magnesium-HealthProfessional/
  12. Diet and Nutrition and HIV: Entire Lesson
    https://www.hiv.va.gov/patient/daily/diet/single-page.asp
  13. Vitamin A
    https://medlineplus.gov/ency/article/002400.htm
  14. Diet and hair loss: effects of nutrient deficiency and supplement use
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5315033/
  15. Nuts and seeds
    https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/Nuts-and-seeds
  16. Phosphorus
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/Phosphorus-HealthProfessional/
  17. Potassium
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/Potassium-HealthProfessional/
Was this article helpful?
The following two tabs change content below.
सोमेंद्र ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से 2019 में बी.वोक इन मीडिया स्टडीज की है। पढ़ाई के दौरान ही इन्होंने पढ़ाई से अतिरिक्त समय बचाकर काम करना शुरू कर दिया था। इस दौरान सोमेंद्र ने 5 वेबसाइट पर समाचार लेखन से लेकर इन्हें पब्लिश करने का काम भी किया। यह मुख्य रूप से राजनीति, मनोरंजन और लाइफस्टइल पर लिखना पसंद करते हैं। सोमेंद्र को फोटोग्राफी का भी शौक है और इन्होंने इस क्षेत्र में कई पुरस्कार भी जीते हैं। सोमेंद्र को वीडियो एडिटिंग की भी अच्छी जानकारी है। इन्हें एक्शन और डिटेक्टिव टाइप की फिल्में देखना और घूमना पसंद है।

ताज़े आलेख